शिक्षा सुधार फॉर्मूले पर आदेश गुप्ता ने केजरीवाल सरकार को घेरा, डिप्टी सीएम सिसोदिया से मांगा इस्तीफा

दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने शिक्षा के मॉडल को लेकर केजरीवाल सरकार पर निशाना साधा है.

दिल्ली (Delhi) में शिक्षा सुधार फार्मूले (Education Reform Formula) को लेकर दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश (Aadesh Gupta) गुप्ता ने केजरीवाल सरकार की शिक्षा नीति (Education Policy) पर सवाल उठाया. गुप्ता ने डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) से इस्तीफा मांगा है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के शिक्षा निदेशक उदित राज ने सरकारी स्कूल (Government School) के छत्रों को निर्देश दिया है कि यदि वे परीक्षा के दौरान किसी प्रश्न की जगह प्रश्न ही लिख दें, तो उन्हें नंबर दिया जाएगा. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता (Adesh Gupta) ने शिक्षा निदेशक के इस बयान को गैरकानूनी बताते हुए उप राज्यपाल से शिक्षा विभाग (Education Department) के कार्यकलापों की उच्च स्तरीय जांच कराने और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया से इस्तीफा देने की मांग की है.

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने आरोप लगाया कि दिल्ली की शिक्षा व्यवस्था पूरी तरह से खोखली हो चुकी है. यहां के बच्चे किसी भी प्रतियोगी परीक्षाओं में खरे उतर पाएंगे, इसमें संदेह है. यह संदेश शिक्षा निदेशक उदित राज के उस वीडियो से उपजा है, जिसमें वह एक स्कूल के दौरे पर परीक्षा दे रहे बच्चों से कह रहे हैं कि यदि उन्हें किसी प्रश्न का उत्तर लिखना नहीं आता है तो वे पेपर खाली छोड़ने की जगह प्रश्न को ही लिख दें. वीडियो में उदित राज कहते हैं कि उन्होंने स्कूलों को निर्देश दिया है कि यदि बच्चे जवाब में कुछ भी लिखें चाहे वह प्रश्न ही क्यों ना हो तब भी नंबर दिया जाए.

Delhi News: सीएम अरविंद केजरीवाल ने Corona Warrior के परिवार को दिया 1 करोड़ का चेक

आदेश गुप्ता ने कहा कि यह निर्देश तो पूरी शिक्षा व्यवस्था पर ही सवाल खड़े करता है. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया जिस शिक्षा प्रणाली को विश्वस्तरीय बताते हुए अपनी सबसे बड़ी सुधार बताते हैं, वह पूरी तरह से ठकोसला है. उन्होंने मनीष सिसोदिया से इस्तीफा देने तक की मांग की है. साथ ही कहा कि इससे स्पष्ट है कि दिल्ली में शिक्षा का स्तर किस हद तक गिर चुका है कि विभाग के मुखिया को ही कहना पड़ रहा है कि बच्चे कुछ भी लिख दें, उन्हें नंबर दो.

यह सब इसलिए है ताकि उर्तीण प्रतिशत को बढ़ाकर दिखाया जा सके. उन्होंने कहा कि झूठे प्रचार के दम पर स्कूली शिक्षा को बेहतर करने का दम भरने वाली केजरीवाल सरकार वास्तव में बच्चों की नींव कमजोर कर रही है. गुप्ता ने उप राज्यपाल से मांग करते हुए कहा कि इस मामले को गंभीरता से लेते हुए इसकी जांच कर दोषी अधिकारियों के खिलाफ कर्रवाई होनी चाहिए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.