होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

RIP Raju Srivastav: दिल्ली में आज पंचतत्व में विलीन होंगे कॉमेडी किंग, निगम बोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार

RIP Raju Srivastav: दिल्ली में आज पंचतत्व में विलीन होंगे कॉमेडी किंग, निगम बोध घाट पर होगा अंतिम संस्कार

राजू श्रीवास्तव का नई दिल्ली स्थित AIIMS में 21 सितंबर को निधन हो गया.

राजू श्रीवास्तव का नई दिल्ली स्थित AIIMS में 21 सितंबर को निधन हो गया.

RIP Raju Srivastav: लंबे दिन चले इलाज में कुछ पल के लिए दो-तीन बार राजू श्रीवास्तव के शरीर में हलचल महसूस की गई. ज्यादातर वह कोमा में ही रहे. 42 दिन तक वेंटिलेटर पर रहे. बुधवार सुबह उनका निधन हो गया.

  • News18India
  • Last Updated :

दिल्ली. सबको हंसाने वाले कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव गुरुवार को पंचतत्व में विलीन हो जाएंगे. गुरुवार को द्वारिका के सेक्टर 1 से आठ बजे के करीब उनकी शव यात्रा निकलेगी. लगभग 10 बजे निगम बोध घाट पर मुखाग्नि दी जाएगी. यह जानकारी भतीजे मृदुल श्रीवास्तव ने दी है. राजू श्रीवास्तव की मृत्यु बुधवार को एम्स दिल्ली में इलाज के दौरान हुई.

कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव को 10 अगस्त को हार्ट अटैक हुआ था. वह घर  में वर्कआउट कर थे. इस दौरान चेस्ट पेन होने पर उन्हें दिल्ली एम्स लाया गया. यहां पर डॉक्टरों ने जांच में हार्ट अटैक पाया गया. इसके बाद डॉक्टरों ने कैथ लैब में शिफ्ट किया और राजू श्रीवास्तव की एंजियोप्लास्टी की. उनके हार्ट की धमनी में दो स्टंट डाले. स्टंट पड़ने के बाद राजू श्रीवास्तव के हृदय में रक्त आपूर्ति सही हो गई, मगर बीपी की समस्या लंबे दिनों तक बनी रही. इस दौरान बीपी कंट्रोल करने की दवा चली. करीब सप्ताह भर बाद बीपी कंट्रोल हुआ.

 हार्ट अटैक का असर ब्रेन पर पड़ा

हार्ट अटैक से भर्ती हुए राजू श्रीवास्तव के ब्रेन में सूजन आ गई है. मेडिकल की भाषा में इसे सेरेब्रल एडिमा कहते हैं. यह समस्या किसी भी व्यक्ति को तब होती है, जब उसके मस्तिष्क के चारों ओर फ्ल्यूड बनने लगता है. इस फ्ल्यूड के कारण दिमाग पर प्रेशर पड़ने लगा. इस प्रेशर को इंट्राक्रैनियल प्रेशर कहते हैं, जिसकी वजह से मस्तिष्क में सूजन आ गई. इससे मस्तिष्क में ऑक्सीजन और ब्लड सर्कुलेशन बाधित होने लगता है. डॉक्टर दवाओं के जरिये सूजन पर कंट्रोल पाने की कोशिश करते रहे. मगर, उन्हें कोमा से उबर नहीं सके. लंबे दिन चले इलाज में कुछ पल के लिए दो-तीन बार राजू श्रीवास्तव के शरीर में हलचल महसूस की गई. ज्यादातर वह कोमा में ही रहे. 42 दिन तक वेंटिलेटर पर रहे. बुधवार सुबह उनका निधन हो गया.

Tags: Aiims delhi, Raju Srivastav

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर