जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन रोकने वाले फैसले पर फिर हो विचार: आप
Delhi-Ncr News in Hindi

जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन रोकने वाले फैसले पर फिर हो विचार: आप
दिल्ली स्थित जंतर-मंतर (Image: Getty Images)

एक याचिका पर एनजीटी ने जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन एवं भाषणों को तुरंत बंद करने का फैसला सुनाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2017, 11:53 PM IST
  • Share this:
आम आदमी पार्टी का मानना है कि हाल ही में जंतर-मंतर पर धरना-प्रदर्शन रोकने वाले एनजीटी के फ़ैसले का फिर से विचार होना चाहिए. पार्टी ने एक बयान जारी कर कहा है कि यह दशकों पुरानी जगह है, जहां से वो आवाज़ बुलंद होती है जिसे सत्ता के गलियारों में बैठे लोग या फिर अधिकारी नहीं सुनते.

पार्टी कार्यालय में आयोजित प्रेस कांफ्रेस में राष्ट्रीय प्रवक्ता दिलीप पांडे ने कहा कि जिस तर्क के आधार पर प्रदर्शन की जगह को स्थानांतरित करने का फ़ैसला दिया गया है, उसकी गहराई से समीक्षा बेहद ज़रुरी है. रामलीला मैदान के रूप में नई जगह ज्यादा रिहायशी है. जंतर-मंतर के मुकाबले वहां ज्यादा लोग रहते हैं.

पांडे ने कहा कि हम एनजीटी के हर उस प्रयास का सम्मान करते हैं जिससे पर्यावरण को स्वच्छ बनाने में सहायता मिलती हो, लेकिन जंतर-मंतर के इस फ़ैसले पर हमारा मत है कि इस पर दोबारा विचार हो. आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार, एनडीएमसी और दिल्ली पुलिस से गुहार है कि वो इसकी मांग करे. आम आदमी पार्टी का भी उदय जंतर-मंतर से ही हुआ था.



मालूम हो कि स्‍थानीय लोगों की एक याचिका पर एनजीटी ने यहां धरना-प्रदर्शन एवं भाषणों को तुरंत बंद करने का फैसला सुनाया है. आंदोलनकारियों को वैकल्‍पिक धरना स्‍थलों रामलीला मैदान या अजमेरी गेट पर शिफ्ट करने का आदेश दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading