कोरोना वायरस से उबरे मरीजों की मदद के लिए फिजियोथेरेपिस्ट संस्था ने बढ़ाए हाथ

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज का अस्पताल में इलाज करते डॉक्टर. (सांकेतिक फोटो)

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज का अस्पताल में इलाज करते डॉक्टर. (सांकेतिक फोटो)

Coronavirus Patient Physiotherapy: ज़्यादातर केसों में कोरोना से ठीक होने के बाद भी मरीज़ों को सांस फूलने की, चक्कर आने की, थकावट रहने की और नींद ना आने की समस्या रहती है.

  • Last Updated: May 18, 2021, 4:08 PM IST
  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण के दौरान और उससे उबरने के बाद भी पीड़ितों के लिए फिजियोथेरेपी बहुत लाभदायक मानी जा रही है, लेकिन कोरोना महामारी के इस दौर में फिजियोथेरेपिस्ट की सेवा मिलना बहुत मुश्किल हो गया है जिसके कारण कोरोना से ठीक होने के बाद भी मरीज़ को मानसिक और शारीरिक तौर पर चुस्त-दुरुस्त होने में काफ़ी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. कोरोना मरीज़ों की इन व्यवहारिक दिक़्क़तों को देखते हुए कोरोना पीड़ितों की सहायता के लिए फिजियोथेरेपिस्टों की संस्था इंडियन एसोसिएशन ऑफ़ फिजिओथेरेपिस्ट आगे आई है.


इस संस्था की दिल्ली ब्रांच की अध्यक्ष डॉ पूजा सेठी ने बताया कि उनकी संस्था ने कोरोना पीड़ितों की सहायता के लिए एक कोविड हेल्पलाइन बनाई है. इस हेल्पलाइन के लिए 30 फिजियोथेरेपिस्ट, 5 डॉक्टर, 1 साइकोलॉजिस्ट, 1 आहार विशेषज्ञ और 2 होम्योपैथी डॉक्टर का एक पैनल बनाया गया है जो कोरोना पीड़ितों को बिल्कुल फ़्री सेवा देंगे.


दिल्ली: पॉजिटिविटी रेट में गिरावट जारी, 24 घंटों में कोरोना के 4482 नए केस; 265 की मौत


इस फ़्री सेवा का लाभ उठाने के लिए कोरोना मरीज़ों को एक गूगल फ़ॉर्म भरना होगा, जिस पर उनका रजिस्ट्रेशन किया जायेगा. रजिस्ट्रेशन के बाद पैनल की तरफ़ से कोरोना पीड़ित को कॉल जायेगा और पेशेंट की समस्या के हिसाब से फिजियोथेरेपिस्ट उनको आवश्यक एक्सरसाइज़ बतायेंगे.



डॉ पूजा के अनुसार ज़्यादातर केसों में कोरोना से ठीक होने के बाद भी मरीज़ों को सांस फूलने की, चक्कर आने की, थकावट रहने की और नींद ना आने की समस्या रहती है. ऐसे में फिजियोथेरेपी द्वारा ब्रीथिंग एक्सरसाइज़, वर्टिगो एक्सरसाइज़, रिलेक्सेशन एक्सरसाइज़ की प्रैक्टिस करवाई जाती है, जिससे मरीज़ों को बहुत फ़ायदा मिलता है. मरीज़ की आवश्यकतानुसार साइकोलॉजिस्ट, आहार विशेषज्ञ की भी सेवा इस हेल्प लाइन पर मिलेगी. हेल्पलाइन में रजिस्टर करने के लिए https://forms.gle/93a9F8fLMLJFYwqV6 पर लॉगइन करना होगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज