दिल्ली हिंसा: PFI स्टेट हेड परवेज अहमद समेत 2 गिरफ्तार, पूछताछ में जुटी स्पेशल सेल
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली हिंसा: PFI स्टेट हेड परवेज अहमद समेत 2 गिरफ्तार, पूछताछ में जुटी स्पेशल सेल
दिल्ली हिंसा मामले में दो गिरफ्तारी हुई है. (फाइल फोटो)

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने PFI के दिल्ली स्टेट हेड परवेज अहमद को हिरासत में लिया है. साथ ही फंडिंग मामले में एक और सदस्य को गिरफ्तार किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 12, 2020, 9:58 AM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पीएफआई (PFI) के दिल्ली स्टेट हेड परवेज अहमद को हिरासत में लिया है. साथ ही फंडिंग मामले में एक और सदस्य को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार शख्स से स्पेशल सेल लगातार पूछताछ कर रही है. साथ ही दिल्ली में पीएफआई के द्वारा होने वाली फंडिंग और सीएए-एनआरसी के विरोध में होने वाले प्रदर्शनों की फंडिंग की जानकारी जुटाई जा रही है. आरोपी का नाम इलियास बताया जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इलियास पीएफआई का सचिव है. दिल्ली पुलिस आज हिंसा मामले में मीडिया के सामने सारे तथ्य रखेगी.


ईडी ने भी मनी लॉन्ड्रिंग मामले में मोहम्मद परवेज अहमद से जनवरी में पूछताछ की थी. उन्होंने तब इनकार कर दिया कि पीएफआई और सीएए विरोधी (जो हिंसक हो गए थे) के बीच कोई संबंध था. ईडी के पास यह दिखाने के लिए सबूत थे कि पीएफआई और रिहैब फाउंडेशन ऑफ इंडिया से जुड़े अलग-अलग बैंक खातों में 120 करोड़ से अधिक की रकम अलग-अलग समय पर जमा हुई. और दिसंबर 2019 में, जब सीएए के विरोध प्रदर्शन हिंसक हो गए, तो बैंक से बहुत सारे पैसे निकाले भी गए.


आरोप है कि 20 दिसंबर 2019 को देश भर में हिंसा कराने के लिए पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) ने लोगों को पहले से मानसिक रूप से तैयार किया था. पुलिस के मुताबिक, मेरठ में 12 लोगों के अकाउंट में पीएफआई ने पैसा डाला था, जिसमें से चार अकाउंट में तीन करोड़ रुपये आने की बात कही गई है. इसको लेकर पुलिस ने बैंकों को नोटिस भेजकर संदिग्ध अकाउंट की जानकारी मांगी थी.



बता दें कि 20 दिसंबर 2019 को सीएए के विरोध में जिले में जमकर बवाल हुआ था. 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हुए थे और 146 लोगों को गिरफ्तार किया गया. एसपी संजीव त्यागी ने बताया कि करीब 15 खाते खंगाले गए हैं. इनमें कई खाते संदिग्ध मिले हैं. अभी केवल एक खाते में बाहर से रकम आने की जानकारी है.



यूपी में संदिग्‍ध लेनदेन का हुआ था खुलासा
सीएए के विरोध में पूरे उत्‍तर प्रदेश में हुई हिंसा के बीच पीएफआई फंडिंग को लेकर चल रही जांच में फरवरी महीने में बड़ा खुलासा हुआ था. मेरठ रेंज के आईजी ने बताया था कि अभी तक केवल एक मनी ट्रेल पकड़ा गया है. इसमें करीब आठ करोड़ से ज्यादा की रकम दीनी तालीम और समाजसेवा के नाम पर आने की बात कही गई थी. बाकी करोड़ों रुपए भी अवैध ढंग से जुटाने की जानकारी सामने आई थी. मनी ट्रेल सामने आने के बाद प्रवर्तन निदेशालय ने (ईडी) सभी खातों की जांच शुरू कर दी थी. अब दिल्‍ली में फंडिंग मामले में पीएफआई के दो सदस्‍यों को पकड़ा गया है.

ये भी पढ़ें: CAA प्रोटेस्ट के लिए फंड देने के आरोप को PFI ने किया खारिज, इंदिरा जयसिंह ने भी बताया आधारहीन



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading