लाइव टीवी

तीन माह पहले राजमिस्त्री की हुई हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया, गांव का ही युवक निकला हत्यारा
Delhi-Ncr News in Hindi

News18 Haryana
Updated: January 21, 2020, 11:15 AM IST
तीन माह पहले राजमिस्त्री की हुई हत्या की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया, गांव का ही युवक निकला हत्यारा
पुलिस की लापरवाही पर ग्रामीणों ने पुलिस थाने पहुंचकर सुनाई खरी खोटी

सोहना (Sohna) में राजमिस्त्री का काम करने वाले एक युवक की गांव के ही एक अन्य युवक ने पीट-पीट कर हत्या (Murder) कर दी थी. इसके बाद शव को बोरी में डालकर नहर में फेंक दिया था.

  • Share this:
सोहना. हरियाणा (Haryana) में गुरुग्राम (Gurugram) जिले के सोहना (Sohna) में बीते 5 नवंबर की रात को हुए राजमिस्त्री के अंधे कत्ल (Blind Murder) की गुत्थी को पुलिस ने तीन महीने बाद सुलझा लिया है. बता दें कि गांव के ही एक युवक ने राजमिस्त्री की हत्या की वारदात को अंजाम दिया था. मेवात पुलिस (Mewat Police) ने हत्या के तीन दिन बाद नहर से डेड बॉडी बरामद की थी.

पूरा मामला

सोहना सदर थाना के अंतर्गत आने वाले गांव निमोठ में बीते 5 नवंबर 2019 की रात को राजमिस्त्री का काम करने वाले एक युवक की गांव के ही एक अन्य युवक ने पीट-पीट कर हत्या कर दी थी. इसके बाद शव को बोरी में डालकर नहर में फेंक दिया था. परिजनों ने निमोठ पुलिस चौकी में एक शिकायत देते हुए हत्या करने का शक जाहिर किया था, लेकिन पुलिस ने उक्त मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज न करते हुए गुमशुदगी की कार्रवाई की थी. इसके बाद परिजन समय-समय पर पुलिस से कार्रवाई करने की फरियाद करते रहे, लेकिन पुलिस ने उल्टा पीड़ितों को डरा धमकाकर भगा दिया.

पुलिस की लापरवाही उस समय देखने को मिली जब तीन दिन बाद ही मेवात जिला के पुलिस थाना रोजका मेव के एरिया से गुजर रही नहर में पुलिस को एक अज्ञात डेड बॉडी मिली थी. इसके बाद सोहना थाना पुलिस ने रोजका मेव पुलिस से यह पूछना जरूरी नहीं समझा कि तीन दिन पहले जिसकी गुमशुदगी की खबर आई थी कहीं ये वही तो नहीं. इतना ही नहीं अज्ञात शव की पहचान के लिए सोहना पुलिस ने रोजका मेव पुलिस से संपर्क कर उस अज्ञात डेड बॉडी की पहचान के लिए कार्रवाई भी नहीं की.

ग्रामीणों ने पुलिस थाने पहुंच सुनाई खरी खोटी

बहरहाल, बाद में जैसे ही निमोठ ग्राम के लोगों को यह जानकारी मिली कि रोजकमेव थाना क्षेत्र में मिली लाश उसी राजमिस्त्री की थी, तो पुलिस ने गुमशुदगी लिखकर अपना पल्ला झाड़ लिया था. इसे लेकर अब ग्रामीणों ने कई गांवों की एक पंचायत का आयोजन किया. लोगों ने पुलिस के खिलाफ आग उगलते हुए पंचायत समापन पर पुलिस चौकी जे पहुंचे, जहां पर ग्रामीणों ने पुलिसकर्मियों को जमकर खरी खोटी सुनाई.

(सोहना से संजय राघव की रिपोर्ट)ये भी पढ़ें:- सिरसा में महिला और बच्चे का शव मिला, दोनों के गलों पर मिले रस्सी के निशान

ये भी पढ़ें:- छात्रा से छेड़खानी, शिकायत करने आरोपी के घर पहुंचे पिता को दबंगों ने पीटा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 21, 2020, 11:15 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर