सर्वे: महीने में 7 दिन बाहर खाना खा रहे भारतीय, 86% पत्नियां करती हैं खाना ऑर्डर

Demo Pic

Demo Pic

बदलते भारत के साथ लोगों के आर्थिक हालात भी बदलने लगे हैं. आजकल की भागदौड़ वाली जिंदगी में लोगों के पास घर में खाना बनाने का समय नहीं है.

  • Share this:

बदलते भारत के साथ लोगों के आर्थिक हालात भी बदलने लगे हैं. आजकल की भागदौड़ वाली जिंदगी में लोगों के पास घर में खाना बनाने का समय नहीं है. यही वजह है कि लोग या तो महीने में सात दिन बाहर खाना खाने जाते हैं, या घर बैठे मोबाइल पर अपनी पसंद का खाना ऑर्डर करके आ रहे हैं. खर्च करने लायक पैसा होने की वजह से ग्राहक महीने में औसतन 2500 रुपए बाहर के खाने पर खर्च करते हैं. इसके लिए वे महीने में 7 बार रेस्तरां या कैफे जाते हैं.

यह सच्चाई नेशनल रेस्टोरेंट एसोसिएशन ऑफ इंडिया के 24 शहरों में किए गए सर्वे से सामने आई है. सर्वे में भारतीयों के खानपान का बदला हुआ अंदाज सामने आया है. सर्वे के मुताबिक, तीन फीसदी भारतीय रोज बाहर का खाना खाते हैं, जबकि 44 प्रतिशत महीने में दो से तीन बार बाहर जाते हैं. वहीं 27 फीसदी ऐसे लोग भी हैं, जो हर सप्ताह बाहर का खाना खाते हैं. इस मामले में 37 फीसदी महिलाएं और 63 प्रतिशत पुरुष होते हैं.

लोग अब बाहर के बजाय घर में खाना पसंद कर रहे

मार्केट में जब से स्विगी और जोमेटो जैसी फूट डिलीवरी करने वाली कंपनियों ने दस्तक दी है, तभी से बाहर का खाना खाने के लिए अब घर से बाहर जाने की भी जरूरत खत्म हो गई है. फूड डिलेवरी करने वाली कंपनी जोमेटो का दावा है कि उसे हर महीने 2 करोड़ दस लाख ऑर्डर मिलते हैं. वहीं स्विगी का कहना है कि उसे हर महीने 2 करोड़ ऑर्डर मिल रहे हैं. हर ऑर्डर औसतन 300 रुपए का होता है.
90 फीसदी लोग कैश में करते हैं बाहर खाने का भुगतान



सर्वे में एक बात और सामने आई है कि 90 फीसदी लोग बाहर खाने का भुगतान कैश में करते हैं, जबकि 10 प्रतिशत मील वाउचर, क्रेडिट या डेबिट कार्ड, मोबाइल वॉलेट से पेमेंट करते हैं. 75 फीसदी ऐसे लोग हैं जो बाहर खाने खुद जाना पसंद करते हैं, जबकि 11 प्रतिशत फूड डिलीवरी का ऑर्डर करते हैं. वहीं 14 प्रतिशत लोग खाना साथ ले जाते हैं. सर्वे में 130 रेस्टारेंट के सीईओ और 3500 ग्राहकों से बात की गई थी.

बच्चे साथ हों तो ऑर्डर करने में 78% उन्हीं की चलती है

सर्वे में बाहर खाना खाने वालों में यह भी देखा गया कि ऑर्डर कौन करता है. पति-पत्नी साथ जाएं तो 86 फीसदी मामलों में खाने का ऑर्डर पत्नी ही करती हैं. परिवार साथ हो तो 78% बच्चों की चलती है. दोस्त खाने जाएं तो बिल देने वालों की चलती है. दिन के हिसाब से भी बाहर के खाने का मूड बदलता है. सोमवार को 9 प्रतिशत लोग बाहर खाते हैं तो रविवार को 42 फीसदी.

ये भी पढ़ें-

सांड वाले बयान पर सीएम योगी का पलटवार, अखिलेश को बताया कसाइयों का मददगार

वोटिंग के दिन चर्चा में आई पीली साड़ी वाली अधिकारी, अब मीडिया के सामने आकर कही ये बात

कुमार विश्वास का केजरीवाल पर तंज, 'शिशुपाल' के 'पूर्ण राजनैतिक वध' में अब दो सौ दिन और

लोकसभा चुनाव: अबतक यूपी में 200 करोड़ की नकदी, ड्रग्‍स, सोना-चांदी बरामद

मिर्जापुर में बोले अखिलेश यादव- मुख्यमंत्री योगी से मिलने आया था 'वो' सांड

पत्‍नी के बाद पति ने तोड़ा दम, एक ही चिता पर अंतिम संस्कार

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज