• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Delhi-NCR की पुलिस के लिए सिरदर्द हैं ये टॉप-10 गैंग, जानें इनके बारे में

Delhi-NCR की पुलिस के लिए सिरदर्द हैं ये टॉप-10 गैंग, जानें इनके बारे में

दिल्ली में 10 गैंग ऐसे हैं जो दिल्ली-एनसीआर पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हें.

दिल्ली में 10 गैंग ऐसे हैं जो दिल्ली-एनसीआर पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हें.

Gangs In Delhi: दिल्ली में लगातार कुख्यात बदमाशों ने अपने गैंग को बढ़ाने के लिए आतंक फैलाया है. इनमें 10 गैंग ऐसे हैं जिन्होंने लोगों के साथ ही पुलिस की नाक में भी दम किया था. इन्हीं गैंग के लोगों पर ‌एक विस्तृत रिपोर्ट.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. रोहिणी कोर्ट (Rohini Court) के अंदर हुई गैंगवार (Gangwar) ने एक बार फिर दिल्ली में मुम्बई (Mumbai) की तर्ज पर गैंगवार के ट्रेंड की चर्चाओं को हवा दे दी है.  गैंगवार का यह कोई पहला मौका नहीं है. खुद गोगी गैंग ने रवि भारद्वाज को 15 गोलियां दागकर मौत के घाट उतार दिया था. गोगी और टिल्लू गैंग (Gogi-Tillu Gang) कई बार आपस में टकरा चुके हैं. आज कोर्ट में हुई गैंगवार में भी टिल्लू गैंग का नाम सामने आ रहा है. नीरज बवाना गिरोह (Gang) से नीतू दाबोदा गैंग की अदावत, नासिर गैंग और छेनू गिरोह, कभी साथ मिलकर यारबासी करने वाले मंजीत महल और विकास दलाल की रंजिश भी किसी से छिपी नहीं है. इसी गैंगवार के चलते दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में एक्टिव 10 से ज्यादा गैंग पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हैं.

  1. गोगी गैंग

सरगना-  जितेंद्र गोगी

इनाम- 7 लाख

सदस्य-  24-25 लोग, अभी सरगना समेत पांच जेल में हैं, बाकी बाहर.

मामले-  हत्या के 12, 24 लूटपाट.

सबसे चर्चित कांड : 2009 में दिल्ली के अलीपुर में कांस्टेबल समेत चार की हत्या की थी.

सबसे ताजा कांड : 15 जनवरी 2018 को रोहिणी कोर्ट के पास मोनू उर्फ नेपाली की गोली मारकर हत्या की थी.

  1. टिल्लू गैंग

सरगना-  सुनील मान

सदस्य-  20 लोग, 3 जेल में, बाकी बाहर.

मामले-  हत्या के 10, 24 चोरी, लूटपाट

सबसे चर्चित कांड-  2015 में रोहिणी में अरुण कमांडो की हत्या की थी, 2017 में अलीपुर में अंकित नाम के शिक्षक की गोली मारकर हत्या की थी.

सबसे ताजा कांड-  सितंबर 2017 में गोगी गैंग के गुर्गे दीपक उर्फ बंटी की गोली मारकर हत्या की थी.

Delhi Court Gangwar: AK-47 से लैस कमांडो से घिरे गोगी की तब एक वीडियो से बची थी जान, जानें पूरा मामला 

  1. छेनू गैंग

सरगना-  छेनू

सदस्य-  14 लोग, 4 जेल में, बाकी बाहर.

मामले-  हत्या के 6 और 1 दर्जन केस

सबसे चर्चित कांड-  23 दिसंबर 2015 को नासिर गैंग ने छेनू पर कड़कड़डूमा कोर्ट में गोलियां चलाई थीं, छेनू बच गया था, 1 कांस्टेबल की मौत होई थी.

सबसे ताजा कांड-  दिसंबर 2017 में नासिर गैंग ने छेनू गैंग के कमर और उसके साथी इमरान की हत्या की थी.

  1. किशन पहलवान गैंग

सरगना : किशन पहलवान

सदस्य : 20 लाेग, 4 जेल में बाकी बाहर.

मामले : हत्या के 11, 1 दर्जन से ज्यादा अन्य

  1. फज्जा गैंग

सरगना : कुलदीप फज्जा

सदस्य : 12 लोग, 2 जेल में बाकी बाहर.

मामले : हत्या के 11, 1 दर्जन से ज्यादा अन्य

– गोगी गैंग का गुर्गा रहा है.

– दिल्ली यूनिवर्सिटी से साइंस ग्रैजुएट है और किसान का बेटा है.

– 2014 में विरोधी गैंग के विकास की हत्या कर चर्चा में आया था कुलदीप.

  1. खत्री गैंग

सरगना : सुरेन्द्र उर्फ समुंद्र खत्री

इनाम- 4 लाख

सदस्य : 15 से 20 लोग सदस्य हैं.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

– 2015 में तिहाड़ जेल से पैरोल पर बाहर आया.

– जेल से बाहर आते ही दिल्ली और हरियाणा में एक-एक पुलिस वाले की हत्या कर दी.

  1. बाबा गैंग

सरगना : हाशिम बाबा

इनाम- 50 हजार.

सदस्य : 10 से 15 लोग सदस्य हैं.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

– जेल से पैरोल पर बाहर आने के बाद दोबारा जेल नहीं गया.

– उत्तर-पूर्वी दिल्ली में आतंक का पर्याय बन चुका है.

– 2017 में विरोधी छेनू इरफान हाशिम बाबा के कई साथियों की हत्या कर चुका है.

– बाबा लगातार छेनू के आदमियों को मारने की फिराक में रहता है.

  1. लाकरा गैंग.

सरगना : संय लाकरा.

इनाम- 2 लाख.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

चर्चित कांड- ऑनर किलिंग के बाद से सुर्खियों में आया.

– किशन पहलवान के गैंग में काम करने से शुरुआत की थी.

– जमानत मिलने के बाद फरार हो गया और दोबारा जेल में नहीं लौटा.

– हत्या और लूट के दर्जनों मामलों में वॉन्टेड है.

  1. ढिल्लू गैंग.

सरगना : संदीप ढिल्लू.

इनाम- 2 लाख.

मामले : हत्या और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

चर्चित कांड- नजफगढ़ इलाके में प्रदीप उर्फ बांके की हत्या.

– फरवरी 2018 में दिल्ली पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया.

  1. ठेकेदार गैंग.

सरगना : महेश ठेकेदार.

इनाम- 2 लाख.

मामले : अपरहण और लूट के दर्जनों केस दर्ज हैं.

चर्चित कांड- अपरहण के एक मामले में 50 करोड़ रुपये की फिरौती मांगी थी.

– मंजीत डबास के साथ निगम के एक पूर्व पार्षद के पुत्र का अपरहण कर चर्चा में आया.

– फरवरी 2018 में दिल्ली पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज