Home /News /delhi-ncr /

Corona-Omicron : Pregnant महिलाओं को शिकार बना रहा कोरोना, नहीं दिख रहा कोई लक्षण लेकिन संक्रमित

Corona-Omicron : Pregnant महिलाओं को शिकार बना रहा कोरोना, नहीं दिख रहा कोई लक्षण लेकिन संक्रमित

गर्भवती महिलाओं में अब कोरोना संक्रमण के ज्यादा मामले देखने को मिल रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

गर्भवती महिलाओं में अब कोरोना संक्रमण के ज्यादा मामले देखने को मिल रहे हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Corona In Delhi: कोरोना संक्रमण के मामले जहां एक ओर देश भर में बढ़ रहे हैं, वहीं अब इसका एक डराने वाला पहलू भी सामने आया है. कोरोना का संक्रमण अब तेजी से गर्भवती महिलाओं को अपनी चपेट में ले रहा है. LNJP अस्पताल में पिछले 7 दिनों में 30 गर्भवती महिलाएं कोरोना पॉजिटिव मिलीं.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. कोरोना का कहर लगातार जारी है. इसी बीच नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने भी अब दुनिया भर को परेशान करना शुरू कर दिया है. दिल्ली में भी इसके लगातार मामले बढ़ते दिख रहे थे हालांकि पिछले दो दिनों में संक्रमितों की संख्या में आई कमी ने कुछ राहत जरूर दी, लेकिन उसी बीच एक खबर ने परेशानी बढ़ा दी है. कोराना का संक्रमण अब गर्भवती महिलाओं को तेजी से अपनी चपेट में ले रहा है. एक जानकारी के अनुसार पिछले 7 दिनों में लोक नायक जय प्रकाश नारायण अस्पताल में 30 गर्भवती महिलाएं कोरोना पॉजिटिव मिलीं. ये सभी महिलाएं डिलीवरी के लिए अस्पताल में आई थीं और जब इनका कोरोना टेस्ट किया गया तो वे पॉजिटिव पाई गईं. इनमें से किसी को भी कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे.

15 का चल रहा इलाज
आज तक की एक रिपोर्ट के अनुसार एलएनजेपी के डायरेक्टर डॉ. सुरेश कुमार ने बताया कि 30 में से 15 महिलाओं का अस्पताल में इलाज चल रहा है. इनमें से दो महिलाओं में खून की कमी थी हालांकि कोई भी गंभीर तौर पर बीमार नहीं है. वहीं इन महिलाओं के बच्चे भी पूरी तरह से सुरक्षित हैं.

वर्टिकल ट्रांसमिशन का खतरा कम
महात्मा गांधी स्मृति चिकित्सालय की विशेषज्ञ डॉ दीपा जोशी ने बताया कि कोरोना संक्रमण से पीड़ित गर्भवती महिलाओं में फिलहाल वर्टिकल ट्रांसमिशन का खतरा नहीं देखा गया है. जिन महिलाओं को कोरोना है उनके नवजात को भी संक्रमण हो ऐसा देखने में नहीं आ रहा है. वहीं उन्होंने बताया कि कोरोना के लक्षण प्रेग्नेंसी के दौरान भी वही होते हैं जो आम लोगों में होते हैं. बुखार, सांस लेने में तकलीफ, स्वाद न आना, थकान लगना जैसे लक्षण यदि किसी गर्भवती को दिखते हैं तो उसे तत्काल डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए.

ब्रेस्ट फीडिंग से खतरा नहीं
वहीं डॉ. जोशी ने बतया कि कोरोना संक्रमित महिलाएं अपने नवजात बच्चों को दूध पिला सकती हैं. ब्रेस्ट फीडिंग के जरिए संक्रमण नहीं फैलता है. उन्होंने बताया कि यदि मां की स्थिति काफी गंभीर है या फिर वो वेंटिलेटर पर है तो ऐसे में बच्चे को ब्रेस्ट फीडिंग नहीं करवा सकते हैं.

Tags: Corona, Omicron

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर