होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /सत्येंद्र जैन ने सभी विभाग प्रमुखों को दिए निर्देश, कहा- डेंगू रोधी अभियान में लें हिस्सा

सत्येंद्र जैन ने सभी विभाग प्रमुखों को दिए निर्देश, कहा- डेंगू रोधी अभियान में लें हिस्सा

उन्होंने कहा कि इस वर्ष सितंबर में अभी तक 87 मामले सामने आए हैं. पिछले वर्ष सितंबर में 188 मामले आए थे. (फाइल फोटो)

उन्होंने कहा कि इस वर्ष सितंबर में अभी तक 87 मामले सामने आए हैं. पिछले वर्ष सितंबर में 188 मामले आए थे. (फाइल फोटो)

सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने कहा कि पिछले दो महीने से कोरोना वायरस के मामलों की संख्या भी नियंत्रण में है. साथ ही ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

    नई दिल्ली. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार के विभिन्न विभागों के प्रमुखों को निर्देश दिया गया है कि डेंगू रोधी अभियान में हिस्सा लें, ताकि सुनिश्चित किया जा सके कि उनके परिसर में डेंगू लार्वा (Dengue Larvae) नहीं पनपे. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में अभी तक डेंगू के जितने मामले सामने आए हैं वे ‘‘नियंत्रण में हैं’’ और दिल्ली सरकार भी सतर्क है और मच्छर (Mosquito) जनित बीमारी से उत्पन्न होने वाली किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार है.

    सत्येंद्र जैन ने कहा कि पिछले दो महीने से कोरोना वायरस के मामलों की संख्या भी नियंत्रण में है और समाज तथा सरकार मिलकर कोविड उपुयक्त व्यवहार का पालन कर इन पर जीत हासिल कर सकती है. राष्ट्रीय राजधानी में पिछले एक हफ्ते में डेंगू के 50 से अधिक मामले सामने आए, जिससे इस वर्ष कुल मामलों की संख्या 210 से अधिक हो गई. यह जानकारी सोमवार को जारी एक विज्ञप्ति में दी गई थी. इस महीने 18 सितंबर तक 87 मामले सामने आए हैं जो कुल मामलों का करीब 41 फीसदी हैं. इसमें बताया गया कि महानगर में डेंगू के कारण अभी तक किसी के मौत की खबर नहीं है.

    सरकार डेंगू के कारण किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है
    उन्होंने कहा, ‘‘इस वर्ष सितंबर में अभी तक 87 मामले सामने आए हैं. पिछले वर्ष सितंबर में 188 मामले और उसके पिछले वर्ष में 190 मामले सामने आए थे. उससे पहले के वर्षों में 374 (2018), 1103 (2017), 1300 (2016) और 6775 (2015) मामले सामने आए थे.’’ उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि सरकार डेंगू के कारण किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है.

    मलेरिया और टीबी के कई रोगी मिले थे
    वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि नोएडा में मलेरिया और कोविड-19 (Malaria And Covid-19) जैसी गंभीर बीमारियों के खतरे के बीच अब दिमागी बुखार (Brain Fever) ने भी शहर वासियों और स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ा दी है. जिले में इस बीमारी के तीन संदिग्ध मामले मिले हैं. हालांकि, अभी बीमारी की पुष्टि नहीं हुई है. बीमारी की पुष्टि जांच के बाद ही हो सकेगी. मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉक्टर सुनील शर्मा (Dr Sunil Sharma) ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने रोगियों का पता लगाने के लिए सात से 17 सितंबर तक घर-घर जाकर सर्वेक्षण किया था. इसमें बुखार, मलेरिया और टीबी के कई रोगी मिले थे. इसी दौरान तीन लोगों में दिमागी बुखार के लक्षण दिखे.

    (इनपुट-  भाषा)

    Tags: Delhi news, Dengue, Satendra Jain

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें