Home /News /delhi-ncr /

हरियाणा CM हाउस के बाहर धरने पर बैठा पद्मश्री से सम्मानित ये 'गूंगा पहलवान', खट्टर को दी चेतावनी

हरियाणा CM हाउस के बाहर धरने पर बैठा पद्मश्री से सम्मानित ये 'गूंगा पहलवान', खट्टर को दी चेतावनी

हरियाणा के पैरा ओलंपिक खिलाड़ी और पद्मश्री रेसलर वीरेंद्र सिंह दे रहे हैं सीएम हाउस के बाहर धरना.

हरियाणा के पैरा ओलंपिक खिलाड़ी और पद्मश्री रेसलर वीरेंद्र सिंह दे रहे हैं सीएम हाउस के बाहर धरना.

Delhi NCR News: पद्मश्री पैरा ओलंपियक रेसलर वीरेंद्र सिंह (Virender Singh) हरियाणा के झज्जर के रहने वाले हैं. वह मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के दिल्ली स्थित घर के बाहर धरने पर बैठ गए हैं. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश के लिए कई मेडल जीत चुके अर्जुन अवॉर्डी पहलवान अपना पद्मश्री अवॉर्ड लेकर घर नहीं गए, बल्कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के घर के बाहर डेरा डाल लिया. उनका कहना कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होगी, वह वहां से नहीं हटेंगे. उन्होंने ट्वीट किया कि "पिछले चार वर्षों से मैं दर दर की ठोकर खा रहा हूं. मैं आज भी जूनियर कोच हूं और मुझे कोई नकद पुरस्कार नहीं मिला है. कल मैंने इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी से भी बात की थी, अब फैसला आपके हाथ में है.’

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. भारत सरकार ने मंगलवार को इस साल के पद्म पुरस्कार (Padam Award) प्रदान किए. इस समारोह में कई बड़ी हस्तियों को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) ने सम्मानित किया. सम्मानित होने वालों की लिस्ट में ‘गूंगा पहलवान’ (Gunga Pahalwan) के नाम से प्रख्यात हरियाणा के रेसलर वीरेंद्र सिंह (Virender Singh) भी शामिल थे. उन्हें भी पद्मश्री से सम्मानित किया गया है. लेकिन वह नाराज हैं और अपने घर जाने के बजाए पद्मश्री और मेडल लेकर दिल्ली में हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर (Manohar Lal Khattar) के घर के बाहर धरना दे रहे हैं.

    अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश के लिए कई मेडल जीत चुके अर्जुन अवॉर्डी पहलवान अपना पद्मश्री अवॉर्ड और अपने मेडल लेकर धरने पर बैठे हैं. उनका कहना कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होगी वह वहां से नहीं हटेंगे.

    केंद्र हमें समान अधिकार देती है तो आप क्यों नहीं?
    वीरेंद्र सिंह को पैरा पहलवान के तौर पर योगदान के लिए पद्मश्री सम्मान मिला है. लेकिन उनकी शिकायत है कि राज्य सरकार द्वारा उन्हें समान अधिकार नहीं दिया दिया जा रहा है, जबकि केंद्र सरकार उन्हें सम्मानित कर रही है. उन्होंने ट्विटर पर अपनी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, “माननीय मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी आपके आवास दिल्ली हरियाणा भवन के फुटपाथ पर बैठा हूं और यहां से जब तक नहीं हटूंगा जब तक आप हम मूक-बधिर खिलाड़ियों को पैरा खिलाड़ियों के समान अधिकार नहीं देंगे, जब केंद्र हमें समान अधिकार देती है तो आप क्यों नहीं?”

    मूक बधिर खिलाड़ी पैरालिंपिक खेलों का हिस्सा नहीं होते
    भारत सरकार ने मंगलवार को उन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया है. उन्होंने कहाकि केवल मूक बधिर खिलाड़ियों के लिये कोई पैरालंपिक वर्ग नहीं है और मूक बधिर खिलाड़ियों की अंतरराष्ट्रीय खेल समिति ही उनके लिये टूर्नामेंट आयोजित करती है. डेफलंपिक्स को अंतरराष्ट्रीय पैरालिंपिक समिति से मान्यता प्राप्त है लेकिन मूक बधिर खिलाड़ी पैरालिंपिक खेलों का हिस्सा नहीं होते.

    Haryana CM Manohar lal khattar para athlete virendra singh Delhi news Local Delhi News in Hindi Delhi latest news New Delhi News Delhi news live Delhi news today Today news Delhi Latest Delhi News Headlines Latest Delhi City News Delhi News today aaj ki taza khabar state News द‍िल्‍ली समाचार NCR News NCR Latest News NCR aaj ki taza khabar

    उनकी एक ही मांग है कि उन्हें पैरा खिलाड़ियों के बराबर हक मिले.

     पीएम नरेंद्र मोदी से बात हुई है
    राष्ट्रपति भवन में एक समारोह में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सिंह को मंगलवार को पद्मश्री से सम्मानित किया और इस फोटो को हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भी ट्वीट किया. साथ ही पहलवान वीरेंद्र सिंह को बधाई दी, जिनकी जिंदगी से प्रेरित होकर ‘गूंगा पहलवान’ नाम की डाक्यूमेंट्री भी बनायी जा चुकी है. इस पर सिंह ने कहा कि वह पैरा खिलाड़ियों के लिये भी समान पुरस्कार राशि चाहते हैं और साथ ही उन्होंने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी इस संबंध में बात की है.

    Haryana CM Manohar lal khattar para athlete virendra singh Delhi news Local Delhi News in Hindi Delhi latest news New Delhi News Delhi news live Delhi news today Today news Delhi Latest Delhi News Headlines Latest Delhi City News Delhi News today aaj ki taza khabar state News द‍िल्‍ली समाचार NCR News NCR Latest News NCR aaj ki taza khabar

    खिलाड़ी वीरेंद्र सिंह ने किया ट्वीट.

    पैरा एथलीट वाले अधिकार सीएम क्यों नहीं देते ?
    डेफ ओलंपिक्स में 74 किग्रा वर्ग में 3 गोल्ड और 1 कांस्य पदक जीतने वाले वीरेंद्र सिंह ने कहा, “मुख्यमंत्री अगर आप मुझे पैरा एथलीट मानते हैं तो आप पैरा एथलीट वाले सारे अधिकार मुझे क्यों नहीं देते.” उन्होंने ट्वीट किया कि “पिछले चार वर्षों से मैं दर दर की ठोकर खा रहा हूं. मैं आज भी जूनियर कोच हूं और मुझे कोई नकद पुरस्कार नहीं मिला है. कल मैंने इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी से भी बात की थी, अब फैसला आपके हाथ में है.’

    Tags: CM Manohar Lal Khattar, Padam awards, Padam shri, Paralympic athletes

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर