राहुल गांधी का तीखा हमला- आतंकी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को बताया देशभक्‍त
Delhi-Ncr News in Hindi

राहुल गांधी का तीखा हमला- आतंकी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को बताया देशभक्‍त
कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि मैं प्रज्ञा ठाकुर पर कार्रवाई की मांग कर अपना वक्त जाया नहीं करना चाहता. (फाइल फोटो)

राष्ट्रपति महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे पर भोपाल सांसद प्रज्ञा ठाकुर (Pragya Singh Thakur) के दिए बयान पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि वह उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग कर अपना वक्त जाया नहीं करना चाहते.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 12:30 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भोपाल से बीजेपी सांसद साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Thakur) बापू के हत्‍‍‍‍‍‍यारे नाथूराम गोडसे को फिर से देशभक्‍त बताकर विवादों में घिर गई हैं. उनके बयान के बाद देश की राजनीति एक बार फिर से गरमा गई है. कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्‍यक्‍त की है. उन्‍होंने ट्वीट किया, 'आतंकी प्रज्ञा ने आतंकी गोडसे को बताया देशभक्‍त. यह भारतीय संसद के इतिहास का सबसे दुखद दिन है.' प्रज्ञा सिंह ठाकुर  के इस बयान से बीजेपी मुश्किल में पड़ गई है और उनके बयान से पल्ला झाड़ रही है. पार्टी के लिए मुसीबत इसलिए आन पड़ी है, क्योंकि प्रज्ञा ने संसद की पटल पर यह बयान दिया है. हालांकि, लोकसभा स्पीकर ने उनके बयान को सदन की कार्यवाही में शामिल नहीं किया है. भोपाल सांसद के बयान को लेकर राजनीति भी गरमा गई है. राहुल गांधी ने उनके बयान पर कहा है कि प्रज्ञा ठाकुर पर कार्रवाई की मांग कर वह अपना वक्त जाया नहीं करना चाहते हैं.





न्यूज एजेंसी एएनआई के ट्वीट के मुताबिक, राहुल गांधी ने कहा, 'प्रज्ञा सिंह ठाकुर जो कह रही हैं, वही बात बीजेपी और आरएसएस के दिल में है. मैं इस पर क्या बोल सकता हूं? यह छुपा नहीं रह सकता. मैं उनपर कार्रवाई की मांगकर अपना वक्त जाया नहीं करना चाहता.' बुधवार को एसपीजी संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान प्रज्ञा ठाकुर ने नाथूराम गोडसे को देशभक्त बता दिया था. उनके इस बयान पर सदन में जमकर हंगामा हुआ. विपक्षी दलों ने उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की.

लोकसभा में भी प्रज्ञा के इस बयान के बाद कांग्रेस के कई सदस्यों ने आपत्ति जताई और यह आरोप लगाते हुए सुने गए कि उन्हें (प्रज्ञा) प्रधानमंत्री का संरक्षण मिला हुआ है. इस दौरान संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी भोपाल से भाजपा सदस्य प्रज्ञा को बैठने का इशारा करते नजर आए. वहीं कुछ और बीजेपी सांसदों ने भी उन्‍हें बैठने का इशारा किया. लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कांग्रेस सदस्यों से बैठने की अपील करते हुए कहा कि सिर्फ ए राजा की बात रिकॉर्ड में जा रही है. प्रज्ञा सिंह पहले भी गोडसे को 'देशभक्त' बता चुकी हैं, जिसको लेकर विवाद खड़ा हो गया था.



Pragya Thakur BJP
प्रज्ञा ठाकुर ने एक बार फिर से नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया है.


साध्वी ने लोकसभा चुनाव में भी गोडसे को बताया था देशभक्त
इसी साल मई में हुए लोकसभा चुनाव के दौरान प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने भोपाल में एक पत्रकार से बात करते हुए नाथूराम गोडसे को देशभक्त करार दिया था. इस बयान पर उनकी काफी आलोचना हुई थी. बाद में उन्‍होंने माफी मांग ली. उस वक्‍त प्रज्ञा ठाकुर ने कहा था, 'नाथूराम गोडसे देशभक्‍त थे, देशभक्‍त हैं और देशभक्‍त रहेंगे.' प्रज्ञा ने कहा था कि 'नाथूराम गोडसे को आतंकवादी कहने वाले लोग अपने गिरेबां में झांक कर देखें. ऐसे लोगों को इस चुनाव में जवाब दे दिया जाएगा.'




हालांकि, उन्‍होंने इस मामले पर विवाद बढ़ने के बाद उसी दिन माफी मांग ली थी. प्रज्ञा ने ट्वीट किया था, 'मैं नाथूराम गोडसे के बारे में दिए गए मेरे बयान के लिए देश की जनता से माफ़ी मांगती हूं. मेरा बयान बिलकुल ग़लत था. मैं राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी का बहुत सम्मान करती हूं.'

पीएम मोदी ने कहा था कभी माफ नहीं कर पाऊंगा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्यारे पर दिए गए विवादित बयान पर कड़ा ऐतराज जताया था. एक निजी चैनल को दिए साक्षात्कार में पीएम मोदी ने कहा था कि वह साध्वी प्रज्ञा को कभी मन से माफ नहीं कर पाएंगे. मोदी ने कहा था कि ऐसे सभी बयान पूरी तरह गलत हैं.

 

ये भी पढ़ें-

प्रज्ञा ठाकुर को भारी पड़ा गोडसे पर बयान, मंत्रालय की संसदीय समिति से हटाई गईं

OPINION: विवादित बयानों से बीजेपी के लिए मुसीबत बन गई हैं प्रज्ञा ठाकुर
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading