लाइव टीवी

AAP के मेनिफेस्टो पर अनिल विज बोले- 'केजरीवाल के झूठे वादों से वाकिफ हो चुकी है जनता'

डॉ.पंकज कुमार झा | News18 Haryana
Updated: February 5, 2020, 9:07 AM IST
AAP के मेनिफेस्टो पर अनिल विज बोले- 'केजरीवाल के झूठे वादों से वाकिफ हो चुकी है जनता'
गृह मंत्री अनिल विज

अनिल विज (Anil Vij) ने कहा कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के झूठे वादों से जनता वाकिफ हो चुकी है. धोखेबाज आदमी को कोई वोट नहीं देगा.

  • Share this:
दिल्ली. दिल्ली (Delhi) में आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के मेनिफेस्टो (Menifesto) पर गृह मंत्री अनिल विज (Anil Vij) ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के झूठे वादों से जनता वाकिफ हो चुकी है. धोखेबाज आदमी को कोई वोट नहीं देगा. विज ने कहा कि अन्ना हजारे के साथ आंदोलन करके ये सत्ता में आए थे. भ्रष्टाचार को खत्म करने के वादे के साथ ये सत्ता में आए थे. आज 5 साल बीतने के बाद भी कोई वादा पूरा नहीं किया गया.

केजरीवाल पर विज कटाक्ष

अनिल विज ने कहा कि ऐसा कोई भी आरोप नहीं जो इन 5 वर्षों में आम आदमी पार्टी के विधायकों पर न लगा हो. उन्होंने कहा कि दिल्ली में जहरीले पानी और वायु को साफ करने के लिए केजरीवाल सरकार ने कोई भी प्रयास नहीं किया. विज ने केजरीवाल पर कटाक्ष करते हुए कहा कि, "प्रजातंत्र की दुहाई देते हो और प्रजातंत्र की ABC भी मालूम नहीं. सीएम का चुनाव विधायक करते हैं. ऐसे में आप अपने आप को सीएम कैसे घोषित कर सकते हैं." विज ने कहा कि ये प्रजातंत्र है और बीजेपी के विधायक ही अपनी पार्टी के सीएम को चुनेंगे.

इमरान खान की भाषा और केजरीवाल की भाषा एक जैसी: अनिल विज

विज ने कहा कि पाकिस्तान के पीएम इमरान खान की भाषा और केजरीवाल की भाषा एक जैसी है. बालाकोट, सर्जीकल स्ट्राइक, सीएए और हर बात को लेकर एक भाषा. देश के बच्चों को नहीं पढ़ानी पाक की भाषा, इसलिए दिल्ली की पढ़ी लिखी जनता केजरीवाल के झांसे में नहीं आएगी.

वहीं भूपेंद्र सिंह हुड्डा के आरोपों पर विज ने कहा कि हुड्डा के पास बोलने के लिए कुछ नहीं बचा है. धान घोटाला गिनती में कहीं कम ज्यादा हो तो उसे घोटाला नहीं कहा जा सकता. सरकार पर आरोप तब लगाया जाता है जब घोटाला सामने आने के बाद कार्रवाई नहीं की जाती. प्राइवेट सेक्टर में रोजगार और कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर विज ने कहा कि कैबिनेट में विचार करने के बाद इस पर कार्रवाई चल रही है, जिसमें 33 पाइंट पर सहमति बनाई गई है.

ये भी पढ़ें:- 10वीं की छात्रा से 6 माह तक रेप करता रहा दुकानदार, गर्भवती होने पर हुआ खुलासाये भी पढ़ें:- हरियाणा में 2 महीने का बिजली बिल देख किसान को लगा 'करंट'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 5, 2020, 9:07 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर