सुप्रीम कोर्ट ने डॉक्‍टरों पर FIR को लेकर दिल्‍ली सरकार को लगाई कड़ी फटकार, कहा- आप धमकी नहीं दे सकते
Delhi-Ncr News in Hindi

सुप्रीम कोर्ट ने डॉक्‍टरों पर FIR को लेकर दिल्‍ली सरकार को लगाई कड़ी फटकार, कहा- आप धमकी नहीं दे सकते
सुप्रीम कोर्ट (फाइल फोटो)

डॉक्‍टरों और मेडिकल स्‍टाफ के खिलाफ कार्रवाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने दिल्‍ली सरकार को कड़ी फटकार लगाई है. सुप्रीम कोर्ट एक स्वतः संज्ञान लिए गए मामले की सुनवाई कर रहा था.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण की खबरों के बीच डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ के खिलाफ कार्रवाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) सख्त हो गया है. बुधवार को सर्वोच्च अदालत में इस मामले को लेकर सुनवाई हुई, जिसमें डॉक्‍टरों और मेडिकल स्‍टाफ के खिलाफ कार्रवाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्‍ली सरकार को कड़ी फटकार लगाई है. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आप डॉक्‍टरों और मेडिकल स्‍टाफ को धमकी नहीं दे सकते हैं. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आप उन्‍हें प्रताड़ित करना और उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की प्रक्रिया को तुरंत रोकें.

दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों के खिलाफ हुई कार्रवाई पर सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार को जमकर फटकार लगाई है. दरअसल, सुप्रीम कोर्ट एक स्वतः संज्ञान लिए गए मामले की सुनवाई कर रहा था, जिसमें दिल्ली सरकार का हलफनामा भी सामने आया. इस हलफनामे में खुद दिल्ली सरकार ने  बताया कि कुछ डॉक्टरों के खिलाफ अनुशासन तोड़ने को लेकर कार्रवाई की गई है.

इस पर सुप्रीम कोर्ट ने सख्त ऐतराज जताया. सुनवाई के दौरान कहा गया कि देखा गया है कि एक ऐसे डॉक्टर को सस्पेंड किया गया, जिसने सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की परेशानी और सुविधाओं के अभाव का वीडियो बना कर सार्वजानिक कर दिया था. कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा कि आप सूचना देने वाले को ही गोली मार रहे हैं. कोरोना वॉरियर के साथ ऐसा सलूक नहीं किया जा सकता. डॉक्टर को किस जुर्म में सस्पेंड किया गया. कोर्ट ने दिल्ली सरकार से इन सभी बातों पर हलफनामा दाखिल करने को कहा. अगली सुनवाई शुक्रवार को होगी.



आपको बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण और अस्पतालों में पीड़ितों का इलाज करने के बीच राजधानी में कई अस्पतालों के डॉक्टर और अन्य मेडिकल स्टाफ सुविधाओं को लेकर सवाल उठा चुके हैं. सरकार ने इस पर कार्रवाई की, जिससे इन डॉक्टरों और मेडिकल स्टाफ में रोष है.
 

ये भी पढ़ें-

प्रेग्‍नेंट महिला की मौत पर SC सख्‍त, नोएडा प्रशासन से कही ये बात...

FACT CHECK: क्या दिल्ली-NCR में 18 जून से लग जाएगा टोटल लॉकडाउन?
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज