• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • POLLUTION LEVEL INCREASES IN DELHI NCR IN POOR CATEGORY BY CPCB DATA AFTER LAXITY IN CORONA LOCKDOWN DLPG

एनसीआर में बढ़ा प्रदूषण, दिल्‍ली-नोएडा में आउटडोर गतिविधियां न करने की सलाह

लॉकडाउन खुलने के साथ ही दिल्‍ली एनसीआर में फिर बढ़ा प्रदूषण. सांकेतिक फोटो

Pollution After Lockdown Relaxation: सीपीसीबी के अनुसार दिल्‍ली एनसीआर के बागपत और सोनीपत का हाल सबसे ज्‍यादा बेहाल है. यहां हवा की गुणवत्‍ता बहुत खराब की श्रेणी में आ गई है. जहां बागपत में एक्‍यूआई 314 है वहीं सोनीपत में 354 तक पहुंच गया है.

  • Share this:
    नई दिल्‍ली. राजधानी दिल्‍ली सहित एनसीआर के कई शहरों में कोरोना मरीजों की संख्‍या में रोजाना कमी देखी जा रही है. दिल्‍ली में ही साढ़े तीन सौ के आसपास रोजाना आ रहे मामलों के साथ ही मौतों में भी गिरावट आई है हालांकि कोरोना (Corona) से मिल रही राहत से बीच प्रदूषण (Pollution) फिर से समस्‍या बन रहा है. लॉक डाउन (Lock Down) खुलने के बाद एक बार फिर इस इलाके में प्रदूषण स्‍तर बढ़ने लगा है. दिल्‍ली के अलावा एनसीआर के कई शहरों में प्रदूषण स्‍तर खराब (Poor) और बहुत खराब (Very Poor) की श्रेणी में पहुंच चुका है.

    दिल्‍ली की बात करें तो यहां वायु प्रदूषण खराब श्रेणी में पहुंच गया है. सेंट्रल पॉल्‍यूशन कंट्रोल बोर्ड (CPCB) के आंकड़े देखें तो आज दिल्‍ली में एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स (AQI) 231 है. वहीं नोएडा में एक्‍यूआई 257 तक पहुंच चुका है. फरीदाबाद का एक्‍यूआई 245, गाजियाबाद में एक्‍यूआई 210 के साथ ही ग्रेटर नोएडा में 236 और मेरठ में 218 एक्‍यूआई के साथ प्रदूषण स्‍तर खराब केटेगरी में है.

    ऐसे में यहां के लोगों को कोई भी बाहरी गतिविधि न करने की सलाह दी गई है. सीपीसीबी की ओर से कहा गया है कि इस प्रदूषण स्‍तर में सांस लेने में कठिनाई हो सकती है. इसके साथ ही अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याएं भी हो सकती हैं लिहाजा सांस (Breathing) और फेफड़ों (Lungs) की बीमारियों से जूझ रहे लोग घर पर ही रहें.

    सीपीसीबी के अनुसार दिल्‍ली एनसीआर के बागपत और सोनीपत (Sonipat) का हाल सबसे ज्‍यादा बेहाल है. यहां हवा की गुणवत्‍ता बहुत खराब की श्रेणी में आ गई है. जहां बागपत में एक्‍यूआई 314 है वहीं सोनीपत में 354 तक पहुंच गया है. ऐसे में इन दोनों शहरों में लोगों में रेस्पिरेटरी संबंधी बीमारियां होने की आशंका जताई गई है. साथ ही लोगों को घरों के अंदर ही रहने की सलाह दी गई है.

    एनसीआर में गुरुग्राम की स्थिति ठीक है. यहां आज का एयर क्‍वालिटी इंडेक्‍स 188 है. जो इसे मॉडरेट श्रेणी में रखता है. हालांकि सांस या फेफडों संबंधी बीमारियों से घिरे लोगों के लिए ऐसी हवा में सांस लेना थोड़ी परेशानी पैदा कर सकता है लेकिन फिर भी यहां की हवा दिल्‍ली और अन्‍य शहरों से ठीक है.