Home /News /delhi-ncr /

रविदास मंदिर मामला: भीम आर्मी चीफ की गिरफ्तारी पर भड़कीं प्रियंका गांधी, बोलीं- दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं

रविदास मंदिर मामला: भीम आर्मी चीफ की गिरफ्तारी पर भड़कीं प्रियंका गांधी, बोलीं- दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर की गिरफ्तारी पर प्रियंका गांधी वाड्रा ने तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की है.

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर की गिरफ्तारी पर प्रियंका गांधी वाड्रा ने तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की है.

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश पर दिल्ली विकास प्रधिकरण (DDA) ने तुगलकाबाद में संत रविदास (Saint Ravidas) का मंदिर ढहा दिया था. आरोप था कि मंदिर सरकारी ज़मीन पर बना हुआ है.

    दिल्ली में संत रविदास मंदिर (Ravidas Temple) के पुनर्निर्माण की मांग को लेकर दलित संगठनों के प्रदर्शन की पृष्ठभूमि में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) ने गुरुवार को तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की. उन्‍होंने कहा कि दलितों की भावनाओं का आदर किया जाना चाहिए. भीम आर्मी चीफ चन्द्रशेखर (Bhim Army Chief Chandrashekhar) की गिरफ़्तारी पर भड़कीं प्रियंका ने कहा कि दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

    इसके साथ ही प्रियंका गांधी वाड्रा ने भाजपा (BJP) पर निशाना साधते हुए कहा कि दलितों का अपमान बर्दाश्त नहीं किया जा सकता. उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'भाजपा सरकार पहले करोड़ों दलित बहनों-भाइयों की सांस्कृतिक विरासत के प्रतीक रविदास मंदिर स्थल से खिलवाड़ करती है और जब इसके विरोध में देश की राजधानी में हजारों दलित भाई-बहन अपनी आवाज़ उठाते हैं तो उन पर लाठी बरसाती है. उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े जाते हैं और उन्हें गिरफ़्तार किया जाता है.'



    प्रियंका ने कहा, 'दलितों की आवाज़ का यह अपमान बर्दाश्त से बाहर है. यह एक जज़्बाती मामला है और उनकी आवाज का आदर होना चाहिए.'



    सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ढहाया गया था मंदिर
    बता दें कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के आदेश पर दिल्ली विकास प्रधिकरण (DDA) ने तुगलकाबाद में संत रविदास का मंदिर ढहा दिया था. आरोप था कि मंदिर सरकारी ज़मीन पर बना हुआ है. मंदिर ढहाने के बाद से ही बवाल शुरू हो गया. दिल्ली से लेकर हरियाणा, पंजाब, एमपी और राजस्थान समेत अन्‍य राजयों में मंदिर ढहाए जाने के विरोध में प्रदर्शन शुरू हो गए.

    बुधवार को देशभर से संत रविदास के भक्‍तों का जत्था दिल्ली में आ धमका. प्रदर्शन के बाद लौटते हुए भक्तों ने जगह-जगह तोड़फोड़ भी की और वाहनों को आग लगा दी. इसके अलावा प्रदर्शनकारी पुलिस के साथ भी भिड़ते नज़र आए. वहीं, भीम आर्मी के प्रमुख चन्द्रशेखर को हिरासत में भी ले लिया गया.

    दोबारा मंदिर बनाने का फैसला
    सूत्रों की मानें तो प्रदर्शन के बाद तुगलकाबाद में एक बैठक हुई, जिसमें मंदिर को दोबारा से बनाने का निर्णय लिया गया है. निर्माण कार्य शुरू करने के लिए 5 सितम्बर का दिन तय किया गया है. सोशल मीडिया और मोबाइल से संपर्क कर देशभर में फैले संत रविदास के अनुयायियों को इसकी जानकारी देने की तैयारियां शुरू हो गई हैं. सभी से 5 सितम्बर की सुबह तुगलकाबाद पहुंचने का आह्रवान किया जाएगा.

    जरुर पढ़ें: 
    आकिल खान और युवती के वीडियो पर भड़के हरियाणा के हिन्दूवादी संगठन

    बाढ़-भूकंप में राज्यों से आर्मी और एयरफोर्स का बिल वसूलता है यह मंत्रालय

    Tags: Bheem army, Saint Ravidas

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर