Home /News /delhi-ncr /

दिल्‍ली: बेटे की मौत से उबरने की कोशिश कर रहा परिवार 7 साल की मासूम के साथ हुए रेप से टूटा, आरोपी गिरफ्तार

दिल्‍ली: बेटे की मौत से उबरने की कोशिश कर रहा परिवार 7 साल की मासूम के साथ हुए रेप से टूटा, आरोपी गिरफ्तार

रेप की शिकार सात साल की बच्‍ची की हालत गंभीर बनी हुई है. (सांकेतिक फोटो)

रेप की शिकार सात साल की बच्‍ची की हालत गंभीर बनी हुई है. (सांकेतिक फोटो)

Minor Girl Rape in Delhi: दिल्‍ली के रंजीत नगर इलाके में 22 अक्‍टूबर को सात साल की बच्‍ची के साथ हुए रेप के मामले में पुलिस ने एक 20 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार किया है. वहीं, आरोपी इससे पहले भी एक नाबालिग लड़की से कथित रूप से छेड़छाड़ करने के आरोप जेल जा चुका है. वहीं, रेप की शिकार बच्‍ची के सात साल के भाई की पिछले साल हुई मौत से परिवार सदमे में चल रहा था.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. देश की राजधानी दिल्‍ली के रंजीत नगर इलाके में 22 अक्‍टूबर को सात साल की बच्‍ची के साथ हुए रेप (Minor Girl Rape in Delhi) के मामले में 20 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार किया है. दिल्‍ली पुलिस (Delhi Police) ने उसे हरियाणा के कलानौर से गिरफ्तार किया है. यही नहीं, इससे पहले वह एक नाबालिग लड़की से कथित रूप से छेड़छाड़ करने के आरोप में जेल गया था और कुछ समय पहले जमानत पर छूटा था. वहीं, दिल्‍ली पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के लिए 50 सीसीटीवी कैमरे खंगालने के बाद डोर टू डोर उसकी पहचान की कवायद की थी.

    दिल्‍ली पुलिस के मुताबिक, यह घटना शुक्रवार की है, जब लड़की अपने घर के बाहर खेल रही थी, तब आरोपी ने उसे मिठाई खरीदने का लालच दिया था. साथ ही पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि इस दौरान वह दो अन्‍य बच्‍चों को भी फॉलो कर रहा था, लेकिन वे अपने घर में घुस गए. इस दौरान आरोपी सात साल की बच्‍ची को फॉलो करता रहा है और फिर वह लालच में आकर उसके साथ चली गई. इसके बाद आरोपी ने एक कमरे में ले जाकर उसके साथ रेप करने के साथ किसी को कुछ नहीं बताने की हिदायत दी थी. यही नहीं, रेप के बाद आरोपी ने बच्‍ची को उसके घर के पास भी छोड़ा था. इसके बाद मासूम ने अपनी मां को आपबीती बताई थी. फिर बच्‍ची की मां ने उसके पिता को पूरा मामला बताया, तो वह भागा भागा घर आया. वहीं, उसने पुलिस को सूचना दी.

    दर्द से कराहती बच्‍ची को लेकर पांच अस्‍पताल भटकता रहा पिता
    यही नहीं, दर्द से कराहती बेटी को लेकर बेबस पिता दिल्ली के 5 नामचीन अस्पतालों के बीच करीब 15 किमी और ढाई घंटे तक चक्कर काटता रहा, लेकिन इलाज देने के बजाय उसे दूसरे अस्पतालों में टरकाया जाता रहा. वह पहले सरदार पटेल अस्पताल गया, लेकिन यहां खून से लथपथ बच्ची को भर्ती नहीं किया गया. इसके बाद वह लेडी हार्डिंग अस्पताल, फिर कलावती और फिर लेडी हार्डिंग एंबुलेंस भटकता रहा. आखिर में डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में मासूम को भर्ती कराया गया और अभी बच्‍ची की हालत नाजुक बनी हुई है. वह सुबह साढे दस बजे से भटक रहा था और दोपहर करीब 1:30 से मासूम को भर्ती करवा सका.

    बेटे की मौत से उभरा नहीं था रिक्शा चालक पिता कि…
    जानकारी के मुताबिक, सात साल की बच्‍ची का पिता माल ढोने वाला रिक्शा चलाता है. वहीं, मां घरों में साफ-सफाई का काम करती है. जबकि बच्ची की 11 महीने की एक छोटी बहन भी है. वहीं, पिछले साल दिल में छेद होने की वजह से सात साल के बेटे की मौत हो गई थी, जिसने ऑपरेशन के बाद जीबी पंत अस्पताल में दम तोड़ दिया था. बच्‍ची के पिता ने बताया कि वह शुक्रवार सुबह गुरुद्वारे में लंगर लेने गई थी. उसने एक बार लंगर लेकर घर पहुंचाया और उसके बाद दोबारा चली गई. इसके बाद वापस लौटने पर खून से लथपथ थी. वहीं, इस घटना के बाद बच्‍ची का परिवार टूट गया है, तो मां का रो रोकर बुरा हाल है.

    दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस को दिया नोटिस
    दिल्ली महिला आयोग ने 7 साल की बच्ची से रेप के मामले में दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है. आयोग को 22 अक्‍टूबर को दिल्ली के रंजीत नगर इलाके में एक बच्ची के साथ रेप की सूचना मिली थी. डीसीडब्ल्यू अध्यक्ष स्‍वात‍ि मालीवाल (Swati Maliwal) ने मामले पर संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी तत्काल कार्रवाई करने का न‍िर्देश भी द‍िया.मालीवाल ने कहा क‍ि मैं इस घटना से बहुत दु:खी हूं. यह बड़ी चिंता और शर्म की बात है कि हमें छोटे बच्चों के साथ बार-बार होने वाले यौन हमले के ऐसे मामलों से गुजरना पड़ रहा है. यह व्यवस्था की पूर्ण विफलता है जो छोटी बच्चियों के साथ दुष्‍कर्म के मामलों को रोकने में असमर्थ है.

    Tags: Delhi police, Delhi Police Commissioner, Delhi Rape Case, Minor girl rape, Minor Girl Rape Case, Rape Case

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर