RSS चित्रकूट‌ में करेगा 5 दिन तक मंथन, यूपी में चुनावी मुद्दे पर भी हो सकती है बात

सांकेतिक फोटो. (File pic)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) बॉर्डर से महज 2 किलाेमीटर दूर मध्य प्रदेश की सीमा में चित्रकूट में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक 9 से 13 जुलाई के बीच आयोजित होगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश बॉर्डर से महज 2 किलाेमीटर दूर मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) की सीमा में चित्रकूट में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (RSS) की अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक आयोजित होने जा रही है. संघ के वरिष्ठ पदाधिकारी इस बैठक में 5 दिन तक मंथन करेंगे. दीनदयाल शोध संस्थान के आरोग्य धाम में ये बैठक 9 जुलाई से 13 जुलाई तक होगी. हालांकि ये अखिल भारतीय प्रांत प्रचारक बैठक हर साल जुलाई में होती है. इस बैठक में संघ से जुड़े विभिन्न संगठनों के प्रांत प्रचारक स्तर तक के प्रचारक भाग लेते हैं. अमूमन इस माीटिंग में संघ के प्रांत प्रचारक अपने अपने प्रांतों में संघ कार्यों का विवरण देते हैं और आने वाले कार्यक्रमों की योजना बनाते हैं.

ये बैठक संघ की हर साल आयोजित होनी वाली 3 बड़ी बैठकों में से एक है. बाकी 2 बड़ी बैठकों में से एक मार्च में होली के पास होती है, जिसको अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा और दूसरी दिवाली के आस-पास होती है, जिसको अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल बैठक कहा जाता है. कोरोना की दूसरी लहर के बाद ये पहली बड़ी बैठक है जो मध्य प्रदेश के चित्रकूट में होने जा रही है. इसलिए इस मीटिंग में कोरोना काल में संघ, सेवा भारती या अन्य सहयोगी संगठनों की तरफ से देश भर में जो सेवा कार्य किये गये, उनकी समीक्षा की जायेगी इसके साथ ही तीसरी लहर को लेकर जो अंदेशा जताया जा रहा है, उसकी तैयारियों पर भी संघ प्रचारक मंथन करेंगे और रोडमैप बनायेंगे.

जल संकट पर भी होगी चर्चा
इसके अलावा देश भर में जल संकट और पर्यावरण को लेकर भी संघ बड़ा अभियान चला रहा है. इस अभियान से पर्यावरणविद, इस क्षेत्र में काम करने वाली कंपनियां, NGO को भी एक प्लेटफ़ॉर्म पर लाने का काम किया जा रहा है. इसके साथ ही बड़े स्तर पर जल संकट और पर्यावरण सुरक्षा में जनता की भागीदारी भी हो इस पर भी चर्चा की जायेगी. उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब सहित 5 राज्यों के विधानसभा नजदीक होने के कारण भी संघ की इस बैठक पर सभी की नजर रहेंगी. संघ की ये बैठक इसलिए भी महत्वपूर्ण मानी जा रही है कि यूपी बॉर्डर से महज क़रीब 2 किमी की दूरी पर ये बैठक हो रही है. माना जा रहा है कि यूपी, उत्तराखंड की राजनीतिक स्थितियों का ख़ासतौर पर इस मीटिंग में आंकलन किया जायेगा और फ़ीडबैक के आधार पर बीजेपी के लिए सियासी पिच तैयार करने में संघ अहम भूमिका निभाने का रोडमैप तैयार करेगा.

वर्चुअली जुड़ेंगे पदाधिकारी
क्योंकि कोरोना काल में ये बैठक हो रही है इसलिये कोरोना गाइड लाइन को देखते हुए मीटिंग स्थान पर बेहद सीमित संख्या ही मौजूद रहेगी. इस मीटिंग में संघ प्रमुख मोहन भागवत, सर कार्यवाह दत्तात्रेय होसबले, डॉ कृष्ण गोपाल, डॉ मनमोहन वैद्य, अरूण कुमार सहित संघ के सभी अखिल भारतीय पदाधिकारी बैठक में मौजूद रहेंगे. इनके अलावा क्षेत्र प्रचारक भी चित्रकूट बैठक में रहेंगे लेकिन इनके अलावा देश भर के वरिष्ठ प्रचारक या प्रांत प्रचारक इस मीटिंग मे वर्चुअली ही जुड़ेगें.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.