ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर की कालाबाजारी: आरोपी नवनीत कालरा की बेल याचिका पर कोर्ट में सुनवाई शुरू

द‍िल्‍ली की खान मार्केट के टाउन हॉल और खान चाचा रेस्टोरेंट में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की ब्लैक मार्केटिंग के मामले में नवनीत कालरा पर केस चल रहा है.

द‍िल्‍ली की खान मार्केट के टाउन हॉल और खान चाचा रेस्टोरेंट में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की ब्लैक मार्केटिंग के मामले में नवनीत कालरा पर केस चल रहा है.

दिल्ली में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की ब्लैक मार्केटिंग करने के मामले में आरोपी कारोबारी नवनीत कालरा की जमानत याचिका पर साकेत कोर्ट में गुरुवार को सुनवाई शुरू हो गई है.

  • Share this:

नई दिल्ली. ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के मामले में आरोपी कारोबारी नवनीत कालरा की जमानत याचिका पर साकेत कोर्ट में सुनवाई शुरू हो गई है. कोर्ट में नवनीत कालरा के वकील ने कहा उनके केस को दिल्ली पुलिस बढ़ा चढ़ा कर पेश कर रही है. इस पर कोर्ट ने कहा कि आपने खुद कहा है कि आप ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तय रेट से भी ज्यादा रेट पर बेचे है इसके लिए आपको 7 साल की सजा हो सकती हैं.

साकेत कोर्ट में चल रही सुनवाई...

नवनीत कालरा के वकील ने कहा उनके केस को दिल्ली पुलिस बढ़ा चढ़ा कर पेश कर रही है.

कोर्ट- आपने खुद कहा है कि आप ऑक्सीजन कंसंट्रेटर तय रेट से भी ज्यादा रेट पर बेचे है इसके लिए आपको 7 साल की सजा हो सकती हैं.
कोर्ट ने कहा- जब आप (नवनीत कालरा) आक्सीजन कंसंट्रेटर को चिकित्सा उपकरणों के रूप में बेच रहे हैं. जब पूरी दुनिया कंसंट्रेटर की तलाश में थी, तो आप ऐसे उपकरण नहीं बेच सकते थे जो डब्ल्यूएचओ के अनुपालन में नहीं थे.

आपको उद्देश्य पता होना चाहिए था और यह खुलासा करना चाहिए था कि यह चिकित्सा उपयोग के लिए नहीं था. कोर्ट ने सवाल उठाते हुए कालरा के वकील से पूछा कि - मैट्रिक्स एक आयातक हैं लेकिन कालरा आयातक नहीं हैं. आयातक बिक्री कर रहा था लेकिन आपने उससे खरीदा. आपने सार्वजनिक तौर पर नहीं बेचा. आपने निजी व्हाट्सएप ग्रुप में क्यों बेचा, कोर्ट ने पूछा कि क्या कालाबाजारी नहीं हुई?

कालरा के वकील- मैट्रिक्स एक आयातक नहीं है. उन्होंने भी किसी से खरीदा है. पूरा विवाद इसलिए है क्योंकि इसमें कोई नियम नहीं है.



कोर्ट ने पूछा कि क्या कालाबाजारी नहीं हुई?

कालरा के वकील- मैट्रिक्स एक आयातक नहीं है. उन्होंने भी किसी से खरीदा है. पूरा विवाद इसलिए है क्योंकि इसमें कोई नियम नहीं है.

कालरा के वकील ने कहा कि मेरी बिक्री से सरकार को फायदा हुआ है. मैंने बैंक खाते में पैसा जमा कर दिया है. मैं टैक्स दे रहा हूं. कहां है ये आपराधिक मंशा.

कालरा के वकील- अगर अंत में यह पाया जाता है कि वह दोषी नहीं है. तो क्या वह अपने दिन वापस पा सकता है.

कालरा के वकील- कालरा ने खुद थाने में कालाबाजारी की शिकायत दर्ज कराई थी.

कोर्ट - पुलिस तो इससे इनकार कर रही है.

कालरा के वकील ने एसएचओ को भेजे गए मैसेज और शिकायत को कोर्ट को दिखाया.

कालरा के वकील- पुलिस ने ऑक्सीजन कंसंट्रैटर की आवाजाही के लिए गेट पास, मूवमेंट पास जारी किए हैं.

कोर्ट ने कहा कि मामला यह है कि आप अधिकतम कीमत से कही ज्यादा कीमत पर मानक ऑक्सीजन कंसंट्रैटर से खराब दर्जे का बेचकर धोखा दिया है.

नवनीत कालरा की जमानत पर आज की सुनवाई पूरी... कल होगी सुनवाई.. कल दिल्ली पुलिस अपना पक्ष रखेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज