Assembly Banner 2021

मुस्तैदी के चलते नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने टाला लम्बा जाम, फिर ट्वीट कर कहा अब आप जा सकते हैं

नोएडा सेक्टर 18 के अंडरपास में कार खराब हो गई थी. जिसे वक्त रहते रोड से हटा दिया गया.

नोएडा सेक्टर 18 के अंडरपास में कार खराब हो गई थी. जिसे वक्त रहते रोड से हटा दिया गया.

बीच सड़क पर क्रेन के आने से और अड़चन पैदा हो सकती थी. इसलिए पुलिस (Police) ने खुद ही धक्का मारकर कार (Car) को किनारे से कर दिया.

  • Share this:
नोएडा. सुबह जब लोगों के ऑफिस (Office) और फैक्ट्री जाने का वक्त होता है, उसी वक्त नोएडा (Noida) में सेक्टर-18 के अंडरपास में एक कार खराब हो गई. अंडरपास में कार खराब होने का मतलब है लम्बा ट्रैफिक जाम (Traffic Jam). ऐसा जाम की जिसका असर दूसरी सड़कों पर भी दिखाई देने लगता है. लेकिन जैसे ही यह खबर नोएडा ट्रैफिक पुलिस (Noida Traffic Police) के कंट्रोल रूम में पहुंची तो पहले से अलर्ट होने के चलते वक्त रहते ही खराब कार को रास्ते से हटा दिया गया. खास बात यह है कि कार को हटाने के लिए क्रेन का इंतजार भी नहीं किया गया.

एक-एक सड़क का वीडियो जारी कर कहा, अब आप जा सकते हैं

सुबह के वक्त सड़क पर ट्रैफिक ज्यादा होता है. बीच सड़क पर कार खराब होने और ट्रैफिक जाम की खबर से लोग परेशान न हो जाएं. ऑफिस और फैक्ट्री जाने वालों को किसी भी तरह की कोई परेशानी न हो, इसके लिए नोएडा ट्रैफिक पुलिस वक्त रहते ही अलर्ट हो गई.



Youtube Video

पुलिस ने नोएडा की मुख्य सड़कों, डीएनडी, सेक्टर-62 का गोल चक्कर, चिल्ला बॉर्डर, परी चौक समेत तमाम सड़कों के वीडियो ट्वीटर पर शेयर कर यह बताना शुरु कर दिया कि हर जगह ट्रैफिक सामान्य है. आप आराम से जा सकते हैं. कहीं भी ट्रैफिक जाम जैसी कोई परेशानी नहीं है. इस मौके पर नोएडा ट्रैफिक पुलिस के डीसीपी गणेश साहा भी मौजूद रहे.

अब आप घर बैठे नहीं कर सकेंगे गलत ट्रैफिक चालान की ऑनलाइन शिकायत, जानिए क्यों

बंद हो गया ई-चालान की ऑनलाइन शिकायत वाला पोर्टल

आपके मोबाइल पर आपके वाहन का ई-चालान आता था. घर पर चालान की कॉपी आती थी, लेकिन कभी-कभी चालान में दिखाया गया वाहन आपका नहीं होता था. यहां तक की जिस शहर में चालान होना बताया जाता था वहां आप गए नहीं होते थे.

लेकिन एक बड़ा फायदा यह था कि आप घर बैठे इस तरह के गलत ई-चालान की ऑनलाइन शिकायत ई-चालान कंप्लेंट मैनेजमेंट सिस्टम (ईसीएमएस) कर देते थे. 72 घंटे में ऐसी शिकायतों को दूर करने का दावा भी किया जाता था. लेकिन अब नोएडा में यह ऑनलाइन सुविधा बंद कर दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज