प्रदर्शन के दौरान पाक उच्चायोग के सामने भिड़े बजरंग दल कार्यकर्ता और सुरक्षा बल
Delhi-Ncr News in Hindi

प्रदर्शन के दौरान पाक उच्चायोग के सामने भिड़े बजरंग दल कार्यकर्ता और सुरक्षा बल
पाक दुतावास के सामने सोमवार को हो रहा था प्रदर्शन. (फोटो-एएनआई)

दर्जनों कार्यकर्ता पाकिस्तान (Pakistan) उच्चायोग के सामने विरोध-प्रदर्शन करने पहुंचे. पीएम इमरान खान (PM Imran Khan) के खिलाफ नारेबाजी की. इसी दौरान प्रदर्शकारियों की वहां तैनात सुरक्षा बलों (Security force) से झड़प हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 7, 2020, 6:20 PM IST
  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
नई दिल्ली. पाकिस्तान (Pakistan) में तीन जनवरी को ननकाना साहिब गुरुद्वारे ( Nankana Sahib Gurdwara) पर हमले का चारों ओर विरोध हो रहा है. देश के कई छोटे-बड़े मुस्लिम (Muslim) संगठनों ने भी इस हमले की निंदा की है. वहीं आज बजरंग दल (Bajrang dal) सहित दुर्गा वाहिनी (Durga Vahini) के दर्जनों कार्यकर्ता पाकिस्तान उच्चायोग के सामने विरोध-प्रदर्शन करने पहुंचे. पाकिस्तान और वहां के पीएम इमरान खान के खिलाफ नारेबाजी की. इसी दौरान प्रदर्शकारियों की वहां तैनात सुरक्षा बलों से झड़प हो गई. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने कई प्रदर्शनकारियों को हिरासत में भी लिया है.

सुरक्षा बलों के साथ इसलिए हुई कार्यकर्ताओं की भिड़ंत

मौके पर मौजूद लोगों की मानें तो अचानक से दर्जनों प्रदर्शनकारी तिरंगा झंडा और बजरंल दल का झंडा लेकर पाक उच्चायोग के सामने पहुंच गए. ननकाना हमले के बाद से पाक दूतावास की सुरक्षा पहले ही बढ़ाई हुई है. भीड़ ने आते ही नारेबाजी शुरु कर दी. बेरीकेट को तोड़ते हुए आगे बढ़ने की कोशिश करने लगे. जिसे वहां मौजूद सुरक्षा बलों ने रोकने की कोशिश की. लेकिन प्रदर्शनकारियों ने बेरीकेट को तोड़ना शुरु कर दिया. सुरक्षा बलों ने रोका तो उनके साथ हाथापाई की गई. ANI की ओर से किए गए एक ट्वीट की मानें तो बजरंग दल, दुर्गा वाहिनी और सुरक्षा बलों के बीच हाथापाई हुई थी.



मामले का जायजा लेने भारत से पाकिस्तान जाएगा एक दल



अब इस हमले को लेकर भारत में सिखों की सर्वोच्च संस्था शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी पाकिस्तान जाकर हालात का जायजा लेगी. शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने कहा है कि जल्द ही एक 4 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल पाकिस्तान जाकर पूरे हालात का जायजा लेगा, गुरुद्वारे का निरीक्षण करेगा और वहां रह रहे सिखों से भी मुलाकात करेगा.

एसजीपीसी के अध्यक्ष गोविंद सिंह लोंगोवाल ने कहा कि ये प्रतिनिधिमंडल पाकिस्तानी पंजाब के मुख्यमंत्री और गवर्नर से भी मुलाकात करेगा. साथ ही वहां के अधिकारियों से मिलकर अनुरोध करेगा कि सिखों के सर्वोच्च धार्मिक पवित्र स्थल पर हुए हमले से पूरे विश्व में सिख काफी आहत हैं और भविष्य में इस तरह की घटना न हो, इसे लेकर पाकिस्तान सरकार तुरंत कदम उठाए.

ये भी पढ़ें- निर्भया कांड के दोषियों को फांसी देने से पहले बोला पवन जल्लाद- अब जीना मुश्किल हो गया

चार महिलाओं समेत कौन हैं वो 35 लोग जिन्हें होनी है फांसी, राष्ट्रपति भी लगा चुके हैं मुहर
First published: January 7, 2020, 4:12 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading