Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    Pollution Level: कोरोना लॉकडाउन ने शुद्ध कर दी दिल्ली-एनसीआर से लखनऊ तक की हवा

    इस लड़ाई को जीतने का सबसे अच्छा तरीका लॉकडाउन ही है.
    इस लड़ाई को जीतने का सबसे अच्छा तरीका लॉकडाउन ही है.

    दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों की सूची में शामिल दिल्ली, गाजियाबाद, लखनऊ, भिवाड़ी, फरीदाबाद और गुरुग्राम में भी लोगों को मिलने लगी शुद्ध हवा, कोरोना लॉकडाउन का एक असर ऐसा भी

    • News18Hindi
    • Last Updated: March 27, 2020, 6:23 PM IST
    • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना लॉकडाउन (Coronavirus Lockdown) की वजह से पूरा देश बंद है. इसका एक सकारात्मक असर भी पड़ा है. नेचर को रिवाइव होने का भरपूर मौका मिला है. देश के 102 प्रदूषित शहरों में से इस समय 85 की हवा बिल्कुल शुद्ध हो चुकी है. दिल्ली के सबसे प्रदूषित क्षेत्रों में शुमार आनंद विहार में भी हवा साफ है. इससे पर्यावरणिवद काफी खुश हैं. उनका कहना है कि जो काम हम अरबों रुपये लगाकर नहीं कर सकते थे वो कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से हो रहा है.

    वायु प्रदूषण (Air Pollution) की निगरानी करने वाली पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की संस्था ‘सफर’ (SAFAR) का प्रदूषण मैप हरा हो चुका है. यानी पूरे देश में लोगों को साफ-सुथरी हवा मिल रही है. दिल्ली, पुणे, मुंबई और अहमदाबाद में हवा साफ है. आमतौर पर सफर की साइट पर इन शहरों का मैप कभी एक साथ हरा नहीं दिखता है.

     pollution level, delhi pollution, air pollution, today pollution, delhi pollution level, pollution in india, pollution level in ncr, lucknow, faridabad, gurugram, Ghaziabad, india's most polluted cities, Coronavirus Lockdown, प्रदूषण का स्तर, दिल्ली का प्रदूषण, वायु प्रदूषण, दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर, भारत में प्रदूषण का स्तर, फरीदाबाद, गुरुग्राम, गाजियाबाद, भारत के सबसे प्रदूषित शहर, कोरोना वायरस लॉकडाउन
    अब बड़े प्रदूषित शहरों में भी मिल रही साफ हवा




    दिल्ली का पीएम-10 अपने सामान्‍य लेवल 100 माइक्रो ग्राम क्‍यूबिक मीटर (MGCM) से नीचे सिर्फ 58 पर आ गया है. जबकि पीएम 2.5 भी अपने सामान्य स्तर 60 एमजीसीएम से आधा 31 रह गया है. यह अपने आपमें रिकॉर्ड है. जबकि केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) की रिपोर्ट बता रही है कि प्रतिबंध से पहले यानी 21 मार्च तक दिल्ली के लोगों को शुद्ध हवा नहीं मिल रही थी. आनंद विहार का एयर क्वालिटी इंडेक्स (Air Quality Index) सिर्फ 63 हो गया है जबकि लॉकडाउन से पहले 248 था. यानी यहां की हवा बेहद खराब थी.
    पर्यावरणविद् एन. शिवकुमार का कहना है कि एक सप्ताह से कम के बंद में ज्यादातर शहरों की हवा शुद्ध हो चुकी है. अगर हम हर महीने 24 घंटे सबकुछ बंद रखें तो कम से कम सभी को साफ हवा मिलेगी. लोगों की लाइफ बढ़ेगी. दवाईयों का खर्च बचेगा.

     pollution level, delhi pollution, air pollution, today pollution, delhi pollution level, pollution in india, pollution level in ncr, lucknow, faridabad, gurugram, Ghaziabad, india's most polluted cities, Coronavirus Lockdown, प्रदूषण का स्तर, दिल्ली का प्रदूषण, वायु प्रदूषण, दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर, भारत में प्रदूषण का स्तर, फरीदाबाद, गुरुग्राम, गाजियाबाद, भारत के सबसे प्रदूषित शहर, कोरोना वायरस लॉकडाउन
    'सफर' के मैप पर ज्यादातर शहरों की हवा शुद्ध दिख रही है


    सबसे प्रदूषित शहरों में भी अब मिल रही शुद्ध हवा

    आईक्यू एयर विजुअल द्वारा कराए गए विश्व वायु गुणवत्ता 2019 सर्वे के मुताबिक दुनिया के 30 सर्वाधिक प्रदूषित शहरों में भारत के 21 शहर शामिल हैं. इनमें एनसीआर के लगभग सभी बड़े शहर आते हैं. इस सूची में शामिल गाजियाबाद, गुरुग्राम, फरीदाबाद, पलवल, लखनऊ, बुलंदशहर, जींद, भिवाड़ी और हिसार में 20 मार्च को हवा की गुणवत्ता बेहद खराब थी, लेकिन 26 मार्च को यहां प्रदूषण नहीं था. इन शहरों की आबोहवा में लॉकडाउन की वजह से गुणात्मक सुधार हुआ है.

    इन शहरों में फिर भी कायम है प्रदूषण

    देश के कुछ शहरों में अब भी प्रदूषण का स्तर खतरनाक बना हुआ है. इसकी कई वजहें हैं. पर्यावरणविदों का मानना है कि 21 दिन तक लॉकआउट के बाद कोई शहर ऐसा नहीं रह जाएगा जिसकी वायु गुणवत्ता खराब होगी. फिलहाल, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक 26 मार्च को ओडिशा के तालचेर, ब्रजराजनगर, महाराष्ट्र के चंद्रपुर, कल्याण, हरियाणा के सोनीपत और करनाल में वायु प्रदूषित थी.

    pollution level, delhi pollution, air pollution, today pollution, delhi pollution level, pollution in india, pollution level in ncr, lucknow, faridabad, gurugram, Ghaziabad, india's most polluted cities, Coronavirus Lockdown, प्रदूषण का स्तर, दिल्ली का प्रदूषण, वायु प्रदूषण, दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर, भारत में प्रदूषण का स्तर, फरीदाबाद, गुरुग्राम, गाजियाबाद, भारत के सबसे प्रदूषित शहर, कोरोना वायरस लॉकडाउन
    लॉकडाउन के बाद दिल्ली के सबसे प्रदूषित क्षेत्र में कैसे साफ हुई हवा


    इसी प्रकार यूपी के मेरठ, वाराणसी और ग्रेटर नोएडा, मध्य प्रदेश के देवास, सिंगरौली, बिहार के पटना, मुजफ्फरपुर, राजस्थान के जोधपुर, गुजरात के नंदेसरी, वापी और असम की राजधानी गुवाहाटी में हवा की गुणवत्ता बेहद खराब रही.

    ये भी पढ़ें: लॉकडाउन से नहीं यह शहर खुद बुनता है सन्‍नाटे का साम्राज्‍य, ठहर जाती है रफ्तार

    कोरोना वायरस लॉकडाउन: 21 दिन बाद कितनी बदल चुकी होगी हमारी दुनिया

     
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज