संजय सिंह बोले- 'चाय पिलाकर हरिवंश जी ने बहुत बड़ा दिल दिखाया, लेकिन लड़ाई जारी रहेगी'

आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि कृषि बिल लाकर किसानों के पेट पर लात मारी गई है. (File Photo)
आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि कृषि बिल लाकर किसानों के पेट पर लात मारी गई है. (File Photo)

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह (Sanjay Singh) ने कहा कि कृषि बिल (Agriculture Bill) लाकर किसानों के पेट पर जो लात मारी गई है, हम लोग उसकी लड़ाई लड़ रहे हैं. देश का किसान करोड़ों लोगों का पेट भरता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 2:13 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (AAP) के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह (MP Sanjay Singh) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) का नाम लेकर कहा कि मंगलवार सुबह उपसभापति हरिवंश (Harivansh) जी ने धरने पर बैठे सभी सांसदों को चाय (Tea) पिलाई. सांसद ने कहा कि उन्होंने धरने पर बैठे सांसदों को चाय पिलाकर बहुत बड़ा दिल दिखाया है. साथ ही संजय सिंह ने कहा कि मोदीजी (PM Modi) इतनी बड़ी लड़ाई को छोटा नहीं बनाइए. ये चाय पीने या पिलाने की लड़ाई नहीं, बल्कि देश के करोड़ों किसानों की लड़ाई है.

आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि कृषि बिल लाकर किसानों के पेट पर जो लात मारी गई है, हम लोग उसकी लड़ाई लड़ रहे हैं. देश का किसान करोड़ों लोगों का पेट भरता है. आपका भी, हमारा भी. उन्होंने कहा कि  उनके योगदान को चाय से मत तौलिए. हमें जिंदगी भर के लिए निलंबित कर दीजिए, लेकिन किसानों का निवाला वापस कीजिए. ये काला कानून जबरन गलत तरीके से पास किया गया, उसे वापस कीजिए.

पीएम मोदी ने हरिवंश की सराहना की
दरअसल, राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश संसद परिसर में धरने पर बैठे राज्यसभा के आठ निलंबित सदस्यों को मंगलवार सुबह चाय पिलाई थी. उनके इस व्यवहार की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि यह उनकी उदारता और महानता को दर्शाता है. मोदी ने सिलसिलेवार ट्वीट कर कहा कि बिहार की धरती ने सदियों पहले पूरे विश्व को लोकतंत्र की शिक्षा दी थी. आज उसी बिहार की धरती से प्रजातंत्र के प्रतिनिधि बने हरिवंश जी ने जो किया, वह प्रत्येक लोकतंत्र प्रेमी को प्रेरित और आनंदित करने वाला है.
उन्होंने कहा कि हर किसी ने देखा कि दो दिन पहले लोकतंत्र के मंदिर में उपसभापति हरिवंश को किस प्रकार ‘‘अपमानित’’ किया गया और उन पर ‘‘हमला’’ किया गया और फिर वही लोग उनके खिलाफ धरने पर भी बैठ गए. मोदी ने कहा कि लेकिन आपको आनंद होगा कि आज हरिवंश जी ने उन्हीं लोगों को सवेरे-सवेरे अपने घर से चाय ले जाकर पिलाई. यह हरिवंश जी की उदारता और महानता को दर्शाता है. लोकतंत्र के लिए इससे खूबसूरत संदेश और क्या हो सकता है. मैं उन्हें इसके लिए बहुत-बहुत बधाई देता हूं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज