अपना शहर चुनें

States

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को बताया- सफूरा जरगर ने भीड़ को उकसाने के लिए दिया था भड़काऊ भाषण

दिल्ली पुलिस ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जरगर की जमानत याचिका की सुनवाई के दौरान अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा के समक्ष यह बात कही. (फाइल फोटो)
दिल्ली पुलिस ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जरगर की जमानत याचिका की सुनवाई के दौरान अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा के समक्ष यह बात कही. (फाइल फोटो)

सफूरा जरगर (Safura Jargar ) ने भीड़ को उकसाने के लिए कथित रूप से भड़काऊ भाषण दिया था. इसके कारण संशोधित नागरिकता अधिनियम के विरोध में फरवरी में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा भड़की थी.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने शनिवार को यहां की एक अदालत को बताया कि जामिया समन्वय समिति के सदस्य सफूरा जरगर (Safura Jargar ) ने भीड़ को उकसाने के लिए कथित रूप से भड़काऊ भाषण दिया था. इसके कारण संशोधित नागरिकता अधिनियम (CAA) के विरोध में फरवरी में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा भड़की थी. जरगर के खिलाफ गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है.

दिल्ली पुलिस ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जरगर की जमानत याचिका की सुनवाई के दौरान अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश धर्मेंद्र राणा के समक्ष यह बात कही. अदालत ने मामले की अगली सुनवाई की तिथि चार जून निर्धारित की है.

शनिवार को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया
उधर, दिल्ली की एक अदालत ने ‘पिंजरा तोड़’ समूह से जुड़ी एक छात्रा को पिछले वर्ष दिसम्बर में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान पुरानी दिल्ली के दरियागंज इलाके में हुई हिंसा से जुड़े एक मामले में शनिवार को तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया. अदालत ने जेएनयू की छात्रा देवांगना कलिता को हिरासत में भेज दिया. इससे पहले पुलिस ने अदालत को बताया कि दिसंबर में हुई हिंसा में कथित संलिप्तता के लिए उनके खिलाफ सबूत हैं.
'पिंजरा तोड़' की कार्यकर्ता नताशा नरवाल गिरफ्तार


यह तीसरा मामला है जिसके तहत कलिता को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. दो मामले उत्तर-पूर्वी दिल्ली में दंगे से जुड़े हैं. फरवरी में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक हिंसा से जुड़े एक अलग मामले में उन्हें मंडोली जेल में रखा गया था. बता दें कि कल खबर सामने आई थी कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में फरवरी महीने में हुई हिंसा की कथित रूप से साजिश रचने के आरोप में शुक्रवार को एक और आरोपी को गिरफ्तार किया. पुलिस ने बताया कि 'पिंजरा तोड़' की कार्यकर्ता नताशा नरवाल को  गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम कानून (यूएपीए) के तहत गिरफ्तार किया गया है.

ये भी पढ़ें- 

टिड्डियों की कमजोरी का फायदा उठाकर उनका काम तमाम करना चाहती है दिल्‍ली सरकार

24 घंटे में दिल्ली पर बरपा कहर, 1 हजार से ज्यादा नए संक्रमित, 13 लोगों की मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज