Home /News /delhi-ncr /

सत्येंद्र जैन ने कहा- दिल्ली में बढ़ गए हैं इतने ICU बेड, आ रही है Corona मामलों में गिरावट

सत्येंद्र जैन ने कहा- दिल्ली में बढ़ गए हैं इतने ICU बेड, आ रही है Corona मामलों में गिरावट

दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन का कहना है कि दिल्‍ली में कोरोना के नए स्‍ट्रेन के चार मरीज मिले हैं.

दिल्‍ली के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सत्‍येंद्र जैन का कहना है कि दिल्‍ली में कोरोना के नए स्‍ट्रेन के चार मरीज मिले हैं.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने कहा है कि दिल्ली में अब पॉजिटिविटी रेट कम हो रहा है. दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 15.2 प्रतिशत तक हो गया था और अब यह घटकर 10 प्रतिशत पर आ गया है और यह जल्द ही इससे नीचे चला जाएगा.

अधिक पढ़ें ...
नई दिल्ली. दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Satyendra Jain) ने कहा है कि दिल्ली में अब पॉजिटिविटी रेट कम हो रहा है. जैन ने कहा, 'दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 15.2 प्रतिशत तक हो गया था और अब यह घट कर 10 प्रतिशत पर आ गया है और यह जल्द ही इससे नीचे चला जाएगा. जैन ने कहा कि दिल्ली में तीसरी लहर का पीक 7 नवंबर को था और अब यह धीरे-धीरे नीचे आ रहा है. उन्होंने कहा कि मैं भगवान से प्रार्थना करता हूं कि दिल्ली में अब और कोई लहर नहीं आए. जैन ने कहा कि पूरी दिल्ली में सबसे कम पॉजिटिविटी दर अस्पतालों में काम कर रहे कोरोना स्टाफ की है. जहां पूरी दिल्ली की पॉजिटिविटी दर 10 और 10.5 प्रतिशत के बीच में है, वहीं कोरोना अस्पतालों में काम कर रहे डॉक्टरों और अन्य कर्मचारियों की पॉजिटिविटी दर 5 प्रतिशत से भी कम है. इसके साथ ही वेंटिलेटर से युक्त आईसीयू बेड (ICU Beds) की संख्या भी बढ़ाये जा रहा है.

दिल्ली में कम होने लगा है कोरोना का संक्रमण
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बुधवार को को बुराड़ी अस्पताल में केंद्रीय अपशिष्ट भंडारण स्थल का उद्घाटन किया. साथ ही 20 वेंटिलेटर से युक्त आईसीयू बेड अस्पताल को समर्पित किया. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि शनिवार तक आईसीयू बेड को 20 से बढ़ा कर 50 कर दिया जाएगा. इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन पीपीई किट पहन कर कोरोना वार्ड में भी गए और मरीजों से मिलकर उनका हाल-चाल जाना. उन्होंने अस्पताल में मिल रही सुविधा का मरीजों से फीडबैक लिया और अस्पताल के अधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए. इस अवसर पर मरीजों से बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वह पूरी तरह से स्वस्थ्य हो जाने के बाद ही अस्पताल से जाएं और घर जाने के बाद मास्क जरूर लगाएं. मंत्री ने मरीजों के परिजनों से भी वीडियो कॉल के माध्यम से बात कर उनका हाल-चाल जाना और उनको सांत्वना दी.

Corona Cases, ICU bed with ventilator, corona positive patients, Delhi government, CM arvind kejriwal, corona app, कोरोना केस, वेंटिलेटर के साथ आईसीयू बेड, कोरोना पॉजिटिव मरीज, दिल्ली सरकार, सीएम अरविंद केजरीवाल, कोरोना ऐप
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि शनिवार तक आईसीयू बेड को 20 से बढ़ा कर 50 कर दिया जाएगा.


बुराड़ी अस्पताल में 4 महीने में 1000 मरीजों का इलाज
जैन ने कहा कि बुराड़ी अस्पताल को शुरू हुए पूरे 4 महीने हुए हैं. 25 जुलाई को इसका उद्घाटन हुआ था और आज 25 नवंबर है. पिछले 4 महीनों में इस अस्पताल ने काफी तरक्की की है. उसके लिए मैं हॉस्पिटल के सभी डॉक्टर्स पैरामेडिकल स्टाफ और यहां के एमएस आदि को बधाई देता हूं. इतने कम समय में 1000 मरीज का उपचार करना बहुत बड़ी बात है.



ये भी पढ़ें: यहां श्मशान घाटों पर अंतिम संस्कार के लिए लंबी वेटिंग तो कब्रिस्तान के पास दफनाने की जमीन नहीं

जैन ने कहा जब अस्पताल नया बना हो तो उसमें काम करना थोड़ा कठिन होता है, लेकिन यहां के कर्मचारियों ने बहुत अच्छा काम किया है और इतने कम समय में 1000 मरीज के उपचार करने का कीर्तिमान बनाया है. मंत्री ने कहा कि मुझे यह जानकर भी काफी खुशी हुई है कि यहां पर हर तरह के टेस्ट भी कम समय में किए जाते हैं. चाहे वह सिटी स्कैन हो, एक्स-रे हो या किसी और तरह का टेस्ट हो. स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि वेंटीलेटर युक्त आईसीयू बेड बढ़ने के बाद अब इस अस्पताल से मरीजों को दुसरे अस्पताल में शिफ्ट करने की जरूरत नहीं पड़ेगी. उन्होंने कहा कि पिछले 4 महीने में शायद ही कभी ऐसा समय आया होगा, जब मरीज को शिफ्ट किया गया हो. लेकिन, अब आईसीयू बेड की संख्या बढ़ जाने के बाद दूसरे अस्पताल में शिफ्ट करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

Tags: Corona Cases in Delhi, Delhi corona cases, Hospitals, ICU Bed, Satyendra jain

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर