लाइव टीवी

तिहाड़ जेल में निर्भया के हत्यारों की फांसी देने का तख्त तैयार, हुआ ट्रायल!
Delhi-Ncr News in Hindi

News18Hindi
Updated: December 12, 2019, 5:20 PM IST
तिहाड़ जेल में निर्भया के हत्यारों की फांसी देने का तख्त तैयार, हुआ ट्रायल!
निर्भया मामले के दोषियों के खिलाफ डेथ वारंट जारी कर दिया गया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya Case) के चारों दोषियों को फांसी (Hanging) पर लटकाने की तैयारी शुरू हो चुकी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 12, 2019, 5:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. निर्भया गैंगरेप केस (Nirbhaya Case) के चारों दोषियों को फांसी (Hanging) पर लटकाने की तैयारी शुरू हो चुकी है. सूत्रों का कहना था कि 16 दिसंबर को फांसी दी जा सकती है, लेकिन अचानक इसपर पेच फंसता नजर आ रहा है. दरअसल 17 दिसंबर को चारों दोषियों में से एक दोषी अक्षय की एक अर्जी पर कोर्ट सुनवाई करेगा. लेकिन तिहाड़ जेल (Tihar Jail) प्रशासन ने फांसी देने की सभी तैयारियां कर ली हैं. इसके लिए एक तख़्त तैयार करके एक डमी का ट्रायल भी कर लिया गया है. अभी तक फांसी देने को लेकर जेल प्रशासन के पास कोई लेटर नहीं आया है. निर्भया से दुष्कर्म और हत्या के जुर्म में मौत की सजा पाए दोषी तिहाड़ जेल में बंद हैं.

सात साल पहले 16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ छह दरिंदों ने चलती बस में गैंगरेप किया था. छह में से एक दोषी नाबालिग था जो अब छूट चुका है. वहीं एक आरोपी रामसिंह ने तिहाड़ में ही आत्महत्या कर ली थी. बाकी बचे चार दोषियों को जल्द ही फांसी के फंदे पर लटकाया जा सकता है. सूत्रों का कहना है कि तिहाड़ जेल प्रशासन ने एक डमी में 100 किलो रेत भरकर ट्रायल किया. मकसद यह था कि अगर दोषियों को फांसी दी जाती है तो क्या फांसी देने वाली वो स्पेशल रस्सी इनके वजन से टूट तो नहीं जाएगी. जेल प्रशासन फांसी देते वक्त कोई मौका नहीं देना चाहता.

Nirbhaya-875

तिहाड़ जेल के सूत्रों के मुताबिक, ऐसा नहीं है कि फांसी देने के लिए सारी रस्सी बक्सर से ही मंगाई जाएंगी. तिहाड़ में पांच रस्सी अभी भी हैं. लेकिन हम बक्सर प्रशासन से संपर्क कर रहे हैं. बताया जाता है कि वहां से फांसी देने वाली 11 रस्सी मंगाई जा सकती है. फांसी देने के लिए यूपी, महाराष्ट्र या फिर बंगाल से जल्लाद बुलाया जा सकता है. तिहाड़ की जेल नंबर-3 में फांसी का तख्त है.








ये भी पढ़ें:
अग्निकांड को मजाक न समझते तो बच जाती ज्यादातर वर्करों की जान!


Delhi Fire: सवालों के घेरे में दिल्ली की इंडस्ट्रियल सेफ्टी पॉलिसी, 43 मौतों का जिम्मेदार कौन?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 12, 2019, 3:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,218

     
  • कुल केस

    5,865

     
  • ठीक हुए

    477

     
  • मृत्यु

    169

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (05:00 PM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,134,314

     
  • कुल केस

    1,576,077

    +58,117
  • ठीक हुए

    348,188

     
  • मृत्यु

    93,575

    +5,120
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर