Home /News /delhi-ncr /

passport interview number increased in ghaziabad delsp

गर्मियों में विदेश घूमने जाने वालों को जल्‍द मिले पासपोर्ट, इसलिए इंटरव्‍यू की संख्‍या बढ़ी

पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के 11 जिलों के पासपोर्ट आवेदन अचानक बढ़ गए हैं. सांकेतिक फोटो

पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के 11 जिलों के पासपोर्ट आवेदन अचानक बढ़ गए हैं. सांकेतिक फोटो

गाजियाबाद में बनने वाले पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के 11 जिलों के पासपोर्ट आवेदन अचानक बढ़ गए हैं. लोगों की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए पासपोर्ट सेवा केन्‍द्र ने प्रक्रिया पूरी करने के लिए पहले से अधिक संख्‍या में लोगों को बुलाना शुरू कर दिया है, इससे जल्‍दी पासपोर्ट बन सकेगा.

अधिक पढ़ें ...

गाजियाबाद. कोरोना की वजह से लोग दो साल तक विदेश छुट्टियां नहीं मना पाएं हैं, इस बार कोरोना का असर कम होते ही लोगों ने विदेशों में घूमने का प्‍लान बनाना शुरू कर दिया है. यही वजह है कि गाजियाबाद में बनने वाले पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश के 11 जिलों के पासपोर्ट आवेदन अचानक बढ़ गए हैं. लोगों की सुविधा को ध्‍यान में रखते हुए पासपोर्ट सेवा केन्‍द्र ने प्रक्रिया पूरी करने के लिए पहले से अधिक संख्‍या में लोगों को बुलाना शुरू कर दिया है, इससे जल्‍दी पासपोर्ट बन सकेगा.

गर्मी की छुट्टियां नजदीक आते पासपोर्ट आवेदन करने वालों की संख्या एकाएक बढ़ गई है. सामान्य के साथ तत्काल पासपोर्ट के लिए आवेदन करने वालों को 15 दिन तक इंतजार करना पड़ रहा है. डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र में तो वेटिंग जून तक पहुंच गई है. आवेदन बढ़ने पर क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय गाजियाबाद (आरपीओ) से संबद्ध पासपोर्ट सेवा केंद्र कौशांबी में रोजाना प्रक्रिया पूरी करने के लिए अधिक संख्‍या में लोगों को बुलाया जा रहा है.

आम दिनों में 1200 लोगों को बुलाया जाता था, लेकिन आवेदन की अधिक संख्या देखते हुए 1500 लोगों को बुलाया जा रहा है. क्षेत्रीय पासपोर्ट अधिकारी सुब्रतो हाजरा के अनुसार आवेदन की बढ़ी संख्या के कारण फिलहाल वेटिंग देखने को मिल रही है. मई के बाद स्थिति सामान्य होने की उम्मीद है. कोरोना संक्रमण के नए मामलों को देखते कोरोना प्रोटोकाल का पालन किया जा रहा है.

वहीं, दूसरी ओर हापुड़ चुंगी स्थित क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय में एक दिन में प्रक्रिया पूरी करने के लिए 200 लोगों को बुलाया जा रहा है. सबसे ज्यादा परेशानी तत्काल आवेदकों को हो रही है. जहां अधिक फीस जमा करने के बावजूद पासपोर्ट के लिए इंतजार करना पड़ रहा है. इसके बावजूद वेटिंग लगातार बढ़ती जा रही है. मई के मध्य में स्कूलों की छुट्टियां प्रस्तावित हैं. कोरोना की पहली और दूसरी लहर के कारण बीती दो साल में लोग गर्मियों की छुट्टियां बिताने विदेश नहीं जा पा रहे थे.

पोस्‍ट आफिस पासपोर्ट सेवा केन्‍द्र में भी बढ़ी संख्‍या

क्षेत्रीय पासपोर्ट कार्यालय से जुड़े 11 में से दो जनपदों के डाकघर पासपोर्ट सेवा केंद्र (पीओ पीएसके) में पासपोर्ट आवेदन की संख्या 40 से बढ़ाकर 50 की गई है. इनमें आगरा और नोएडा के पीओ पीएसके शामिल हैं. बाकी मेरठ, सहारनपुर, बागपत, मुजफ्फरनगर, अलीगढ़, बुलंदशहर, वृंदावन, अछनेरा, हाथरस के पीओ पीएसके में प्रतिदिन 40-40 आवेदन ही लिए जा रहे हैं. पोस्‍ट आफिस पीएसके में सीमित संख्या को देखते हुए लोग गाजियाबाद के कौशांबी पीएसके में आवेदन कर रहे हैं.

Tags: Ghaziabad News, Passport

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर