लाइव टीवी

CAA Protest: दिल्ली के शाहीन बाग में यातायात बहाल करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर
Delhi-Ncr News in Hindi

भाषा
Updated: January 20, 2020, 11:27 PM IST
CAA Protest: दिल्ली के शाहीन बाग में यातायात बहाल करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर
CAA-NRC के खिलाफ दिल्ली के शाहीन बाग में महिलाएं और बच्चे पिछले 42 दिन से धरने पर बैठे हैं (फाइल फोटो)

याचिका में कहा गया है कि कालिंदी कुंज मार्ग (Kalindi Kunj Marg) काफी अहम है क्योंकि यह दिल्ली (Delhi) को फरीदाबाद (Faridabad) और नोएडा (Noida) से जोड़ता है. इस मार्ग का प्रयोग करने वाले लोग कई दिनों से परेशान है.

  • Share this:
नई दिल्ली. संशोधित नागरिकता कानून (Amended Citizenship Act) के खिलाफ पिछले करीब एक महीने से शाहीन बाग में महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं और इस वजह से कालिंदी कुंज-शाहीन बाग मार्ग (Kalindi Kunj-Shaheen Bagh Road) का हिस्सा बंद है. इस मार्ग पर सुचारू तरीके से यातायात बहाल करने के लिए उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर की गई है.

याचिका में कहा गया है कि दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) ने 14 जनवरी को इस मार्ग पर हो रही यातायात संबंधी बाधाओं को लेकर तत्काल फैसला सुनाने से इनकार कर दिया था. अदालत ने कहा था कि वह सीधे तौर पर प्रदर्शन से निपटने, प्रदर्शन स्थल या यातायात को लेकर कोई निर्देश नहीं देगी क्योंकि इससे निपटना वास्तविकत स्थिति और पुलिस के विवेक पर निर्भर करता है.

शाहीन बाग में स्थिति के निरीक्षण का किया है आग्रह
वकील और सामाजिक कार्यकर्ता अमित साहनी ने सुप्रीम कोर्ट में विशेष अनुमति याचिका दायर करके शाहीन बाग में स्थिति के निरीक्षण का आग्रह किया है. साहनी ने अपनी याचिका में कहा है कि शाहीन बाग में हो रहे प्रदर्शन ने कई अन्य जगहों पर भी इसी तरह के प्रदर्शनों को शुरू करने की प्रेरणा दी है और इसे जारी रहने देना खराब चलन पैदा करना होगा.

कालिंदी कुंज मार्ग दिल्ली को फरीदाबाद और नोएडा से जोड़ता है
याचिका में कहा गया है कि कालिंदी कुंज मार्ग काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि यह दिल्ली को हरियाणा के फरीदाबाद और उत्तर प्रदेश के नोएडा से जोड़ता है. इस मार्ग का इस्तेमाल करने वाले लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. याचिका में कहा गया है, ‘यह मामला काफी संवेदनशील है क्योंकि इस क्षेत्र में प्रदर्शन की वजह से मजबूरी में या बंद करने के अलावा कोई चारा न देखकर कारोबारियों ने दुकानें बंद कर दी हैं जिसकी वजह से उन्हें काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है.’

ये भी पढ़ें - निर्भया गैंगरेप: दोषी पवन की याचिका खारिज, पीड़िता के पिता हुए खुश, कही ये बात

JNU में फिर हिंसा: एक छात्र ने ABVP पर मारपीट करने का लगाया आरोप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 20, 2020, 11:26 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर