Corona Update: गौतमबुद्ध नगर में कंटेनमेंट जोन की संख्या पहुंची 1630, गौर सिटी सील

गौतम बुद्ध नगर में लगातार कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़ती ही जा रही है.

गौतम बुद्ध नगर में लगातार कंटेनमेंट जोन की संख्या बढ़ती ही जा रही है.

Covid-19 Update: लोगों की मदद के लिए 24 घंटे काम करने वाला हेल्पलाइन (Helpline) नंबर चालू कर दिया गया है. कोविड अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ा दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 20, 2021, 11:57 AM IST
  • Share this:
नोएडा. गौतमबुद्ध नगर (Gautam Budh Nagar) में बढ़ती कंटेनमेंट जोन की संख्या इस बात का इशारा है कि कोरोना के केस लगातार बढ़ रहे हैं. जिस गौर सिटी से सबसे ज्यादा केस आ रहे थे उसे सील कर दिया गया है. अकेले गौर सिटी (Gaur City) में ही 100 से ज्यादा कंटेनमेंट जोन (Containment zone) बनाए गए हैं. जिले में लगातार कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा रही है. शहर और गांवों में सैनिटाइजेशन किया जा रहा है.

गौरतलब रहे गौतमबुद्ध नगर में कोरोना का सबसे ज्यादा कहर ग्रेटर नोएडा में देखने को मिल रहा है. गौर सिटी वन और टू में सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं. अरिहंत आर्डन और एनटीपीसी दादरी में भी लोग कोरोना की चपेट में आ चुके हैं. ग्रेटर नोएडा वेस्ट की महागुन माइवुड्स हाउसिंग सोसाइटी में भी कोरोना फैल रहा है. नोएडा शहर में सुपरटेक केपटाउन हाउसिंग सोसाइटी, सेक्टर-62 और सेक्टर-121 की हालत भी ठीक नहीं है. सेक्टर-62 की अलग-अलग सोसाइटी में 36 कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं. सेक्टर-121 की सोसाइटीज में इस वक्त 32 लोग पॉजिटिव हैं. इनमें से 26 लोग अजनारा होम्स सोसाइटी के हैं.

सोमवार को इन इलाकों में की गई कांटेक्ट ट्रेसिंग

नोएडा एवं बिसरख क्षेत्र में सेक्टर-44, 45, 27, निठारी, कुलेसरा, लखनावली, सूरजपुर, साकीपुर, तिलपता, सलारपुर, बरोला, गिरधपुर, दुजाना, छपरोला, सदरपुर, गेझा, भंगेल, सरफाबाद, जलपुरा, हल्दोनी और दनकौर. ग्रेटर नोएडा इलाके में पूर्वांचल रायल, कासना, यूनिटेक, अल्फा-1, बीटा-2, वृन्दा, AWHO सोसायटी, दादरी क्षेत्र में फूलपुर, चिटहरा, कुडीखेडा, एनटीपीसी, तुलसी विहार, जारचा, गंगा विहार, बालाजी एन्क्लेव, शिव वाटिका कॉलोनी जेवर क्षेत्र में भईपुर, किशोरपुर, दयानतपुर, वेजमाबाद, डूढेरा, वनीसराय, जेवर, सिवारा, जोनचापना, मंगरोली, नीमका, खाजपुर में सर्वे टीम के द्वारा स्थल निरीक्षण करते हुए कांटेक्ट ट्रेसिंग संबंधित नागरिकों के स्वास्थ्य की जांच की गई.


367 जगहों पर किया जा रहा सैनिटाइजेशन

स्वास्थ्य विभाग, प्राधिकरण, नगर पालिका और जिला पंचायत विभाग की ओर से जिले में बड़े स्तर पर 367 स्थानों पर सैनिटाइजेशन किया गया. वहीं, लोगों में डर न फैले और परेशान न हों इसके लिए एक पटल पर कोरोना से संबंधित सभी समस्याओं का निराकरण संभव हो सके इसी उद्देश्य की पूर्ति के लिए जिला प्रशासन की ओर से इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम का संचालन किया जा रहा है. कंट्रोल रूम के नंबर 1800 419 2211 पर प्रतिदिन लगभग 1000 कॉल्स कोविड-19 को लेकर आ रही हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज