कब्रिस्तान में शवों को दफनाने वाले शमीम का आरोप, निगम से नहीं मिल रही PPE किट, हो सकते हैं कोरोना का शिकार

आईटीओ के कब्रिस्तान में शव दफनाने वाले मीडिया के सामने अपनी बात रखते हुये.

आईटीओ के कब्रिस्तान में शव दफनाने वाले मीडिया के सामने अपनी बात रखते हुये.

आईटीओ (ITO) की कब्रिस्तान में शवों को दफनाने वाले मोहम्मद शमीम का आरोप है कि उनको और उनकी टीम को अभी तक पीपीई किट (PPE Kit) तक नहीं मुहैया कराई गई है. वो लोग अपनी जान पर खेलकर यहां काम कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 13, 2021, 5:57 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) में कोरोना संक्रमण बढ़ने के साथ ही मौतों का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है. वहीं दिल्ली के आईटीओ (ITO) पर बने कब्रिस्तान के 'जदीद कब्रिस्तान अहले इस्लाम दिल्ली' में एक हिस्से में कोरोना (Corona) से जान गंवाने वाले लोगों के शवों को दफनाया जाता है. कब्र खोदने और इन शवों को दफनाने वाले मोहम्मद शमीम ने बड़ा आरोप लगाया है, शमीम का कहना है कि बिना पीपीई किट के उन्हें शवों को दफनाना पड़ रहा है.

निगम ने उन्हें अभी तक कोई पीपीई किट मुहैया नहीं करवाई है. यहां शमीम समेत चार लोगों की टीम है जो कोरोना से जान गंवाने वाले शव को सुपुर्द-ए- खाक करती है. इनमें से किसी के पास भी PPE किट नहीं है. शमीम ने बताया कि 4 अप्रैल से अब तक 57 कोरोना शवों को वो दफना चुके हैं.

Covid 19 : दिल्ली में बेकाबू कोरोना ने फिर तोड़े सभी रिकॉर्ड, 24 घंटे में 13,500 नए मरीज, आंकड़ा 51 हजार के पार!

दक्षिणी दिल्ली नगर निगम में नेता ने क्या कहा
आईटीओ पर इस कब्रिस्तान में दफनाने वालों के आरोप पर दक्षिणी दिल्ली नगर निगम में नेता सदन नरेंद्र चावला ने कहा कि ये कब्रिस्तान हमारे अधीन नहीं आता. एक निजी संस्था इसे चलाती है. कोरोना समय में हमने कहा था कि कोविड प्रोटोकॉल के तहत शव का अंतिम संस्कार करें. समय-समय पर हम इन्हें बतौर निगम मदद पंहुचाते रहे हैं. हमने निगम की एक टीम भी मुआयने के लिए भेजी है. उन्हें जो भी जरूरत है वो हमें लिखकर दें हम उपलब्ध कराएंगे.

दिल्ली में पिछले 24 घंटों में 11,491 नए कोरोना मामले सामने आए हैं और 72 मरीजों की कोरोना से मौत हुई है. दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर भी 12 फीसदी को पार कर चुका है. वहीं दिल्ली में सक्रिय मरीज़ों की संख्या भी 38 हज़ार पार कर चुकी है. दिल्ली में अबतक 7,36,688 कोरोना मामले सामने आ चुके हैं. वहीं 11,355 मरीज़ों की कोरोना से मौत हो चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज