• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • रोहिणी कोर्ट शूटआउट: दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने घटनास्थल का किया दौरा, मौका-ए-वारदात का किया मुआयना

रोहिणी कोर्ट शूटआउट: दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने घटनास्थल का किया दौरा, मौका-ए-वारदात का किया मुआयना

वहीं, घटना की जांच कर रही अपराध शाखा (Crime Branch) की टीम भी घटनास्थल का फिर से निरीक्षण करने के लिए अदालत कक्ष गई है . (File Photo)

वहीं, घटना की जांच कर रही अपराध शाखा (Crime Branch) की टीम भी घटनास्थल का फिर से निरीक्षण करने के लिए अदालत कक्ष गई है . (File Photo)

रोहिणी अदालत (Rohini Court) के एक कक्ष में शुक्रवार को की गई गोलीबारी में जेल में बंद गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी और दो हमलावर मारे गए थे. वीडियो फुटेज ने व्यवस्था में सुरक्षा खामियों को उजागर किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस कमिश्नर राकेश अस्थाना (Delhi Police Commissioner Rakesh Asthana) ने रविवार को रोहिणी अदालत का दौरा (visit Rohini court) किया. दो दिन पहले ही अदालत कक्ष में की गई गोलीबारी में तीन गैंगस्टर मारे गए थे. अधिकारियों ने बताया कि पुलिस प्रमुख ने मौका-ए-वारदात का मुआयना किया. पुलिस के मुताबिक, घटना की जांच कर रही अपराध शाखा (Crime Branch) की टीम भी घटनास्थल का फिर से निरीक्षण करने के लिए अदालत कक्ष गई है .

    रोहिणी अदालत के एक कक्ष में शुक्रवार को की गई गोलीबारी में जेल में बंद गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी और दो हमलावर मारे गए थे. वीडियो फुटेज ने व्यवस्था में सुरक्षा खामियों को उजागर किया है. इनमें दिख रहा है कि अदालत कक्ष संख्या 207 के अंदर से गोलीबारी की आवाज़ आने पर पुलिस कर्मी और वकील भाग रहे हैं.

    सुरक्षा के बंदोबस्त चाक-चौबंद करने की सलाह दी
    वहीं, कल खबर सामने आई थी कि मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) एनवी रमना (NV Ramana) ने रोहिणी कोर्ट परिसर में वकीलों के ड्रेस में दो अपराधियों द्वारा खुलेआम फायरिंग किए जाने और गैंगस्टर जिंद्रा जोगी (को मार गिराये जाने की घटना पर गहरी चिंता व्यक्त की है. सीजेआई मौका-ए-वारदात पर जाना चाहत थे, लेकिन उन्हें वहां न जाने की सलाह दी गई. हालांकि, न्यायमूर्ति रमना ने दिल्ली हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल (Judge DN Patel) से बात करके घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया है. तथा केंद्र सरकार के सहयोग से राजधानी की सभी अदालतों में सुरक्षा के बंदोबस्त चाक-चौबंद करने की सलाह दी है.

    कोर्ट परिसरों में सुरक्षा का भाव आना चाहिए
    सीजेआई को बताया गया था कि अपराधियों की फायरिंग और उसके जवाब में दिल्ली पुलिस द्वारा की गई गोलीबारी में दो अपराधियों को ढेर कर दिया गया. और एक गोली न्यायिक अधिकारी के आसन के डायस में लगी, लेकिन सौभाग्यवश से कोई घायल नहीं हुआ. टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार,सीजेआई ने कहा था कि न्याय देने की बेहतर प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए न्यायिक अधिकारियों, जजों और वकीलों के साथ-साथ वादियों-प्रतिवादियों में भी कोर्ट परिसरों में सुरक्षा का भाव आना चाहिए.

    (इनपुट- भाषा)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज