नोएडा: अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं करने पर तीन एजेंसियों को नोटिस जारी, मांगा जवाब

नोएडा में ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति नहीं करने पर कंपनियों से जवाब मांगा गया है.  (File pic)

नोएडा में ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति नहीं करने पर कंपनियों से जवाब मांगा गया है. (File pic)

गौतम बुद्ध नगर जिले में कोरोना महामारी (Corona epidemic) के दौरान अस्पतालों (Hospital) को समय पर ऑक्सीजन (Oxygen) उपलब्ध नहीं कराने पर तीन ऑक्सीजन कंपनियों को नोटिस जारी किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 28, 2021, 10:31 PM IST
  • Share this:
नोएडा. गौतम बुद्ध नगर जिला प्रशासन ने कोरोना महामारी (Corona epidemic) के समय नोएडा के अस्पतालों में ऑक्सीजन (Oxygen) आपूर्ति नहीं करने वाली तीन एजेंसियों को नोटिस भेजा है. जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने इसके बारे में जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि यहां के विभिन्न अस्पतालों (Hospitals) ने गौतम बुद्ध नगर के जिलाधिकारी से शिकायत की थी कि महामारी के इस दौर में अस्पतालों में ऑक्सीजन आपूर्ति करने वाली एजेंसियां उन्हें ऑक्सीजन नहीं दे रही हैं. उन्होंने बताया कि ऑक्सीजन की आपूर्ति को सामान्य बनाने के लिए जिला प्रशासन लगातार प्रयासरत है.

जिले के एकमात्र ऑक्सीजन संयंत्र से विभिन्न अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है. वहीं, कुछ एजेंसियां अन्य जिलों व राज्यों से भी ऑक्सीजन लाकर अस्पतालों को आपूर्ति करती हैं. चौहान ने बताया कि मित्तल, पूजा और संजीवनी एजेंसी के खिलाफ शिकायत मिली है. इनका कई अस्पतालों के साथ ऑक्सीजन आपूर्ति करने का करार है.

Youtube Video


दिल्ली में अब LG ही सरकार- कोरोना से बिगड़ते हालात के बीच केंद्र ने लागू किया नया कानून
उन्होंने बताया कि तीनों एजेंसियां जिले के साथ गाजियाबाद की भी कुछ अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति करती हैं. तीनों एजेंसियों को नोटिस भेजकर तत्काल आपूर्ति को सामान्य करने का आदेश दिया गया है. ऐसा नहीं करने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दावा किया था कि यूपी में ऑक्सीजन की कोई कमी नही है. इसके बाद भी ऑक्सीजन की कमी से लोगों के मरने का सिलसिला जारी है. इस पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी सरकार को फटकार लगाते हुए कहा था क‍ि 'सरकार माई वे या नो वे' (मेरा रास्ता या कोई रास्ता नहीं) छोड़े और लोगों के सुझावों पर भी अमल करें. कोर्ट ने कहा था कि लोग अस्पतालों में मर रहे हैं और आप ऑक्सीजन तक उपलब्ध नहीं करवा पा रहे हैं यह बहुत ही शर्मनाक बात है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज