International Women Day: दिल्ली एयरपोर्ट पर शुरू हुई All-Women कैब सर्विस
Delhi-Ncr News in Hindi

International Women Day: दिल्ली एयरपोर्ट पर शुरू हुई All-Women कैब सर्विस
दिल्ली एयरपोर्ट पर शुरू हुई All-Women कैब सर्विस

दिल्ली के अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Indira Gandhi International Aorport) ) पर अब रात या दोपहर कभी भी हवाई जहाज से अपने गंतव्य तक जाने के लिए किसी तरह का भय या संकोच का सामना नहीं करना पड़ेगा. सखा कैब महिला यात्रियों को महिला कैब ड्राइवर (Women Cab Driver) के साथ यात्रा करने की सुविधा मुहैया करा रहा है.

  • Share this:
दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी में महिलाओं (Women) को सुरक्षित महसूस कराने के लिए हाल ही में इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से एक निजी ऑल-महिला (All-Women) कैब सेवा शुरू की गई है. 'व्हील्स विद व्हील्स' नाम की इस सेवा का लाभ दिल्ली के किसी भी हिस्से में लिया जा सकता है. यह सेवा हवाई अड्डे पर पिलर नंबर 16 के पास एक कियोस्क से संचालित हो रही है.  दिल्ली अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट लिमिटेड (Delhi International Airport Limited) ने अपने पार्टनर 'सखा' के साथ कैब सेवा की शुरूआत की है. सखा कैब सर्विस का उद्देश्य महिला कैब ड्राइवर द्वारा महिला यात्रियों और उनके परिवार को सुरक्षित और चिंतामुक्त यातायात सुविधा मुहैया कराना है.

पुरुषों को मिलेगी इस शर्त पर अनुमति


कंपनी सखा कंसल्टिंग विंग्स के सीईओ अरविंद वडेरा ने कहा, 'कैब विशेष रूप से महिला यात्रियों के लिए चलाई जाती हैं और आजाद फाउंडेशन नामक एक गैर सरकारी संगठन से बुलाई गई महिला ड्राइवरों द्वारा संचालित की जा रही हैं'. यब कैब सुविधा सिर्फ महिलाओं के लिए है. पुरुषों को तभी अनुमति दी जाती है, जब वे किसी महिला या महिला के साथ हों.



महिलाओं को रोजगार देना है मकसद




आजाद फाउंडेशन आर्थिक रूप से कमजोर पृष्ठभूमि की महिलाओं को अन्य चीजों के बीच पेशेवर ड्राइवर बनने के लिए प्रशिक्षित करता है. महिला ड्राइवरों में से एक ने कहा 'अब मैं अपने पैरों पर खड़ा हूं. मुझे लगता है कि मैं कुछ भी कर सकता हूं. मैं अब अपना जीवन स्वतंत्र रूप से जी रही हूं'. अब तक, कंपनी के पास कुल 20 कारें हैं, वडेरा ने कहा, वे इस सेवा के विस्तार करने की प्रक्रिया में हैं.

महिला दिवस से पहले तोहफा
कंपनी के सीईओ ने कहा कि यह विचार उन महिलाओं को देखकर आया है जो सिटी कैब में यात्रा करते समय असहज महसूस करती हैं. 'आम तौर पर, महिलाएं जो देर से हवाई अड्डे पर उतरती हैं, टैक्सी किराए पर लेते समय असहज महसूस करती हैं. हमने उन्हें सुरक्षित महसूस कराने के लिए महिलाओं द्वारा संचालित टैक्सी उपलब्ध कराने का फैसला किया.'

सुरक्षा का भी रखा ध्यान
ड्राइवरों और यात्रियों दोनों के लिए उठाए गए सुरक्षा उपायों के बारे में वडेरा ने कहा, 'कैब में जीपीएस और एक पैनिक बटन लगा है. तो, अगर ड्राइवर या कम्यूटर को जरूरत महसूस होती है, तो वे मदद के लिए बुला सकते हैं. हमारा 24Response नामक कंपनी के साथ टाई-अप है जो 30 मिनट के भीतर मदद भेजेगा'.

सखा कंसल्टिंग विंग इंदौर, जयपुर और कोलकाता में भी सभी महिलाओं को कैब सेवा प्रदान करती है. वडेरा कहते हैं, 'हमारे कैब की दरें दूसरे शहर के कैब की दरों के बराबर हैं'.

जीएमआरवीएफ ने अब तक 900 महिलाओं को दी ट्रेनिंग

जीएमआर वेरालक्ष्मी फाउंडेशन (GMRVF) ने सीएसआर के तहत महिलाओं को आर्थिक रूप से क्षमतावान बनाने के लिए कई तरह के स्किल डवलपमेंट और ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाए. इसके तहत 18-30 वर्ष तक की महिलाओं को वोल्टास, वोल्वो, रिलैक्सो, मारू​ती ड्राइविंग स्कूल और लाइट बाइट फूड्स में वोकेशनल ट्रेनिंग की सुविधााएं दी जा रही हैं. यहां महिलाओं को असिस्टेंट ब्यूटी थैरेपिस्ट,स्मार्ट मशीन आॅपरेटर, मल्टी कुजिन कुक, कस्टमर सर्विस एसोसिएट, कम्प्यूटर का बेसिक नॉलेज आदि कामों की ट्रेनिंग दी जा रही है. इन संस्थाओं में करीब 900 महिलाओं को ट्रेनिंग दी जा चुकी है और करीब 800 महिलाओं को रिटेल, डाटा एंट्री, कार्गो आॅफिस, गार्मेंट एक्सपोर्ट, ब्यूटी एंड वेलनेस और फूड प्रोडक्शन जैसे संगठित क्षेत्रों में नौकरियां भी मिल चुकी हैं.

ट्रेनिंग देने का काम करीब 40 महिलाएं ही संभाल रही हैं

दिल्ली में महिलाओं को ट्रेनिंग देने का काम करीब 40 महिलाएं ही संभाल रही हैं. अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सौ से ज्यादा स्किल्ड महिलाओं को दिल्ली में सिलाई मशीन उपहार के बतौर दिया गया है. जीएमआरवीएफ आर्थिक रूप से हाशिये पर रह रहे परिवार की 100 लड़कियों को प्रोफेशनल और रेग्युलर पाठ्यक्रमों के लिए मसलन बीबीए, बीएससी, नर्सिंग और आर्किटेक्टचर आदि की पढ़ाई के लिए स्कॉलरशिप दी जा रही है. आईजीआई एयरपोर्ट के आसपास के करीब 15 स्कूलों में जीएमआरवीएफ की ओर सैनिटरी नैपकिन्स की वेंडिंग मशीनें लगाई जा चुकी हैं.

 

ये भी पढ़ें: 

दिल्‍ली हिंसा: ताहिर हुसैन ने कोर्ट में लगाई अग्रिम जमानत की अर्जी, आज सुनवाई

अमर सिंह ने मरने की अफवाह को किया खारिज, वीडियो शेयर कर कहा- टाइगर जिंदा है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading