अपना शहर चुनें

States

स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण में रेवाड़ी दूसरे तो गुरुग्राम रहा 5वें स्थान पर

गुरुग्राम 5वें स्थान पर रहा
गुरुग्राम 5वें स्थान पर रहा

जिलों की बात करें तो स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण में पूरे देश के सभी जिलों में गुरुग्राम को पांचवां स्थान मिला जबकि रेवाड़ी जिला देश में दूसरे स्थान पर रहा और करनाल को सातवां स्थान मिला.

  • Share this:
स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण में गुरुग्राम जिले को देश के सभी जिलों में पांचवां स्थान मिला है. इस उपलब्धि पर केंद्रीय पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री उमा भारती ने गांधी जयंती पर दिल्ली में आयोजित कार्यक्रम में गुरुग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह को अवॉर्ड भेंट किया. स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण अगस्त माह में किया गया था. इसमें पूरे देश के राज्यों में हरियाणा प्रथम स्थान पर रहा है जिसके लिए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को आज राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अवार्ड दिया गया.

जिलों की बात करें तो स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण में पूरे देश के सभी जिलों में गुरुग्राम को पांचवां स्थान मिला जबकि रेवाड़ी जिला देश में दूसरे स्थान पर रहा और करनाल को सातवां स्थान मिला. गुरुग्राम के उपायुक्त विनय प्रताप सिंह ने इस उपलब्धि के लिए जिला की ग्राम पंचायतों को श्रेय देते हुए कहा कि इस सर्वेक्षण से यह पता चलता है कि शहरों की अपेक्षा हमारे गांव ज्यादा स्वच्छ है.

एमडीयू को मिला देश के सबसे स्वच्छ विश्वविद्यालय का अवार्ड



सिंह ने जिला की पंचायतों से अपील की है कि इस उपलब्धि पर भी हमें संतोष करके रुकना नहीं है बल्कि और ज्यादा मेहनत करके अपने गांवों को और अधिक साफ और सुंदर बनाना है ताकि अगली बार जब स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण हो तो गुरुग्राम जिला देश में पहले स्थान पर आए. उन्होंने गुरुग्राम जिला की ग्राम पंचायतों की क्षमता पर विश्वास जताते हुए कहा कि हमारी पंचायते और भी अच्छा कर सकती हैं, उन्हें अब स्वच्छता का महत्व पता चल गया है.
उन्होंने कहा कि अगली बार स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण में जिला की रैंकिंग को और सुधारने के लिए ग्राम पंचायतों का अधिकारियों द्वारा मार्गदर्शन भी किया जाएगा, जिसमें उन्हें बताया जाएगा कि वे अपने गांव को  स्वच्छ व सुंदर बनाने के लिए  और क्या कर सकते हैं. हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई गांवों की  सात सितारा इंद्रधनुष योजना में भी जिला के ज्यादा से ज्यादा गांवों को चार और इससे ज्यादा स्टार प्राप्त करने के लिए प्रेरित किया जाएगा.

उन्होंने कहा कि हमारे गांव  शहरों से  ज्यादा सोच है  और इस बात की पुष्टि  इसी तथ्य से होती है कि स्वच्छ भारत शहरी सर्वेक्षण में हरियाणा प्रदेश के करनाल जिला को 41 वां स्थान मिला था जबकि स्वच्छ भारत ग्रामीण सर्वेक्षण में करनाल देश में सातवें स्थान पर रहा है।

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज