होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

लश्कर और अल बद्र को हवाला से पहुंचा रहा था पैसा, पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

लश्कर और अल बद्र को हवाला से पहुंचा रहा था पैसा, पुलिस ने दिल्ली से किया गिरफ्तार

हवाला एजेंट यासीन को पुलिस ने तुर्कमान गेट इलाके से गिरफ्तार किया है.

हवाला एजेंट यासीन को पुलिस ने तुर्कमान गेट इलाके से गिरफ्तार किया है.

विदेशों से फंडिंग जुटा कर आतंकी संगठनों तक भेजने का कर रहा था काम, दिल्ली और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने संयुक्त ‌अभियान के तहत किया गिरफ्तार. 7 लाख रुपये और एक मोबाइल फोन किया जब्त.

हाइलाइट्स

यासीन ने पूछताछ में बताया कि पैसा अफ्रीका व अन्य देशों से आता था.
इसके बाद पैसे को देश के अलग अलग स्‍थानों पर पहुंचाया जाता था, जहां से फिर ये कश्मीर पहुंचता था.

नई दिल्ली. खुफिया एजेंसियों की मदद से दिल्ली पुलिस और जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक संयुक्त अभियान में, आतंकवादी संगठन लश्कर और अल बद्र को हवाला के जरिये रुपए पहुचाने वाले हवाला ऑपरेटर को गिरफ्तार किया है. इस ऑपरेटर की पहचान मोहम्मद यासीन के तौर पर हुई है. पुलिस के अनुसार यासीन दिल्ली स्थित तुर्कमान गेट का निवासी है और आतंकी संगठन लश्कर और अल बद्र के एजेंट के तौर पर काम कर रहा था.

17 अगस्त को, मोहम्मद यासीन ने लगभग 10 लाख रुपए जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों के उपयोग के लिए जम्मू-कश्मीर के एक आतंकी ऑपरेटिव अब्दुल हामिद मीर को भेजे. इस संबंध में, जम्मू-कश्मीर पुलिस ने प तहत मामला दर्ज कर जम्मू बस स्टैंड से हामिद को गिरफ्तार कर लिया था. उसकी निशानदेही पर दिल्ली से ये गिरफ्तारी हुई. यासीन का दिल्ली के मीना बाजार में कपड़े का करोबार है. पुलिस ने यासीन के पास से 7 लाख नकद, एक मोबाइल फोन बरामद किया है.

फॉरेन फंडिग से जुटाता था पैसा
यासीन ने पूछताछ में बताया कि वो पैसा फॉरेन फंडिंग के जरिये जुटाकर आतंकियों तक भेजता था. हवाला के इन पैसे का इस्तेमाल कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों को अंजाम देने में किया गया. यासीन हवाला मनी के एक चैनल के रूप में काम करता है, विदेशों में स्थित अपने सोर्सेज से पैसे इकट्ठे करता था और आगे जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी गुटों तक भेजता था.

पूछताछ के दौरान, मोहम्मद यासीन ने खुलासा किया कि हवाला का पैसा दक्षिण अफ्रीका के माध्यम से सूरत और मुंबई में भारत भेजा जा रहा है. यासीन इस हवाला श्रृंखला में दिल्ली की कड़ी था और दिल्ली से इस राशि को अलग-अलग कोरियर के माध्यम से जम्मू-कश्मीर में स्थानांतरित कर दिया करता था. यह राशि आगे जम्मू-कश्मीर में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा और अल बद्र के आतंकियों को दी जाती थी.

Tags: Delhi news, Hawala money, Terrorism In India

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर