Home /News /delhi-ncr /

दिल्ली LNJP अस्पताल के MD सुरेश कुमार बोले-ओमिक्रोन संक्रमण में डेथ रेट कम, लेकिन खतरनाक

दिल्ली LNJP अस्पताल के MD सुरेश कुमार बोले-ओमिक्रोन संक्रमण में डेथ रेट कम, लेकिन खतरनाक

नए वेरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) पर एलएनजेपी के एमडी का अहम बयान सामने आया है.

नए वेरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) पर एलएनजेपी के एमडी का अहम बयान सामने आया है.

omicron In India: देशभर में सबसे ज़्यादा कोरोना मरीज़ों का इलाज कर चुके दिल्ली अस्पताल एलएनजेपी इस बार भी ओमिक्रोन से लड़ने की तैयारी कर रहा है. अस्पताल में ओमिक्रोन के लिए अलग आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है. साथ ही जीनोम सीक्वेंसिंग को बढ़ाया जा रहा है. इसके अलावा अस्पताल के स्टाफ ट्रेनिंग भी दी जा रही है.

अधिक पढ़ें ...
  • News18.com
  • Last Updated :

दिल्ली. दुनिया में दहशत फैलाने वाले कोरोनावायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) पर एलएनजेपी के एमडी का अहम बयान सामने आया है. अस्पताल के MD डॉक्टर सुरेश कुमार ने इस वेरिएंट को भारत के लिए बड़ा खतरा बताया है. उन्होंने इस वेरिएंट पर काबू पाने के लिए जीनोम सीक्वेंसिंग पर ज़ोर दिया. हालांकि, डॉक्टर सुरेश कुमार ने इस नए वेरिएंट पर अफ्रीकन देशों में हुई स्टडी का हवाला देते हुए कहा कि इसमें डेथ रेट कम है और ICU की ज़रूरत कम पड़ रही है, लेकिन बहुत तेज़ी फैलने वाले इस वेरिएंट में सावधानी बेहद ज़रूरी, लोगों से अपील है कि कोरोना नियमों का पालन करें.

देशभर में सबसे ज़्यादा कोरोना मरीज़ों का इलाज कर चुके दिल्ली अस्पताल एलएनजेपी इस बार भी ओमिक्रोन से लड़ने की तैयारी कर रहा है. अस्पताल में ओमिक्रोन के लिए अलग आइसोलेशन वार्ड बनाया जा रहा है. साथ ही जीनोम सीक्वेंसिंग को बढ़ाया जा रहा है. इसके अलावा अस्पताल के स्टाफ omicron के लिए ट्रेनिंग भी दी जा रही है.

सवाल ओमिक्रोन क्या है वेरिएंट?
जवाब- हाल में WHO ने इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न कहा है. ये पिछले साउथ अफ्रीका वेरिएंट से अलग है. ये बहुत तेज़ी से फैलता है. डेल्टा से 7 गुना तेज़ी से फैलता है.

सवाल- क्या इसके लक्षण हैं?
जवाब– अभी इसका अनुभव हमारे देश में नहीं है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर जो अध्ययन हुए है, उसमें ये पता चला है कि ये तेज़ी फैलता है. आंखों में जलन, सिर दर्द, बदन दर्द और बहुत ज़्यादा थकान इसके लक्षण हैं.

सवाल- अन्य वेरिएंट से किस तरह अलग है?
जवाब- इसकी ट्रांसमिशन की दर बहुत ज़्यादा है अन्य वेरिएंट के मुकाबले. इसका क्लीनिकल स्पेक्ट्रम अलग है.

सवाल- भारत जैसे ज़्यादा आबादी वाले देश में कितनी तेज़ी से फैल सकता है?
जवाब- भारत में आबादी ज़्यादा है, इसलिए यहां खतरा ज्यादा. निश्चित रूप से भारत में खतरा बहुत ज़्यादा है.

सवाल- क्या वैक्सीनेशन वालो को असर करेगा?

जवाब- ये नया वेरिएंट है, ये रोग प्रतिरोधक क्षमता को भेद सकता है. वैक्सीन ले चुके लोगों को भी चपेट में ले सकता है, क्योंकि स्पाइक प्रोटीन पर इसमें 30 ज़्यादा म्युटेशन हो चुके हैं. हमने एक देश में देखा कि एक समूह में बहुत तेज़ी फैला है.

सवाल- Omicron से मरीज़ कितने गंभीर हो रहे हैं?

जवाब- साउथ अफ्रीकन मेडिकल जर्नल में जो स्टडी पब्लिश हुई है, उसमें ये पता चला है कि लक्षण हल्के हैं, डेथ रेट कम है, ICU की ज़रूरत कम है. यूरोप में भी स्टडी चल रही है. बहुत शुरुआती दौर में इसकी स्टडी है. भारत में अभी तक कोई केस रिकॉर्ड नहीं हुआ है.

सवाल- क्या टेस्ट हैं इसके लिए?

जवाब- सबसे बेसिक टेस्ट RT-PCR है. किसी की अगर इंटरनेशनल हिस्ट्री है तो जीनोम सीक्वेंसिंग से ही पकड़ में आएगा.

सवाल- नए वेरिएंट को लेकर आपके अस्पताल में क्या तैयारियां हैं?

जवाबपहले, दूसरी वेव में LNJP ने बहुत अच्छा काम किया. 25 हज़ार से ज़्यादा मरीज़ यहां से ठीक होकर गए. कोरोना पॉजिटिव महिलाओं की देश में सबसे ज़्यादा डिलीवरी यहां पर हुई. थर्ड वेव और नए वेरिएंट की तैयारी की है. अलग से आइसोलेशन बेड, जीनोम सीक्वेंसिंग बढ़ा रहे है और स्टाफ को उसके हिसाब ट्रेंड कर रहे है.

सवाल- इस नए वेरिएंट से कैसे बचें?

जवाब- सबसे महत्वपूर्ण है वैक्सीनेशन. सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क बहुत ज़रूरी है.

Tags: Corona Virus in Delhi, Omicron variant

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर