अपना शहर चुनें

States

Red Fort Violence: दिल्ली पुलिस ने देशद्रोह और UAPA के तहत दर्ज किया केस, SIT करेगी जांच

हिंसा के मामले में देशद्रोह और UAPA के तहत केस दर्ज कर लिया है. (ANI)
हिंसा के मामले में देशद्रोह और UAPA के तहत केस दर्ज कर लिया है. (ANI)

Republic Day Violence: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने हिंसा के मामले में देशद्रोह और UAPA के तहत केस दर्ज कर लिया है. इसके साथ ही दिल्ली पुलिस ने मामले की जांच स्पेशल सेल को सौंपी दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:32 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान लाल किला समेत कई जगहों पर हुई हिंसा के मामले बड़ी कार्रवाई की गई है. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने हिंसा के मामले में देशद्रोह और UAPA के तहत केस दर्ज कर लिया है. इसके साथ ही दिल्ली पुलिस ने मामले की जांच SIT को सौंपी दी है. एसआईटी का निर्माण दिल्ली पुलिस कमिश्नर के आदेश पर किया गया है. इसमें क्राइम ब्रांच के भी अधिकारी शामिल हैं. बताया जा रहा है कि एसआईटी में दिल्ली पुलिस के तेज तर्रार अफसरों को शामिल किया गया है. दिल्ली पुलिस की इस कदम से अब किसान आंदोलन से जुड़े नेताओं की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. 26 जनवरी की घटना के बाद अब दिल्ली पुलिस ने देशद्रोह और UAPA के तहत केस दर्ज कर लिया है. दिल्ली पुलिस से जुड़ी अधिकारियों के मुताबिक, यूएपीए के तहत जो केस दर्ज किए गए हैं, उसमें जिन जगहों पर हिंसा हुई है उन सबकी जांच की जाएगी.

केंद्र सरकार के नए कृषि कानून के खिलाफ चल रहे आंदोलन की वजह से दिल्ली से सटे कुछ बॉर्डर एहतियात के तौर पर बंद कर दिए गए थे. इस वजह से राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था. राजधानी में गाजियाबाद के रास्ते आने वाले लोगों के लिए राहत की खबर है. जानकारी के मुताबिक, नेशनल हाईवे-24  सुचारू रूप से शुरू हो गया है. एएनआई के एक ट्वीट के मुताबिक, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने बताया कि गाजियाबाद से दिल्ली जुड़ने वाला एनएच -24 खोल दिया गया है. वहीं नए कृषि कानूनों को लेकर करीब दो महीने से चिल्ला बॉर्डर पर धरना दे रहे भारतीय किसान यूनियन ने बुधवार से अपना धरना वापस ले लिया.





सरेंडर नहीं करेंगे राकेश टिकैत
गाजियाबाद प्रशासन ने किसानों को यूपी गेट धरना स्थल खाली करने के लिए अल्टीमेटम दे दिया है. माना जा रहा है कि आज किसान धरना स्थल खाली कर सकते हैं. जिला मजिस्ट्रेट अजय शंकर पांडेय सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी एवं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद है. तो वहीं किसान भी वापस यूपी गेट की ओर लौट रहे हैं. किसान धरना खत्म करने के पक्ष में नहीं है. इसके साथ ही खबर आ रही है कि किसान नेता राकेश टिकैत सरेंडर करने की बात से साफ तौर पर इनकार कर दिया है.

ये भी पढ़ें: Delhi News: ट्रैफिक पुलिस ने खोला NH-24, दिल्ली-गाजियाबाद रूट पर आवाजाही बहाल 

प्रहलाद पटेल ने दिया बड़ा बयान

प्रहलाद पटेल का बयान आप दिल्ली लालकिला वाली खबर में जोड़ सकते हैं. प्रहलाद पटेल का कहना है कि कल मैं उच्च अधिकारियों के साथ लाल किले गया था. कल देर तक रिपोर्ट आई थी, उस रिपोर्ट के आधार पर अब FIR की प्रक्रिया चल रही है. काफी चीजों को हिंसा के द्वारा नुकसान पहुंचाया गया है. मैं विश्वास करता हूं कि पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज