दिल्ली: खुद को कालकाजी मंदिर का पुजारी बताने वाला निकला शराब तस्कर, हुआ गिरफ्तार
Delhi-Ncr News in Hindi

दिल्ली: खुद को कालकाजी मंदिर का पुजारी बताने वाला निकला शराब तस्कर, हुआ गिरफ्तार
सत्यनारायण भारद्वाज लगातार हरियाणा से दिल्ली शराब लाकर बेचने के धंधे से जुड़ा हुआ था.

नार्थ जिला पुलिस की स्पेशल स्टाफ को मंगलवार रात को एक सूचना मिली थी की लाकडाउन (Lockdown) के बीच हरियाणा (Haryana) से अवैध शराब (Liquor) की खेप दिल्ली (Delhi) आने वाली है.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के महत्वपूर्ण और ऐतिहासिक कालकाजी मन्दिर (Kalkaji Temple) के ठेकेदारों के परिवार का एक सदस्य सत्यनारायण भारद्वाज को शराब तस्करी (Liquor Smuggling) के आरोप में नार्थ जिला पुलिस ने गिरफ्तार किया है. सत्यनारायण भारद्वाज खुद को भी पुजारी (Priest) बताता है. नार्थ जिला पुलिस की स्पेशल स्टाफ को मंगलवार रात को एक सूचना मिली थी की लाकडाउन के बीच हरियाणा से अवैध शराब की खेप दिल्ली आने वाली है. जिसके चलते बुराड़ी इलाके की रिंग रोड पर ट्रेप लगाकर जब एक गाड़ी को रोका गया तो उसमे 24 पेटी अवैध शराब के साथ सत्यनारायण भारद्वाज नाम के एक शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया.

जब से लाकडाउन शुरू हुआ है, सत्यनारायण भारद्वाज लगातार हरियाणा से दिल्ली शराब लाकर बेचने के धंधे से जुड़ा हुआ था. वहीं वह 2012 में क्रिकेट मैचों पर सट्टा भी लगाता था. पूछताछ में खुलासा हुआ कि सत्यनारायण भारद्वाज कोई और नहीं बल्कि साउथ ईस्ट जिले के मंदिर कालकाजी मंदिर के ठेकेदारों में से एक है.

पुलिस के मुताबिक सत्यनारायण भारद्वाज के दादा परदादा पहले मंदिर के मुख्य पुजारी थे और ठेकेदार भी और उसी विरासत को सत्यनारायण भी सम्भाल रहा था. सत्यनारायण भारद्वाज और उसका परिवार ही मंदिर के हर काम काज का हर साल ठेका भी देते हैं और उसकी रॉयल्टी भी सत्यनारायण भारद्वाज और उसके परिवार को मिलती है.



चिराग दिल्ली का रहने वाला सत्यनारायण भारद्वाज फिलहाल पुलिस की कस्टडी में है. जहा लगातार पुलिस उससे पूछताछ कर रही है. 50 साल का सत्यनारायण भारद्वाज कालकाजी मंदिर के अलावा जखीरा के मंदिर का भी मुख्य काम देखता था.
ये भी पढ़ें:

अयोध्या ढांचा ध्वंस मामला: अभियोजन की गवाही पूरी, 32 आरोपी कोर्ट में तलब

राजस्थान और MP के बाद झांसी में टिड्डी दल का हमला, 26 साल में पहली बार हुआ ऐसा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज