SDMC की अनूठी पहल, जरूरतमंदों के लिए खोला पहला Shoe Bank, बच्चों को खिलौने भी मिलेंगे फ्री!

SDMC ने क्षेत्र को साफ सुथरा और स्वच्छ बनाने के लिए अनूठी पहल शुरू की है.

SDMC Shoe Bank: दक्षिण निगम ने एक अनूठी पहल करते हुए आज स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के मद्देनजर पश्चिमी जोन में जरूरतमंद लोगों के लिए पहला जूता बैंक खोला है.इस बैंक में नागरिक अपने पुराने जूते दान कर सकते है. जूता और खिलौना बैंक से हम जरूरतमंद लोगों और बच्चों को जूते और खिलौने उपलब्ध करा सकेंगे, जो इन्हें खरीद नही पाते है. साथ ही हम जूतों और खिलौनो का रीयूज(पुनः प्रयोग) कर, पर्यावरण संरक्षण भी कर सकेंंगे.

  • Share this:
    नई दिल्ली. साउथ दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने अपने अधीनस्थ क्षेत्र को साफ सुथरा और स्वच्छ बनाने के लिए अब एक और अनूठी पहल शुरू की है. पर्यावरण संरक्षण को लेकर भी यह अनूठी पहल कामयाब होगी. एसडीएमसी की ओर से वेस्ट जोन के सुभाष नगर में पहला जूता बैंक (Shoe Bank) खोला गया है. साथ ही जरूरतमंद बच्चों के लिए खिलौना बैंक की भी शुरुआत की गई है.

    उपायुक्त पश्चिमी जोन डॉ सोनल स्वरूप ने बताया कि इस बैंक में नागरिक अपने पुराने जूते दान कर सकते है. उन्होंने कहा कि जूता और खिलौना बैंक से हम जरूरतमंद लोगों और बच्चों को जूते और खिलौने उपलब्ध करा सकेंगे, जो  इन्हें खरीद नही पाते है. साथ ही हम जूतों और खिलौनो का रीयूज(पुनः प्रयोग) कर, पर्यावरण संरक्षण भी कर सकेगें.

    इस अवसर पर पश्चिमी जोन के अध्यक्ष कर्नल वी.के. ओबरॉय स्वच्छ भारत अभियान के नोडल अधिकारी राजीव जैन, स्थानीय पार्षद सुरेन्द्र सेतिया, सहायक आयुक्त हरीश कश्यप और निगम के अन्य उच्च अधिकारी उपस्थित थे. उपायुक्त डॉ सोनल स्वरूप ने कहा कि दक्षिण निगम ने एक अनूठी पहल करते हुए आज स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के मद्देनजर पश्चिमी जोन में जरूरतमंद लोगों के लिए पहला जूता बैंक खोला है.

    पश्चिमी जोन के अध्यक्ष कर्नल वी.के. ओबरॉय ने बताया कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 रैकिंग में सुधार के लिए विभिन्न प्रयास शुरू किये जिसमें नेकी की दीवार, गार्बेज कैफे,गीला कूड़ा लाओं खाद ले जाओ, प्लास्टिक लाओं पौधा ले जाओ, रसोई के कचरे से जैविक खाद बनाना शामिल है.

    उन्होंने बताया कि अक्सर यह देखा गया है कि लोग पुराने जूतों और खिलौनो को कूड़ा समझकर फेंक देते है, जिससे वे किसी के इस्तेमाल लायक नही रह जाते और कूड़ा भी एकत्रित होता है, जिससे अस्वच्छता फैलती है .

    स्वच्छ भारत अभियान (Swachh Bharat Abhiyan) के नोडल अधिकारी ने बताया कि पश्चिमी जोन के अन्य वार्डों मे भी ऐसे ही बैक खोले जायेगे. यह एक बेहतरीन प्रयास है जिसके द्वारा हम पर्यावरण संरक्षण एवं स्वच्छता में अपना योगदान दे सकते है. उन्होंने नागरिकों एवं गैर-सरकारी संगठनों से अपील की है कि वे जरूरतमंद लोगों व बच्चों के लिए जूते और खिलौने दान करें और निगम के इस पर्यावरण हितैषी कदम में अपना सहयोग दे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.