होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /बड़ी सफलता! दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने सागर हत्याकांड में सुशील पहलवान के 2 सहयोगियों को पकड़ा

बड़ी सफलता! दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने सागर हत्याकांड में सुशील पहलवान के 2 सहयोगियों को पकड़ा

सागर धनखड़ हत्याकांड के दो आरोपी गिरफ्तार (News18 Hindi)

सागर धनखड़ हत्याकांड के दो आरोपी गिरफ्तार (News18 Hindi)

Sagar Murder Case: सागर हत्याकांड के बाद में दोनों आरोपी अंकित और जोगिंद्र फरार हो गए थे. दोनों लगातार अपने ठिकाने बदल ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

सागर धनखड़ हत्याकांड के दो आरोपी गिरफ्तार.
दोनों पहलवान सागर मर्डर के बाद से थे फरार.
पुलिस ने दोनों को बागपत यूपी से गिरफ्तार किया.

नई दिल्ली. सागर हत्याकांड को शायद ही कोई भूला होगा; क्योंकि इस हत्याकांड के पीछे ओलंपिक चैंपियन सुशील पहलवान का नाम जुड़ा था. इस मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम लगातार गिरफ्तारी को अंजाम दे रही है. इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने ओलंपियन सुशील पहलवान के दो सहयोगी को गिरफ्तार किया है. पकड़े गए दोनों आरोपियों का नाम अंकित डबास और जोगिंदर काला है.

सागर हत्याकांड के बाद में दोनों आरोपी अंकित और जोगिंद्र फरार हो गए थे. दोनों लगातार अपने हाइड आउट बदल रहे थे. इसलिए दोनों अब तक पुलिस से बचते आ रहे थे. पुलिस को इनपुट मिला था कि इनकी मूवमेंट यूपी में है जिसके बाद दोनों की गिरफ्तारी यूपी के बागपत से हुई है. सागर के हत्या वाले दिन दोनों आरोपियों को सुशील के करीबी अजय ने फोन करके बुलाया था. दावा ये है कि सागर धनखड़ के हत्या में ये दोनों आरोपी शामिल थे.

Gujarat Result 2022: हारकर भी कैसे जीती AAP? पार्टी नेता मना रहे हैं जश्न, बोले- ‘हम राष्ट्रीय पार्टी बन गए’

पकड़े गए दोनों आरोपियों पर पुलिस ने 50 –50 हजार रुपये के इनाम की घोषणा कर रखी थी. आपको बता दें कि 5 मई 2021 में सुशील पहलवान ने अपने साथियों के साथ मिलकर उभरते हुए रेसलर सागर धनखड़ की छत्रसाल स्टेडियम में बेरहमी से पिटाई कर दी थी, जिसके बाद अस्पताल में सागर की मौत हो गई थी. सागर की हत्या के आरोप में क्राइम ब्रांच इससे पहले 18 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी थी.

पुलिस के मुताबिक, फरारी के दौरान दोनों आरोपी काफी दिनों तक किसान आंदोलन प्रोटेस्ट में टिकरी बॉर्डर पर बैठ गए थे. लेकिन, जैसे ही किसान आंदोलन खत्म हुआ. अंकित हिमाचल प्रदेश जा कर रहने लगा और वहां एक ट्रांसपोर्ट कंपनी में बतौर लेबर के तौर पर काम कर रहा था. जबकि दूसरा आरोपी जोगिंदर हरिद्वार के मंदिरों और धर्मशाला मेंअपनी पहचान छुपा कर रह रहा था; ताकि कानून के नजरों से बच सके.

Tags: Delhi news, Sagar Murder Case, Wrestler Sushil Kumar

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें