भुखमरी के कगार पर पहुंची Sex Workers, इस संस्था ने बढ़ाया मदद का हाथ, बांटी राशन किट

सेक्स वर्कर्स को जीबी रोड  पर ड्राई राशन वितरित कर उनकी मदद की जा रही है.

सेक्स वर्कर्स को जीबी रोड पर ड्राई राशन वितरित कर उनकी मदद की जा रही है.

Corona Effect: सभ्य समाज में गन्दी गली माने जाने वाले क्षेत्र में देह व्यापार करने वाली शक्ति रूपेण लड़कियां कोरोना संकट में भुखमरी के कगार पर है. यह सुनने के बाद हृदय में पीड़ा हुई. यहां पर आटा, दाल, चावल, चीनी, मसाले व सब्जी आदि की राशन किट वितरित की.

  • Share this:

नई दिल्ली. कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए दिल्ली में लॉकडाउन ‍(Lockdown) लागूू है. इसके लागू होने के बाद जरूरतमंदों को राशन देने और खाना खिलाने की कार्रवाई भी दिल्ली सरकार (Delhi Government) की ओर से की जा रही है. लेकिन एक ऐसा समाज भी है जोकि न केवल वंचित, शोषित है बल्कि घोर उपेक्षित भी है. उसकी तरफ न हमारी सरकारों और न ही राजनेताओं का कोई ध्यान अभी तक गया है या देना नहीं चाहते है.

इसकी जरूरतों को पूरा करने और मदद के लिए अब एक धार्मिक संगठन ने बीड़ा उठाया है. उन सभी जरूरतमंद सेक्स वर्कर्स (Sex Workers) को जीबी रोड (GB Road) पर ड्राई राशन वितरित कर उनकी मदद की जा रही है. ड्राई राशन किट वितरित कर उनको खाने के लिए सामग्री पहुंचाने का काम किया जा रहा है.

कोरोना प्रकोप से त्रस्त दीन दुखियों के सहयोग की कड़ी में श्रीराजमाता झंडेवाला मन्दिर समूह के संचालक स्वामी राजेश्वरानंद महाराज दिल्ली के रेड लाइट एरिया जी.बी.रोड पर सेक्स वर्कर्स को राशन बाँटने के लिए पहुँचे.

स्वामी राजेश्वरानंद महाराज ने कहा कि "विभिन्न माध्यमों से मालूम हुआ कि सभ्य समाज में गन्दी गली माने जाने वाले क्षेत्र में देह व्यापार करने वाली शक्ति रूपेण लड़कियां कोरोना संकट में भुखमरी के कगार पर है. यह सुनने के बाद हृदय में पीड़ा को लेकर अपने शिष्यमण्डल के साथ राशन किट जिसमें आटा, दाल, चावल, चीनी, मसाले व सब्जी आदि सामग्री से भरी दो गाड़ियाँ लेकर पहुंचे.

Youtube Video

दुःख का विषय है कि जो लोग मुँह छिपाकर यहाँ शरीर की भूख मिटाने आते हैं, वह मुँह छिपाकर इनको सहायता देने न आ सके. दूसरी तरफ जो राजनेता इनके वोट लेने की आशा तो करते हैं, लेकिन इन्हें रोटी देने की तरफ ध्यान नहीं रख सके.

स्वामी राजेश्वरानंद ने कहा कि "सनातन धर्म के अनुसार वर्तमान में पावन बैसाख मास के अवसर पर इन जरूरतमंदों को भोजन सामग्री देकर ऐसे लग रहा है जैसे सच्चाई में आज ही भगवान को प्रसाद का भोग लगाया गया है. स्वामी जी ने बताया कि हम पहले रामनवमी पर भी इसी रेड लाइट एरिया में राशन वितरण करके गए



संस्थान द्वारा कोविड रोगियों को ऑक्सीजन, भोजन, काढ़ा वितरण, कोरोना मृतकों के अंतिम संस्कार, अस्थिविसर्जन की सेवायें कर रहे हैं. जब तक लॉक डाउन रहेगा हम अपने संस्थान के माध्यम से ऐसे किसी न किसी पिछड़े वर्ग की सेवा करते रहेंगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज