दिल्ली के साउथ MCD में ओपन एयर ईटिंग की इजाजत, रेस्‍त्रां मालिकों को पूरी करनी होंगी ये शर्तें
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली के साउथ MCD में ओपन एयर ईटिंग की इजाजत, रेस्‍त्रां मालिकों को पूरी करनी होंगी ये शर्तें
दिल्ली में ओपन एयर ईटिंग. (pic courtesy: instagram/lovefoodtherapy)

दिल्ली (Delhi) के साउथ MCD इलाके में अब रेस्ट्रॉन्ट खुली जगहों पर खाना सर्व कर सकेंगे. रेस्ट्रॉन्ट मालिकों (Restaurant Owner) के  लिए भी कुछ नियम तय कर दिए गए हैं. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 8, 2020, 7:24 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) में कोरोना संकम्रण की रफ्तार फिर तेज हो गई है. बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस के खतरे के चलते ही रेस्‍त्रां बिज़नेस (Restaurant Business) पर काफी असर हुआ है. होटलिंग इंडस्ट्री को कोरोना काल में काफी नुकसान झेलना पड़ा है. वायरस के डर की वज से लोग बंद जगहों में जाना पसंद नहीं कर रहे हैं. ऐसे में होटल व्यवसाय से जुड़े लोगों की कमाई कम हो रही है. अब लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए साउथ MCD ने ओपन एयर ईटिंग को अनुमति दी है.

दिल्ली के साउथ MCD इलाक़े में आने वाली रेस्‍त्रां अब खुली जगह में खाना सर्व कर पाएंगे. मुम्बई नगर निगम सहित कई निगमों (नगर पालिकाओं) में समान प्रकार की नीति पहले ही से व्यवहार में हैं. अब दिल्ली में इसे लागू करने की तैयारी है. वहीं होटल मालिकों के सामने करीब 24 शर्तें रखीं गई हैं. ये प्रस्ताव साउथ MCD की स्टैंडिंग कमिटी में पारित हो गया है.अब सदन में पास होने के बाद इसे लागू कर दिया जाएगा.

संचालकों को इन नियमों का करना होगा पालन



1 लाइसेंस प्राप्त भोजनालयों के साथ लगे (सटे) हुए केवल खुले हवादार खुले स्थान/ टैरेस का, सेवा क्षेत्र के रूप में उपयोग किया जाएगा.
2. आवेदक को सेवा-क्षेत्र के रूप में खुले स्थान/ टैरेस का उपयोग करने के लिए भूमि के सम्बन्धित स्वामी से अनापत्ति प्रमाण-पत्र (NOC) प्रस्तुत करना होगा

3 स्वामित्व सम्बन्धी दस्तावेज/आवेदन/पट्टा/किराया अनुबन्ध में खुला हवादार, खुला स्थान/ टैरेस स्पष्ट रूप से वर्णित किया जाना चाहिए.

4. खुला-रखान/टेरेस, पधिको (राही) के लिए जैसा खुला है, ऐसा नहीं होना चाहिए जिसका मतलब यह
है कि यह नियमित (नियन्त्रित) प्रवेश/ प्रस्थान के प्रावधान सहित फुटबॉल (Footwall) द्वारा आबद्ध होना
चाहिए. उक्त खुले स्थान में, मुख्य सड़क के प्रति सीधी पहुंच/खुला भाग नहीं होना चाहिए.

ये भी पढ़ें: दिल्ली के साउथ MCD में ओपन एयर ईटिंग की इजाजत, रेस्‍त्रां मालिकों को पूरी करनी होंगी ये शर्तें

5 प्रयुक्त होने वाला खुला स्थान / टैरेस. ऊपर से स्थायी व्यवस्था के साथ ढका नहीं होगा और (दोनों) तरफ से बंद (परिवद्ध) नहीं होगा. किनारे के अनुलग्नक/छाता के लिए कोई ज्वलनशील सामग्री उपयोग नहीं की जाएगी.

6. खुले स्थान/ टेरेस में (के अन्दर) बैठे हुए व्यक्तियों द्वारा मदिरा का सेवन नहीं किया जा सकेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading