Assembly Banner 2021

लाल किला हिंसा: आरोपी दीप सिद्धू की जमानत पर 12 अप्रैल को सुनवाई, पढ़ें- वकील ने क्या-क्या दी दलीलें

(सांकेतिक फोटो)

(सांकेतिक फोटो)

Delhi Red Fort Case: दिल्ली में लाल किला हिंसा मामले में दिल्ली की कोर्ट ने पुलिस को कहा कि जो भी वीडियो आपके पास हैं, उन सबकी ट्रांसक्रिप्ट फ़ाइल करें. दीप सिद्धू की जमानत पर सुनवाई अब 12 अप्रैल को होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 8, 2021, 12:00 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. 26 जनवरी को दिल्ली में लाल किला पर हिंसा मामले में आरोपी दीप सिद्धू के जमानत मामले की अगली सुनवाई 12 अप्रैल को होगी. कोर्ट ने पुलिस को कहा कि जो भी वीडियो आपके पास हैं, उन सबकी ट्रांसक्रिप्ट फ़ाइल करें. हिंसा मामले में आरोपी दीप सिद्धू (Deep Siddhu) की जमानत याचिका पर गुरुवार को सुबह 10 बजे दिल्ली की तीस हजारी कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई थी. दीप सिद्धू के वकील अभिषेक गुप्ता ने कहा कि दीप सिद्धू किसी भी किसान संगठन से जुड़े हुए नहीं हैं. ट्रैक्टर रैली के लिए उनकी तरफ से कोई भी घोषणा या आह्वान नहीं किया गया था या लाल किले जाने के लिए भी नहीं कहा था.

दीप सिद्धू के वकील अभिषेक गुप्ता ने कहा ऐसे कोई सबूत नहीं है कि दीप सिद्धू ने बैरिकेड को तोड़ा और लाल किले में हुई हिंसा में शामिल था. पहले हम को यह समझने की जरूरत है कि दीप सिद्धू के खिलाफ एफआईआर में क्या कहा गया है. एफआईआर में आईपीसी की धाराओं के अलावा आर्म्स एक्ट भी जोड़ा गया है. एफआईआर में कहा गया है कि 26 जनवरी के दिन 12:00 बजे के आसपास 1000 लोगों ने लाल किले की तरफ ट्रैक्टर रैली शुरू कर दी. रास्ते में पड़ने वाले कई बैरिकेडिंग को तोड़ा गया. पुलिस के ऊपर ट्रैक्टर चलाने की कोशिश की गई. 12:15 बजे के आसपास 1500 लोगों ने लाहौरी गेट के पास बैरिकेडिंग तोड़ी और हिंसा की जिसको लाल किला हिंसा कहा जाता है.

देर से पहुंचा था दीप सिद्धू

आगे पढ़ें
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज