• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • रोहिणी कोर्ट शूटआउट: टिल्‍लू ताजपुरिया ने 15 सितंबर को रची थी साजिश, गोगी के खात्‍मे के बाद बदमाशों को करना था सरेंडर

रोहिणी कोर्ट शूटआउट: टिल्‍लू ताजपुरिया ने 15 सितंबर को रची थी साजिश, गोगी के खात्‍मे के बाद बदमाशों को करना था सरेंडर

टिल्लू ताजपुरिया ने 15 सितंबर को उमंग को जितेंद्र गोगी को गोली मारने का हुक्‍म दिया था.

टिल्लू ताजपुरिया ने 15 सितंबर को उमंग को जितेंद्र गोगी को गोली मारने का हुक्‍म दिया था.

Rohini Court Shootout: रोहिणी कोर्ट शूटआउट में एक बड़ा खुलासा हुआ है. दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल के हत्‍थे चढ़े 22 साल के बदमाश उमंग ने बताया कि 15 सितंबर को मंडोली जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया (Tillu Tajpuria) ने फोन करके जितेंद्र गोगी (Jitendra Gogi) को खत्‍म करने का हुक्म दिया था. वहीं, गोगी को खत्‍म करने के बाद जज के सामने सरेंडर करने की प्‍लानिंग थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्‍ली. राजधानी दिल्‍ली के रोहिणी कोर्ट में शुक्रवार को हुए शूटआउट (Rohini Court Shootout) को लेकर हड़कंप मचा हुआ है. वहीं, इस घटना को लेकर हर रोज नये खुलासे हो रहे हैं. सूत्रों के मुताबिक, गोगी गैंग के सरगना जितेंद्र मान उर्फ गोगी (Jitendra Gogi) को खत्‍म करने की साजिश 15 सितंबर को रची गयी थी. दिल्ली की मंडोली जेल में बंद टिल्लू ताजपुरिया (Tillu Tajpuria) ने फोन करके गोगी को खत्‍म करने का हुक्म दिया था. यही नहीं, इस घटना को अंजाम देने के बाद चारों बदमाशों को सरेंडर करना था, लेकिन एक बदमाश के पास वकील जैसी ड्रेस न होने के कारण सिर्फ दो ही कोर्ट रूम में एंट्री कर सके थे.

सूत्रों के मुताबिक, टिल्लू ताजपुरिया को गैंगस्टर जितेंद्र गोगी की रोहिणी कोर्ट में 24 सितंबर को पेश किए जाने की पहले से जानकारी थी. जबकि इस घटना को अंजाम देने के लिए कई दिनों तक मंथन के बाद फुलप्रूफ प्लानिंग की गयी थी.

शूटआउट के बाद चारों बदमाशों को करना था सरेंडर
सूत्रों के मुताबिक, रोहिणी कोर्ट में गोगी गैंग के सरगना जितेंद्र गोगी को खत्‍म करने के बाद चार बदमाशों को जज के सामने सरेंडर करना था, लेकिन 22 साल के उमंग को एक अन्‍य साथी के काली जींस पहने होने की वजह से बाहर ही रुकना पड़ा था. इसी वजह से सिर्फ दो हमलावर वकील की ड्रेस में कोर्ट रूम के अंदर पहुंचे थे. हालांकि जिस लड़के ने जींस नहीं पहनी थी वो अभी फरार है. वहीं, उमंग के साथ विनय मोटा को दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है.

दिल्‍ली पुलिस के कमांडो ने बिगाड़ी प्‍लानिंग
बहरहाल, गैंगस्‍टर गोगी को खत्‍म करने के बाद बदमाश जज के सामने सरेंडर करना चाहते थे, लेकिन इस बीच कोर्ट रूम के अंदर जाते ही हालात बदल गए और दिल्‍ली पुलिस की तीसरी बटालियन के कमांडो ने दोनों को वहीं पर ढेर कर दिया. वहीं, दिल्‍ली पुलिस की पूछताछ गिरफ्तार 22 साल के उमंग ने बताया कि जेल से उसे टिल्लू ताजपुरिया का फोन आया था, जिसमें कहा गाया कि उसके घर 2 लड़के आएंगे जिनके साथ मिलकर पेशी पर आ रहे जितेंद्र गोगी को गोली मारनी है. गिरफ्तार आरोपी उमंग ने तीन साल तक एलएलबी की पढ़ाई कर चुका है. जबकि उसके साथ पकड़े गए दूसरे आरोपी का नाम विनय मोटा है और वह अभी 19 साल का है. वहीं, एक अभी फरार है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज