गरीब बताकर नामी स्कूल में कराया बच्चे का एडमिशन, महंगी कार ने खोली मां-बाप की पोल
Delhi-Ncr News in Hindi

गरीब बताकर नामी स्कूल में कराया बच्चे का एडमिशन, महंगी कार ने खोली मां-बाप की पोल
फरार आरोपियों की तलाश पुलिस कर रही है.

अब गरीब बताकर बच्चे का दाखिला (School Admission) को करवा लिया, लेकिन रईसी छिपाना भूल गए. माता-पिता रोज स्कूल से बच्चे को लेने और छोड़ने महंगी कार में आते थे. जांच के बाद एडमिशन के पूरे फर्जीवाड़ा (Fraud) का खुलासा हुआ.

  • Share this:
दिल्ली. खुद को गरीब बताकर अपने बच्चे के एडमिशन (Admission) में फायदा लेना एक परिवार को काफी महंगा पड़ गया. मामला सामने आने के बाद अब स्कूल प्रशासन ने परिवार पर केस दर्ज करा दिया है. बताया जाता है कि आर्थिक रूप से संपन्न होने के बाद भी दंपति ने ईडब्ल्यूएस (EWS) कैटेगरी से दिल्ली के एक नामी स्कूल में बच्चे का दाखिला कराया. बच्चे का एडमिशन साल 2019-2020 सेशन के लिए नर्सरी में हो गया. अब गरीब बताकर बच्चे का दाखिला को करवा लिया, लेकिन रईसी छिपाना भूल गए. माता-पिता रोज स्कूल से बच्चे को लेने और छोड़ने महंगी कार में आते थे. जब स्कूल प्रबंधन की नजर इस पर पड़ी को उन्हें शक हुआ. फिर शुरू हुई गरीब परिवार की जांच. जांच के बाद एडमिशन के पूरे फर्जीवाड़ा (Fraud) का खुलासा हुआ. इसके बाद स्कूल की तरफ से इस मामले की शिकायत चाणक्यपुरी थाने में की गई.

बताया जा रहा है कि बच्चे के माता-पिता ने एक फर्जी दंपति को बच्चे के साथ स्कूल भेजा था. अब पुलिस ने इस सभी को आरोपी बनाया है. इसके अलावा एक और दंपति पुलिस की रडार पर है.  परिवार के कुछ और लोगों को भी आरोपी पुलिस ने बनाया है. फिलहाल, बच्चे के असली और नकली माता-पिता फरार बताए जा रहा हैं. वहीं, पुलिस से बचने आरोपियों ने पटियाला हाउस के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीक की अदालत में अग्रिम जमानत की याचिका लगाई थी. फिलहाल, अदालत ने अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया है. अब सभी पर कानूनी शिकंजा और कस गया है.

ये भी पढ़ें: कोरोना ने बदली परंपरा, यहां सावन में महादेव को लग रहा मास्क का भोग, मंदिर का प्रसाद भी खास



संपति होगी कुर्क
बताया जा रहा है कि आरोपी पिता पुलिस पूछताछ में साथ नहीं दे रहा था. बच्चे के पिता को अदालत ने फरार घोषित कर दिया है. इसके साथ ही परिवार की संपति कुर्क करने की प्रक्रिया भी की जा रही है. जांच में परिवार का एक और बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया. आरोपियों ने अपने एक और बच्चे का दाखिला फर्जी तरीके से नामी स्कूल में कराया था. इस मामले में भी केस दर्ज कर लिया गया है. जिस कार से बच्चा स्कूल जाता था वो उसके दादा के नाम रजिस्टर थी. दाद को फिलहाल जमानत दे दी गई है. वहीं, जांच में पुलिस को पता चला कि आरोपी में फर्जीवाड़ा करने से पहले बच्चे का नाम बदल दिया था. फिर एक कमजोर आय वर्ग के दंपति को माता-पिता बनाकर स्कूल भेज दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading