लाइव टीवी

हैदराबाद रेप पीड़िता की पहचान उजागर करने पर मीडिया घरानों के खिलाफ याचिका दायर

News18Hindi
Updated: December 4, 2019, 6:29 AM IST
हैदराबाद रेप पीड़िता की पहचान उजागर करने पर मीडिया घरानों के खिलाफ याचिका दायर
दिल्ली हाईकोर्ट में हैदराबाद रेप पीड़िता की पहचान उजागर करने पर याचिका लगाई गई है.

याचिका (Petition) पर मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति सी हरिशंकर की पीठ बुधवार को सुनवाई (Hearing)करेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 4, 2019, 6:29 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली उच्च न्यायालय (delhi high court) में मंगलवार को एक याचिका दाखिल की गई है. इसमें हैदराबाद में रेप और हत्या के मामले में मीडिया घरानों पर महिला पशु चिकित्सक की पहचान उजागर करने पर कानून के कथित उल्लंघन का आरोप लगाया गया है. याचिका पर सुनवाई बुधवार को होगी. मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति सी हरिशंकर की पीठ मामले की सुनवाई करेगी.

दिल्ली के वकील यशदीप चहल की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया है कि याचिका का मकसद दुष्कर्म पीड़िता की पहचान उजागर करने के चलन पर लगाम लगाना है. यह भादंसं की धारा के अलावा उच्चतम न्यायालय के पूर्व के कई फैसलों का उल्लंघन भी है.

अधिवक्ता चिराग मदान और साई कृष्ण कुमार की आरे से दाखिल याचिका में आरोप लगाया गया है कि राज्य पुलिस अधिकारियों ने और उनके साइबर सेल ने पीड़िता और आरोपियों की लगातार पहचान उजागर होने को रोकने के लिए कुछ नहीं किया.

गौरतलब है कि हैदराबाद के एक सरकारी अस्पताल में सहायक पशु चिकित्सक के तौर पर काम करने वाली युवती का जला हुआ शव 28 नवंबर की सुबह शादनगर में एक पुलिया के नीचे से बरामद किया गया था. जिसकी सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या कर दी गई थी.

इसके बाद से इस मामले में कई सारे मीडिया घरानों ने युवती का सही नाम पता छापा था. पीड़ता इस दुनिया में नहीं है, लेकिन उसको न्याय दिलाने के लिए पूरे देश में रैलियां निकाली जा रही हैं और सभाएं आयोजित की जा रही हैं. समाचार चैनल बड़े-बड़े शो आयोजित कर रहे हैं.

 

Loading...

ये भी पढ़ें- निर्भया गैंगरेप मामला: दिल्ली सरकार ने एक दोषी की दया याचिका खारिज करने की सिफारिश की

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 4, 2019, 6:18 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...