Indian railway : ट्रेनों में रिजर्व पैसेंजरों की संख्‍या डेढ़ गुना बढ़ी, रेलवे ने ट्रेनों का संचालन नॉर्मल होने के दिए संकेत

रिजर्व पैसेंजरों की संख्‍या बढ़कर 13 लाख पहुंची.

रिजर्व पैसेंजरों की संख्‍या बढ़कर 13 लाख पहुंची.

रेलवे मंत्रालय ने ट्रेनों का संचालन धीरे-धीरे सामान्‍य होने के संकेत दिए हैं. रेलवे बोर्ड के चेयरमैन के अनुसार रिजर्व पैसेंजरों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है. इस वजह से स्‍पेशल मेल व एक्‍सप्रेस की संख्‍या भी बढ़ाई जा रही है.

  • Share this:

नई दिल्‍ली. ट्रेनों में रिजर्व (Reserve) पैसेंजरों (Passenger) की संख्‍या अप्रैल के मुकाबले करीब डेढ़ गुना बढ़ी है. पैसेंजरों की बढ़ती संख्‍या को देखते हुए रेलवे मंत्रालय (Ministry of Railways) ट्रेनों (Train) की संख्‍या भी बढ़ा रहा है. मंत्रालय के अनुसार धीरे धीरे ट्रेनों का संचालन सामान्‍य हो रहा है और मांग के अनुसार ट्रेनों की संख्‍या बढ़ाई जा रही है. मौजूदा समय में 889 स्‍पेशल मेल और एक्‍सप्रेस ट्रेनें चल रही हैं. इसके साथ ही पैसेंजर और सबरबन ट्रेनें भी चल रही हैं.

रेलवे बोर्ड के सीईओ और चेयरमैन सुनीत शर्मा के अनुसार 'पिछले दो माह में ट्रेनों में रिजर्व पैसेंजरों की संख्‍या बढ़ी है. पहले यह संख्‍या रोजाना करीब 5 लाख होती थी, लेकिन अब बढ़कर 13 लाख हो गई है. इस तरह धीरे धीरे ट्रेनों का संचालन सामान्‍य हो रहा है. हालांकि अभी कुछ राज्‍यों में लॉकडाउन चल रहा है, उन राज्‍यों से कोआर्डिनेट कर ही ट्रेनों का संचालन किया जा रहा है.'

चल रही हैं 889 स्‍पेशल मेल और एक्‍सप्रेस ट्रेनें

कोरोना की दूसरी लहर से पहले रोजाना 1500 के करीब स्‍पेशल मेल और एक्‍सप्रेस ट्रेनें चलती थीं. पूर्व में यह संख्‍या कम हो गई थी, लेकिन अब दोबारा यह संख्‍या बढ़कर 889 पहुंच चुकी है. इसके अलावा 2891 सबरबन यानी लोकल ट्रेन और 479 पैसेंजर ट्रेनों का संचालन भी हो रहा है. इस बीच मांग के अनुसार करीब 500 अतिरिक्‍त ट्रेनों का संचालन किया गया है. डिमांड अधिक होने पर 26 क्‍लोन ट्रेनें भी चलाई गई हैं.
इन शहरों के लिए है अधिक ट्रेनों की डिमांड

सीईओ और चेयरमैन सुनीत शर्मा ने बताया कि अगले दो माह में रिजर्व पैसेंजरों की संख्‍या बढ़ी है, जो अच्‍छे संकेत हैं. इस तरह ट्रेनों का संचालन धीरे-धीरे नॉर्मल हो रहा है. इस दौरान अधिक ट्रेनों की डिमांड गोरखपुर, पटना, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, वाराणसी, गुवाहाटी, मडुआडीह, बरौनी, प्रयागराज, बोकारो, रांची, लखनऊ और कोलकाता आदि  शहरों के लिए रही है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज