होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /

SDMC का कमाल, 45 लाख क‍िलो कूड़े को प्रोसेस कर बना डाली डेढ़ करोड़ की जैव‍िक खाद

SDMC का कमाल, 45 लाख क‍िलो कूड़े को प्रोसेस कर बना डाली डेढ़ करोड़ की जैव‍िक खाद

एसडीएमसी अब तक करीब 1,30,000 किलो जैविक खाद  जि‍सकी कीमत करीब 32.50 लाख रुपए आंकी गई है, तैयार कर चुकी है.

एसडीएमसी अब तक करीब 1,30,000 किलो जैविक खाद जि‍सकी कीमत करीब 32.50 लाख रुपए आंकी गई है, तैयार कर चुकी है.

SDMC Organic Compost Plants: एसडीएमसी के वेस्‍ट जोन के अधीक्षण अभ‍ियंता राजीव कुमार जैन ने बताया क‍ि पूरे जोन में 11 कंपोस्‍ट प्‍लांट तैयार क‍िए गए हैं. इन कंपोस्‍ट प्‍लांट में स‍ितंबर, 2020 से लेकर अब तक कुल 45 लाख Kg गीले कूड़े का न‍िष्‍पादन लैंडफ‍िल साइट पर भेजे ब‍िना ही कर दि‍या गया है. करीब 5.75 लाख क‍िलो जैविक खाद भी तैयार की गई है जि‍सकी मार्केट वेल्‍यू 1.45 करोड़ रुपए आंकी गई है. वहीं करीब 45 लाख कि‍लोग्राम गीले कूड़े को लैंडफ‍िल साइट पर पहुंचाने के ल‍िए 45 लाख रुपए की रकम खर्च करनी पड़ती, उसको भी बचाया गया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई द‍िल्‍ली. द‍िल्‍ली में ज‍िस तरह से प्रदूषण (Pollution) की समस्‍या द‍िल्‍लीवालों के लि‍ए वि‍कराल बनी हुई है. वहीं दूसरी बड़ी समस्‍या हर रोज द‍िल्ली के घरों से न‍िकलने वाला हजारों टन गीला और सूखा कूड़ा है ज‍िसकी वजह से कूड़ें के पहाड़ खड़े हुए हैं. अब इनके स्‍थायी समाधान के ल‍िए कई बड़े प्रयास करने की जरूरत है. लेक‍िन इसका समाधान छोटे-छोटे प्रयासों से भी क‍िया जा सकता है. ऐसा काम द‍िल्‍ली की तीन नगर न‍िगमों (Corporations) में से एक साउथ एमसीडी (South MCD) इन द‍िनों लगातार कर भी रही है.

    दरअसल, साउथ एमसीडी (SDMC) की ओर से प‍िछले साल स‍ितंबर माह में वेस्‍ट जोन के टेगौर गार्डन और सुभाष नगर वार्ड दो अलग-अलग वार्डों में कंपोस्‍ट प्‍लांट स्‍थाप‍ित क‍िए थे. इन कंपोस्‍ट प्‍लांट को एसडीएमसी के वेस्‍ट जोन (West Zone) के अधीक्षण अभ‍ियंता राजीव कुमार जैन के द‍िशा न‍िर्देश में तैयार कि‍या गया था. इनका उद्घाटन एसडीएमसी कम‍िश्‍नर ज्ञानेश भारती ने क‍िया था.

    अधीक्षण अभ‍ियंता जैन के नेतृत्‍व में अब वेस्‍ट जोन में इन प्‍लांट्स की संख्‍या बढ़कर 11 हो चुकी है. और सभी प्‍लाट्स अपनी क्षमता के मुताब‍िक गीले कूड़े को प्रोसेस कर बड़ी मात्रा में जैव‍िक खाद तैयार कर चुके हैं जोक‍ि दूसरी न‍िगमों के ल‍िए रोल मॉडल बन रहे हैं.

    ये भी पढ़ें: SDMC Compost Plant: 10 माह में लगाया 5 लाख किलो कूड़े को ठिकाने, तैयार की 27.50 लाख की जैविक खाद

    हैरान करने वाली बात यह है क‍ि द‍िल्‍ली की दूसरी नगर न‍िगमों ईस्‍ट एमसीडी और नॉर्थ एमसीडी की बात करें तो बड़ी मात्रा में इनके अधीनस्‍थ जोनों के इलाकों से कूड़ा एकत्र कर लैंडफ‍िल साइट्स पर भेजा जा रहा है. वहीं एसडीएमसी अपने इलाकों के अधीनस्‍थ न‍िकलने वाले कूड़े की क्षेत्र में ही ज्‍यादा से ज्‍यादा प्रोसेस‍िंग करने का काम कर रही है. इसमें वेस्‍ट जोन सबसे अव्‍वल नजर आ रहा है.

    14 माह में 45 लाख कि‍लो गीले कूड़े का न‍िष्‍पादन, बचाए 1.90 करोड़
    इस बाबत एसडीएमसी के वेस्‍ट जोन के अधीक्षण अभ‍ियंता राजीव कुमार जैन ने News18Hindi को बातचीत के दौरान बताया क‍ि पूरे जोन में 11 कंपोस्‍ट प्‍लांट तैयार क‍िए गए हैं. इन कंपोस्‍ट प्‍लांट में स‍ितंबर, 2020 से लेकर अब तक कुल 45 लाख कि‍लोग्राम गीले कूड़े का न‍िष्‍पादन लैंडफ‍िल साइट पर भेजे ब‍िना ही कर दि‍या गया है.

    इसके न‍िष्‍पादन से करीब 5.75 लाख क‍िलो जैविक खाद भी तैयार की गई है जि‍सकी मार्केट वेल्‍यू 1.45 करोड़ रुपए आंकी गई है. वहीं करीब 45 लाख कि‍लोग्राम गीले कूड़े को लैंडफ‍िल साइट पर पहुंचाने के ल‍िए 45 लाख रुपए की रकम खर्च करनी पड़ती, ज‍िसको बचाया गया है.

    इन 11 प्‍लांट्स में तैयार ह रही कंपोस्‍ट
    एसडीएमसी के टेगौर गार्डन और सुभाष नगर के दोनों प्‍लांट्स बाकी प्लांट्स से अच्‍छा काम कर रहे हैं. प‍िछले 14 माह के भीतर अकेले इन दो कंपोस्‍ट प्‍लांट्स से वेस्‍ट जोन ने 20 लाख क‍िलो गीले कूड़े को प्रोसेस कर 3.18 लाख कि‍लो जैव‍िक खाद तैयार की है. इससे निगम ने 20 लाख रुपए ट्रांसपोर्टेशन के भी बचाए हैं. टेगौर गार्डन और सुभाष नगर के अलावा पंजाबी बाग, त‍िलक नगर, जनकपुरी, व‍िकासपुरी समेत 11 कंपोस्‍ट प्‍लांट लगाए हैं.

    इस माह इन दोनों प्‍लांट्स में 22 हजार क‍िलो कंपोस्‍ट तैयार क‍िया गया है ज‍िसको एसडीएमसी के अधीक्षण अभियंता जैन के नेतृत्‍व में डेम्‍स वि‍भाग ने न‍िगम के उद्यान व‍िभाग को न‍ि:शुल्‍क सौंप द‍िया गया है ज‍िससे पार्कों को और ज्‍यादा हराभरा बनाने में मदद म‍िल सकेगी.

    Tags: Compost Manure, Delhi MCD, Delhi news, Garbage, MCD

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर