अपना शहर चुनें

States

मेट्रो स्टेशन पर बेहोश यात्री की चली गई सांस, CISF ने CPR देकर ऐसे बचाई जान, जानें क्या होती है यह प्रक्रिया

मेट्रो स्टेशन पर एक यात्री बेहोश होकर गिर गया. इसके बाद CISF के जवान ने उसे एन वक्त पर CPR देकर बचाया.
मेट्रो स्टेशन पर एक यात्री बेहोश होकर गिर गया. इसके बाद CISF के जवान ने उसे एन वक्त पर CPR देकर बचाया.

डाबड़ी मोड़ (Dabri Mor) मेट्रो स्टेशन पर सीआईएसएफ (CISF) के जवान ने घुटन से बेहोश हुए एक पैसेंजर को देखा. उसने उसे सीपीआर (PCR) देकर उसकी जान बचाई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 18, 2021, 11:41 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. मेट्रो स्टेशन पर CISF के एक जवान ने बेहोश हुए एक यात्री की जान अपनी सूझ- बूझ से बचाई है. डाबड़ी मोड़ मेट्रो स्टेशन पर सीआईएसएफ के जवान ने घुटन से बेहोश हुए एक पैसेंजर को देखा. उसने उसे सीपीआर देकर उसकी जान बचाई है. पीड़ित यात्री की पहचान सत्यनारायण के रूप में हुई है. जिन्हें घुटन होने कारण सांस आना बंद हो गई थी. जिसके कारण वह जमीन पर बेहोश हो कर गिर गए थे.

सीआईएसफ प्रवक्ता के अनुसार पीड़ित यात्री सत्यनारायण जैसे सिक्योरिटी चेकिंगकराने के बाद प्लेटफार्म की ओर जा रहे थे, कि अचानक वह बेहोश होकर गिर गए. उन्हें गिरता देख तुरंत मौके पर मौजूद सीआईएसएफ के कांस्टेबल विकास उनके पास पहुंचे. जहां उन्होंने देखा कि यात्री सत्यनारायण को सांस आनी बंद हो गई है.

दिल्ली HC ने कहा, प्राइवेट पॉलिसी से निजता प्रभावित होती है तो डिलीट कर दें Whatsapp



यात्री की हालत देखने पर कॉन्स्टेबल विकास ने तुरंत उन्हें सीपीआर देना शुरू कर दिया. जिसके कुछ देर बाद यात्री को होश आ गया. यात्री के होश में आते ही सीआईएसएफ ने उन्हें हॉस्पिटल ले जाने के लिए पूछा ,लेकिन उन्होंने मना कर दिया. यात्री ने उसकी जान बचाने के लिए सीआईएसएफ और दिल्ली मेट्रो के स्टाफ को धन्यवाद किया. जिन्होंने उसकी मूल्यवान जिंदगी को बचाकर मानवता की मिसाल पेश की है.
क्या है CPR

सीपीआर एक आपातकालीन स्थिति में प्रयोग की जाने वाली प्रक्रिया है जो किसी व्यक्ति की धड़कन या सांस रुक जाने पर प्रयोग की जाती है. सीपीआर में बेहोश व्यक्ति को सांसें दी जाती हैं, जिससे फेफड़ों को ऑक्सीजन मिलती है और साँस वापस आने तक या दिल की धड़कन सामान्य होने तक छाती को दबाया जाता है जिससे शरीर में पहले से मौजूद ऑक्सीजन वाला खून संचारित होता रहता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज