लाइव टीवी

स्कूलों में लड़कों को खिलाएंगे लड़कियों का सम्मान करने की कसम: अरविंद केजरीवाल

मोहित सिंह | News18Hindi
Updated: December 13, 2019, 8:01 PM IST
स्कूलों में लड़कों को खिलाएंगे लड़कियों का सम्मान करने की कसम: अरविंद केजरीवाल
सीएम केजरीवाल ने कहा कि छठी क्लास से यह नियम लागू हो जाएगा, जिसके तहत लड़कों को शपथ लेनी होगी कि किसी भी लड़की के साथ दुर्व्यवहार नहीं करेंगे.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि यह फैसला दिल्ली के तमाम प्राइवेट और सरकारी स्कूलों पर लागू होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 13, 2019, 8:01 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हाल के दिनों में देश के अलग-अलग हिस्सों में महिलाओं के खिलाफ दुर्व्यवहार की कई तरीके की घटनाएं सामने आई हैं. इसके बाद से सड़क से लेकर संसद तक संग्राम मच गया. लोग सड़कों पर उतरे और कड़ा कानून (Law) बनाने की मांग की. इसी बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करके ऐलान किया कि अब दिल्ली सरकार तमाम स्कूल और कॉलेजों में लड़कों को लड़कियों का सम्मान करने की शपथ दिलाएंगे.

केजरीवाल ने कहा कि यह फैसला दिल्ली के तमाम प्राइवेट और सरकारी स्कूलों पर लागू होगा. छठी क्लास से यह नियम लागू हो जाएगा, जिसके तहत लड़कों को शपथ लेनी होगी कि किसी भी लड़की के साथ दुर्व्यवहार नहीं करेंगे.

मुख्यमंत्री ने कहा कि हर लड़की को अपने भाइयों से घर जाकर बात करनी होगी कि वह किसी भी लड़की को बुरी नजर से ना देखें और किसी भी लड़की का के साथ दुर्व्यवहार ना करें अगर कोई लड़का ऐसा करता पाया जाता है तो वह उससे रिश्ता नाता खत्म कर लेगी.

केजरीवाल ने कहा कि लड़कियों के खिलाफ हो रहे दुर्व्यवहार को रोकने के लिए स्कूलों और कॉलेजों में चर्चा कराएंगे. इस पूरे मामले को लेकर रूपरेखा तैयार करेंगे. अभी तक इस पूरे मामले का ब्लूप्रिंट सामने नहीं आया है. जल्द ही वह इस बात की घोषणा भी कर देंगे और इस बात का आधिकारिक ऐलान भी कर दिया जाएगा.



ये भी पढ़ें-

नहीं जल रही पराली फिर भी AQI DELHI में 400 पार, कहां हैं किसानों को कोसने वालेCAB पर प्रदर्शन के चलते दिल्ली में दो मेट्रो स्टेशनों पर एंट्री-एक्जिट बंद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 13, 2019, 6:00 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर